मुख्यमंत्रीयोगी आदित्यनाथ राम मंदिर के मामले को़ लेकर जाएंगे अयोध्या

RGA News bly

लखनऊ :- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया है कि वे इस दिवाली पर राम मंदिर के मामले में एक अच्छी खबर लेकर अयोध्या जाएंगे। मुख्यमंत्री ने यह ऐलान बुधवार को लखनऊ में अपने सरकारी आवास पांच कालिदास मार्ग पर एक निजी चैनल से बातचीत में किया। 

राम मंदिर की सुनवाई टलने से संतों में खासी नाराजगी के सवाल पर उन्होंने कहा कि सैकड़ों साल से राम मंदिर का मुद्दा चल रहा है। एक तारीख बढ़ने से संतों को धैर्य नहीं खोना चाहिए। वे संतों से इस बारे में बातचीत करेंगे। खास बात यह है कि पिछली बार जब मुख्यमंत्री अयोध्या में दीपावली पर गए थे तो उन्होंने संतों और वहां के लोगों के बीच कहा था कि हो सकता है कि अगली दिवाली तक कोई अच्छी खबर मिले।

इस बार दिवाली पर वे फिर अयोध्या जा रहे हैं? क्या वे कोई अच्छी खबर लेकर अयोध्या जाएंगे। इस सवाल पर योगी ने मुस्कराते हुए कहा कि आपको क्या लगता है कि क्या अच्छी खबर लेकर नहीं जाएंगे। वे अच्छी खबर लेकर अयोध्या जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या का मुद्दा व्यापक आस्था का मुद्दा है। इस मुद्दे से देश की जनभावनाएं जुड़ी हैं। भारत की न्यायपालिका स्वतंत्र है। यह न्यायपालिका 130 करोड़ देशवासियों की जनविश्वास की प्रतीक है। हमें न्यायालय पर विश्वास करना चाहिए। जो होगा अच्छा होगा और यह मसला अच्छी दिशा में जाएगा।

योगी ने कहा कि वे इतना जरूर कहेंगे कि न्याय सरल हो, न्याय समय पर हो और सस्ता हो लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मामले की सुनवाई जनवरी तक टाल दी है, इससे आपको निराशा नहीं हुई है। हम न तो सफलता से अति उत्साहित होते हैं और न किसी एक घटना की असफलता से हतोत्साहित होते हैं लेकिन यह भी जरूरी है कि देश में शांति और सौहार्द के लिए राम मंदिर मामले का पटाक्षेप होना ही चाहिए।

राम मंदिर: संत सरकार को देंगे धर्मादेश, दिल्ली में जुटेंगे हजारों संत
संसद से कानून बनाकर मंदिर बनाने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक न्यायालय में मामला है, वर्तमान में हमें इस मामले में धैर्य रखना चाहिए। आगे भी इस मामले में जो होगा अच्छा होगा। देश की जनता का न्यायालय में पूरा विश्वास है। अभी देख रहे हैं। देखते रहिए। इंतजार करते रहिए।

News Category: 
Place: 
slide: