बैगन की खेती

गांवखेडी देवी के किसान फूलसिंह के लिए बैंगन की खेती खुशहाली लेकर आई है। वे बैंगन की बाड़ी से दो लाख रुपए बीघा तक कमाई कर रहे हैं। एक बार दिल्ली यात्रा के दौरान सब्जी मंडी में जाना हुआ। वहां बैंगन के भाव 40 रुपए किलो थे। इन भावों ने उन्हें बैंगन की बाड़ी करने के लिए प्रेरित किया। 

उन्होंने वैज्ञानिकों से मशविरा कर मिट्टी और पानी की जांच के बाद खेती शुरू की। उन्होंने कम समय में तैयार होने वाली और आठ माह तक उत्पादन देने वाली बैंगन की बीई 706 किस्म लगाई। दो साल पहले एक बीघा में 2 लाख रुपए का मुनाफा हुआ। बाद में उन्होंने इसे पांच बीघा में लगाया है। 

इस किस्म का बैंगन चमकदार होता है। इसलिए भाव अच्छे मिलते हैं। इसके स्वाद में कड़वाहट भी कम होती है। इसका भुर्ता बहुत स्वादिष्ट बनता है। उनके खेत का बैंगन आगरा और मथुरा की मंडी में जा रहा है। आसपास के किसान भी अब बैंगन की खेती कर रहे हैं। 

कैसे करें खेती 

एकबीघा जमीन के लिए 40 ग्राम बीज लगता है। एक माह में पौध तैयार हो जाती है। खेत में पौधा लगाने के दो माह बाद बैंगन आने लग जाते हैं और आठ माह तक उपज आती है। एक बीघा में प्रतिदिन डेढ़ क्विंटल बैंगन तोड़े जाते है। आठ माह में करीब 25 हजार की लागत में दो लाख रुपए प्रति बीघा तक की कमाई हो जाती है। 

नदबई के किसान को हो रही दो लाख रुपए प्रति बीघा की आय, मथुरा-आगरा तक कर रहे सप्लाई 

Vote: 
No votes yet

आप भी अपने लेख फिज़िका माइंड वेबसाइट पर प्रकाशित कर सकते है|

आप अपने लेख WhatsApp No 7454046894 पर भेज सकते है जो की पूरी तरह से निःशुल्क है | आप 1000 रु (वार्षिक )शुल्क जमा करके भी वेबसाइट के साधारण सदस्य बन सकते है और अपने लेख खुद ही प्रकाशित कर सकते है | शुल्क जमा करने के लिए भी WhatsApp No पर संपर्क करे. या हमें फ़ोन काल करें 7454046894