हलासन की विशेष जानकारी

हलासन की विशेष जानकारी

पेट की चर्बी कम करने में:
 इस आसन के नियमित अभ्यास से आप अपने पेट की चर्बी को कम कर सकते हैं। और अपने वजन पर भी काबू पा सकते हैं।

बाल झड़ने के रोकने में:
 इस आसन के अभ्यास से खून का बहाव सिर के क्षेत्र में ज़्यदा होने लगता है और साथ ही साथ बालों को सही मात्रा में खनिज तत्व मिलने लगता है। जो बालों के सेहत के लिए अच्छा है।

चेहरे की खूबसूरती के लिए:
 इसके रोज़ाना अभ्यास से आपके चेहरे में निखार आने लगता है।

थयरॉइड के लिए:
 यह थयरॉइड एवं पारा थयरॉइड ग्रंथि के लिए बहुत ही मुफीद योगाभ्यास है। यह मेटाबोलिज्म को कण्ट्रोल करता है और शरीर के वजन पर नियंत्रित रखते हुए आपको बहुत सारी परेशानियों से बचाता है।

कब्ज : 
 यह अपच और कब्ज में लाभकारी है।

मधुमेह:
 यह मधुमेह के लिए बहुत लाभकारी है।

बवासीर:
 जो लोग बवासीर से ग्रस्त हैं उन्हें इस आसन का अभ्यास करना चाहिए।

गले की बीमारी:
 यह आपको गले के विकारों से बचाता है।

सिर दर्द में:
 जिनको सिर दर्द की शिकायत हो उन्हें इस योग का अभ्यास करना चाहिए।

इन स्थितियों में हलासन ना करें
यह आसन उनको नहीं करना चाहिए जिनको सर्वाइकल स्पॉण्डिलाइटिस हो।
रीढ़ में अकड़न होने पर इसको करने से बचें।उच्च रक्तचाप में इस आसन को नहीं करना चाहिए।
कमर में दर्द होने पर इस आसन को बिल्कुल भी न करें।
चक्कर आने पर इस आसन को न करें।गर्भवस्था में इस योग को करने से बचें।
ह्रदय रोग से पीड़ित व्यक्ति इसे न करें।

योग प्रशिक्षक-
               -बी. एन. भारती(राज)
                      9412345621
            -----योग   भारती-------

Vote: 
No votes yet