बादाम कैसे उगायें

बादाम बहुत ही फेमस नस्ट है ।बादाम खाना स्वास्थ के लिये बहुत लाभप्रद है।यह हमारे कमजोर शरीर को मजबूत बनाने के काम आता है। लेकिन यह काफी मंहगा भी होता है । दोस्तो क्या बागवानी में  हम बादाम का पौधा लगा सकते है।और क्या मैदानी इलाकों में बादाम का पौधा फल देगा ? चलिये हम आपको बतायेगें यह कैसे हो सकता है।ज्यादातर बादाम को बीज से उगाया जाता है और उसके बाद उस पर कलम चढ़ाई जाती है।बीज से उगा हुआ बादाम लंबे समय बाद फल देता है जबकि Graft बादाम का पौधा जल्दी(दूसरे वर्ष) फल देने लगता है ।
उत्तर भारत में जहां काफी गर्म मौसम रहता है वहां भी इसे बड़ी आसानी से उगाया जा सकता है। हमने इसे आगरा के पास फिरोजाबाद जिले में उगाया हुआ है। और हम आपको बतायें यह काफी अच्छे तरीके से फल भी  दे रहा है।
आगरा की हिन्दुस्तान नर्सरी से आप इसके पौधे खरीद सकते है।इसके अलावा भारत की किसी भी बड़ी नर्सरी पर आप आर्डर देकर भी इसे मंगा सकते है।

बादाम कैसे उगायें ?

आप अपने बगीचें में बादाम का पौधा दो तरीके से उगा सकते है।

▪ स्वयं बादाम का बीज उगाकर
▪नर्सरी से बादाम का पौधा खरीद कर।

बादाम खाना जितना आसान है उतना ही कठिन इसे उगाना है।बादाम ठण्ठे मौसम में उगाया जाता है।अगर आप गर्म क्षैत्र में रहते है तो फिर आप  इसे केवल सर्दियों में ही उगा सकेगें।11 से 20 डिग्री मौसम इसके लिये सर्वोत्तम है।बादाम उगाने में कुछ सावधानियां रखनी होती है।

बीज से बादाम उगाने का तरीका।

▪बीज से बादाम उगाने के लिए बहुत धैर्य की जरूरत होती है । हमारे पास बादाम के उच्च क्वालिटी के स्वस्थ बीज होने चाहिए ।ध्यान रखें बादाम का अंकुरण प्रतिशत  कम होता है ।तो आप कम से कम 15 से 20 बीज एक बार में उगाने की कोशिश करें।

▪ बादाम के स्वस्थ बीजोंको  हम टिशू पेपर में रख कर पानी से भिगो दिया जाता है। इस टिश्यू पेपर में रखे बीजों को आप किसी ऐसी जगह रखें जहां लगातार 15 से 20 डिग्री का तापमान बना रहे। सर्दियों के समय आप इसे किसी भी जगह रख सकते हैं । मौसम गर्म होने पर फ्रिज की सहायता से यह काम किया जा सकता है। 20 दिन बाद बादाम के बीजों में अंकुरण शुरू होता है ।एक बार अंकुरण शुरू हो जाने पर आप बादाम के बीजों को सावधानी से टिशू पेपर से अलग करें । उसके बाद बादाम के अंकुरित बीजों को कोकोपीट में लगा दें । धीरे -धीरे 40 दिन बाद बादाम का अंकुरण छोटे पौधे का रूप ले लेता है। आपको इस समय बादाम को ज्यादा पानी नही देना  और  गर्मी से बचाकर रखना है।

इस प्रकार बादाम को पौधा तैयार हो जाता है।तीन महीने बाद आप इन पौधों को जमीन में लगा सकते है।
विशेष
××××

▪बादाम की कई वैरायटी होती है।दक्षिण भारत में एक देशी बड़े पत्ते वाला बादाम उगाया जाता है साथ ही केलिफोर्निया किस्म का हाईब्रीड बादाम भी उगाते है।हम जो बादाम बाजार से खरीद कर लाते है।वह कैलिफोर्निया किस्म का ही होता है। और यह खाने में स्वादिष्ट भी है तो आप कैलिफोर्निया किस्म के बादाम के बीज उगायें।

पौधे से बादाम का पौधा लगाना ।

जुलाई से लेकर सितंबर तक के मौसम में किसी भी बड़ी नर्सरी के पास आपको बादाम के पौधे बड़ी आसानी से मिल जाएंगे। आप वहां से यह पौधा खरीद सकते हैं ।और उत्तर भारत में जुलाई से लेकर सितंबर तक का मौसम बादाम के पौधे को लगाने का सर्वोत्तम मौसम है ।इस मौसम में आप इन पौधों को अपने बगीचे में लगा सकते हैं।

▪ बादाम का पौधा वर्ष में एक बार फल देता है और Graft  पौधा जमीन में लगाने के तीसरे वर्ष से फल देने लगता है।

▪बादाम को पानी की ज्यादा जरूरत नही होती । गर्मियों के समय ज्यादा पानी लगा सकते है।

▪ बादाम पर जनवरी के महीने में गुलाबी रंग के सुन्दर फूल आना शुरू होते है।मार्च अप्रैल में फल बन जाते है और जुलाई तक यह पकना शुरू कर देता है।

▪ बादाम के पौधे पर फूल आने की दशा में पानी बिल्कुल ना दें।

▪बादाम के पौधे में वर्ष में दो बार गोबर खाद लगानी चाहिये फूल से आने से पहले और फल छटने के बाद।

Vote: 
No votes yet