झाइयों का उपचार

झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय

चेहरे के काले दाग धब्बे और झाइयां होने से त्वचा के रंग में एक प्रकार की असमानता दिखनी शुरू हो जाती है। त्वचा पर गहरे कत्थई, काले रंग के धब्बे हो जाते हैं। त्वचा का रंग कभी हल्का तो कभी गहरा हो जाता है। दाग का आकार भी घटता-बढ़ता रहता है। त्वचा में आई इसी असमानता की झाइयां (Pigmentation) कहते हैं। झाइयों की वजह से त्वचा की सतह पर सिर्फ रंग मे बदलाव आता है, पर उसकी संवेदनशीलता पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। चेहरे पर झाइयां  चांद पर लगे दाग के समान होती है जो चेहरे को सौंदर्य को नष्ट करती है। चेहरे की समस्याओं में से एक झाइयां प्राय: 25-30 वर्ष की उम्र के बाद देखने की मिलती है।

झाइयां होने के कारण

चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार

चेहरे की झाइयाँ दूर करने के  घरेलू उपचार

त्वचा चिकित्सक के अनुसार, झाई त्वचा मे हाइपर पिगमेंटेशन के कारण होती है| हाइपरपिगमेंटेशन मेलेनिन के बढ़ने से होती है| आनुवंशिक, धूप से सीधा संपर्क , हार्मोनल गड़बड़ यह सब इसके आम कारण हो सकते है|

इसके बहुत से उपचार मौजूद है| यह उपचार बहुत ही महँगे हो सकते है और त्वचा को नुकसान पहुँचा सकते है और दूसरे दुष्प्रभाव भी हो सकते है| झाई के दागों को प्रकृति की मदद से हटाना प्राचीन काल से चला आ रहा है| सामग्रियाँ आसानी से मिल जाती है इन उपचारों से दुष्प्रभाव नही होता | कामयाबी निश्चित है|

विभिन्न औषधियों से उपचार

1. जायफल :