हलासन

सर्वप्रथम सीधे पीठ के बल लेट जाइए हाथों को शरीर के बराबर ज़मीन से सटा कर रखिए। पैरों व पंजो को मिला लीजिए ।अब धीरे धीरे दोनो पैरों को ६० डिग्री -९० डिग्री पर उठाते हुए सिर के पीछे फर्श पर लगा दीजिए। पैरों को बिल्कुल सीधा रखिएगा ।हाथों ज़मीन पर ही सीधा रखेंगे।
ठोडी को सीने से सटा लीजिए। कुछ देर इसी स्थिति में रुकिये ।साँस सामान्य बनाए रखिएगा।
अब धीरे से पैरो को घुटनो से सीधा रखते हुए वापिस लाइए।
शवासन में आराम।

साबधानियाँ- कमर दर्द व स्लिप डिस्क के रोगी न करें।

 

लाभ-मेरूदंड लचीली होती है।  दमा, कफ एवं रक्त सम्बन्धी रोगों के लिए बहुत ही लाभकारी  है।. मोटापे को दूर करता है,  ।तंत्रिका तंत्र एवं लीवर में  बहुत ही लाभकारी  है.। प्रतिदिन करने से कभी क़ब्ज़ नही होता। पेट पर चर्बी ख़त्म कर देता है। मानसिक क्षमता को बढ़ाने के लिए  बहुत ही उत्तम है.।स्त्री रोगों में लाभकारी  ।थायरायड तथा पैराथायरायड ग्रंथियों को सक्रिय रखता है ।

 

Video: 

योग द्वारा अपने बालों का ख्याल रखें |

बालों का ख्याल रखें

चाहे वह औरत हो या आदमी, आजकल के आधुनिक जीवन में बाल झड़ने की समस्या मानों हर किसी के लिए एक आम बात हो गयी है। इस समस्या का आम होना कोई हैरान करने वाली बात नहीं है क्यूंकि आजकल हर व्यक्ति दूषित खान-पान व वातावरण में रहता है। परन्तु योग द्वारा इस समस्या का समाधान किया जा सकता है।
हर परिस्थिति में एक बात महत्वपूर्ण है- रोकथाम उपचार से बेहतर है। पढ़िए कि किस प्रकार योग द्वारा आप बाल झड़ने की समस्या का समाधान कर सकते हैं।
Read More : योग द्वारा अपने बालों का ख्याल रखें | about योग द्वारा अपने बालों का ख्याल रखें |

रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाए हलासन

लचीला बनाए हलासन

इस आसन के अभ्यास की स्थिति में आसन करने वाले व्यक्ति का आकार हल के समान होता है, इसलिए इसे हलासन कहते हैं। अगर आप दिनभर ऑफिस में बैठ कर काम करते हैं और आपकी गर्दन और पीठ हमेशा अकड़ी रहती है तो यह आसन उसे ठीक कर सकता है। शास्त्रों के अनुसर जिस व्यक्ति की रीढ़ की हड्डी जितनी मुलायम व लचीली होगा व्यक्ति उतना ही स्वस्थ एवं लम्बी आयु को प्राप्त करेगा। हलासन के अभ्यास से थायरायड तथा पैराथायरायड ग्रंथियों की अच्छी तरह से मालिश हो जाती है, जिससे गले सम्बन्धी सभी रोग दूर हो जातेहैं। इस आसन को करते समय हृदय व मस्तिष्क को बिना किसी कोशिश की खून की पूर्ति होती है। जिससे हृदय मजबूत होता है और शरीर में खू Read More : रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाए हलासन about रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाए हलासन

योगासन: