योगासन करने की विधि

अगर सुबह सुबह योग किया जाए तो सारा दिन शरीर चुस्त दुरुस्त और स्फूर्ति से भरपूर रहता है। एक एक्टिवनेस और ऊर्जा बनी रहती है। सुबह सुबह हमारा मन शांत होता है और प्रदूषण स्तर कम होने के कारण वायु भी साफ होती है।

– योग करने के लिए हल्के और खुले कपड़े पहनें। खुले कपड़े पहनने से आप सभी योगासन आसानी से कर सकेंगे। योग करने से पहले गहने और घड़ी इत्यादि को उतारकर रख दें।

– नियमित रूप से योग करने की आदत बनाएं। इससे मानसिक विकास होगा और एकाग्रता शक्ति बढ़ेगी। आपका दिमाग एक्टिव रहेगा जिससे याद की हुई चीज़ें लम्बे समय तक याद रहेंगी। चीज़ें सोचने समझने में भी आसानी होगी। पॉजिटिव ऊर्जा का संचार होगा।

– योगाभ्यास शुरु करते समय सभी आसन एक दिन में करने की सोच न रखें। इससे आपको पहले दिन ज़्यादा थकान नहीं होगी और अगले दिन योग के लिए उत्साह बना रहेगा। योग करने का समय भी धीरे धीरे बढ़ाना चाहिए।

– योग की शुरु आप समूह में करें ताकि नियमित योग करने की प्रेरणा बनी रहे। आप योग केंद्र में भी एडमिशन ले सकते हैं।

– योग का लाभ लेने के नियम के अनुसार नियमित योग करना पड़ेगा। अगर आप सोचते हैं कि 30 दिन में सारे आसन खत्म करके आपका काम बन जाएगा तो यह बिल्कुल गलत है।

योग को जल्दबाजी में न करके

योग करने का समय, चेहरे के लिए आसन, योग करने के नियम, ऑपरेशन के बाद पेट कम करने का उपाय, नर्वस सिस्टम का इलाज, योगासन करने की विधि, पेट कम करने के योगासन, हर्निया के लिए योगासन

एकांत में और आराम की स्थिति में किया जाने वाला योग है कपालभाती। इसे किसी भी उम्र के लोग कर सकते हैं। 

लाभ

डायबिटीज, जोड़ों का दर्द, आर्थराइटिस, सांस व पेट संबंधी रोग, कब्ज, मोटापा व तनाव जैसी बीमारियों को दूर करने के साथ ही सकारात्मक सोच विकसित होती है। दिल के रोगियों को धीमी गति से इस योग को करना चाहिए। 

कब करें