अराजक तत्वों द्वारा एससी/एसटी कोर्ट में लगाई गई आग से सैकड़ो फाइल जलकर राख

 RGA News: चंदौली यूपी

चंदौली जनपद में सरकार व जिला प्रशासन को बदनाम करने की बड़ी साजिश की गयी थी। योगी सरकार द्वारा प्रदेश की कमान संभालते ही अराजक तत्वों में दहशत फैल गयी। अब भी कुछ ऐसे अराजक तत्व है जो अपनी ओछी हरकत से बाज नहीं आ रहे हैं। बुद्धवार की रात को पं0 कमलापति त्रिपाठी स्नातकोत्तर महाविद्यालय परिसर में अस्थापित गैंगेस्टर एससी/एसटी कोर्ट के कार्यालय में अराजक तत्वों द्वारा आग लगा दी गयी। जिससे आलमारियों में रखे सैकड़ों महत्वपूर्ण फाइलें जलकर राख हो गयी। खबर मिलते ही प्रशासनिक एवं न्यायिक अधिकारी मौके पर पहुंच कर घटना के बारे में विस्तृत जानकारी हासिल किये। वहीं फोरेंशिक टीम ने भी मौके पर पहुंच कर, जांच पड़ताल कर नमूने एकत्र कर आगे की कार्यवाही में जूट गयी। महाविद्यालय परिसर में ही एससी/एसटी स्पेशल कोर्ट स्थापित है। इसी कोर्ट में ये दोनों कार्यालय भी स्थापित हैं। यहां गैंगेस्टर हत्या व नक्सलियों से संम्बन्धित मुकदमों की फाइलें विधिवत सुरक्षित आलमारियों में रखी गयी थी। जो कि अराजक तत्वों द्वारा सरकार व जिला प्रशासन को बदनाम करने की साजिश किया गया था।ज सम्पूर्ण घटना को अराजक,अवांछनीय तत्वों द्वारा एक सोची समझी रणनीति के तहत घटना को अंजाम दिया गया है। जिसे आग लगाकर साक्ष्य और सबूत मिटाने की कोशिश की गयी है। जनपद के  जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल व राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह के संयुक्त प्रयासों से चंदौली जनपद की कानून व्यवस्था सुदृढ़ और संतोष जनक है। जनपद की जनता जहां अराजकता से कराह रही थी वहीं अब चैन की सांस ले रही है। कुछ ऐसे अराजक तत्व हैं जिनको जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक की कार्य शैली नागवार लग रही है। जिससे वे अपनी बिमार मानसिकता और ओछी हरकत से बाज नहीं आ रहे हैं। वहीं पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया की इस पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच कराकर दोषियो के ऊपर कड़ी कार्यवाई होगी चाहे वह कितना ही बड़ा रसूख वाला क्यों ना हो।

News Category: 
slide: