हिन्दी

त्राटक मेडिटेशन क्या है?

त्राटक मेडिटेशन

त्राटक योगा की प्रमुख टेकनीक या कहे की क्रिया या साधना है. त्राटक शब्द का अर्थ – त्राटक शब्द का अर्थ होता है किसी एक विशेष वस्तु पर अपनी नजरो से लगातार देखते रहना. त्राटक क्रिया हठ योगा का एक प्रकार है. यह हठ योगा के सात अंगो में से एक अंग षटकर्म की एक क्रिया है. हठयोग में इस क्रिया का वर्णन दृष्टि को जाग्रत करने की शक्ति के रूप में किया गया है. आँखों को आत्मा का प्रवेशद्वार माना जाता है. त्राटक साधना द्वारा आँखों को आत्मा और मन के बीच संपर्क स्थापित करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है. त्राटक मेडिटेशन शरीर को शक्ति और शुद्धी प्रदान करने के लिए की जाती है.
Read More : त्राटक मेडिटेशन क्या है? about त्राटक मेडिटेशन क्या है?

सेतु बंध आसन करने के लिए सबसे पहले

सेतुं बंध सर्वांगासन

कमरदर्द, थायरॉइड और वजन कम करने में मददगार है सेतुं बंध सर्वांगासन, जानें तरीका
सेतु बंध आसन रीढ़ की हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है।
सेतु बंध आसन का अभ्यास आपको थायरॉइड से बचाता है।
इस आसन के अभ्यास से ब्लड का सर्कुलेशन ठीक रहता है।
Read More : सेतु बंध आसन करने के लिए सबसे पहले about सेतु बंध आसन करने के लिए सबसे पहले

ध्यान का लाभ

ध्यान का लाभ

हम ध्यान है। सोचो की हम क्या है- आंख? कान? नाक? संपूर्ण शरीर? मन या मस्तिष्क? नहीं हम इनमें से कुछ भी नहीं। ध्यान हमारे तन, मन और आत्मा के बीच लयात्मक सम्बन्ध बनाता है। स्वयं को पाना है तो ध्यान जरूरी है। वहीं एकमात्र विकल्प है।
Read More : ध्यान का लाभ about ध्यान का लाभ

स्‍टूडेंट्स के लिए फायदेमंद पांच योग आसन

स्‍टूडेंट्स के लिए फायदेमंद पांच योग आसन

हेल्दी और पीसफुल लाइफ जीने के लिए स्‍टूडेंट्स को नियमित रूप से योग करना चाहिए. जानिए पांच ऐसे योग आसन जो आपकी ब्रेन और बॉडी दोनों को बनाएंगे परफेक्‍ट:
योग हर उम्र के व्‍यक्ति के लिए फायेदमंद होता है. हेल्दी और पीसफुल लाइफ जीने के लिए स्‍टूडेंट्स को नियमित रूप से योग करना चाहिए. योग पढ़ाई के प्रेशर का कम करने के साथ एकाग्रता को बढ़ाता है. जानिए पांच ऐसे योग आसन जो आपकी ब्रेन और बॉडी दोनों को बनाएंगे परफेक्‍ट:
Read More : स्‍टूडेंट्स के लिए फायदेमंद पांच योग आसन about स्‍टूडेंट्स के लिए फायदेमंद पांच योग आसन

पूर्ण भुजा शक्ति विकासक योग के लाभ

पूर्ण भुजा शक्ति

योग की पूर्ण भुजा शक्ति विकासक क्रिया को करने से जहां एक ओर प्राणशक्ति का विकास होता है वहीं खुलकर गहरी सांस लेने और छोड़ने से फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ती है। इसके चलते प्राणशक्ति का स्तर बढ़ जाता है और व्यक्ति दिनभर चुस्त-दुरुस्त बना रहता है। इसके नियमित अभ्यास से भुजाओं की मांसपेशियां मजबूत होती हैं और कंधों की जकड़न दूर होती है। इसके नियमित अभ्यास से शरीर के सभी अंगों में प्राणशक्ति का संचार होने लगता है। Read More : पूर्ण भुजा शक्ति विकासक योग के लाभ about पूर्ण भुजा शक्ति विकासक योग के लाभ

योगासनों के गुण और लाभ

योगासनों के गुण

योगासनों का सबसे बड़ा गुण यह हैं कि वे सहज साध्य और सर्वसुलभ हैं। योगासन ऐसी व्यायाम पद्धति है जिसमें न तो कुछ विशेष व्यय होता है और न इतनी साधन-सामग्री की आवश्यकता होती है। योगासन अमीर-गरीब, बूढ़े-जवान, सबल-निर्बल सभी स्त्री-पुरुष कर सकते हैं। आसनों में जहां मांसपेशियों को तानने, सिकोड़ने और ऐंठने वाली क्रियायें करनी पड़ती हैं, वहीं दूसरी ओर साथ-साथ तनाव-खिंचाव दूर करनेवाली क्रियायें भी होती रहती हैं, जिससे शरीर की थकान मिट जाती है और आसनों से व्यय शक्ति वापिस मिल जाती है। शरीर और मन को तरोताजा करने, उनकी खोई हुई शक्ति की पूर्ति कर देने और आध्यात्मिक लाभ की दृष्टि से भी योगासनों का अपना अल Read More : योगासनों के गुण और लाभ about योगासनों के गुण और लाभ

दैनिक जीवन में योग के लाभ

वजन में कमी,एक मजबूत एवं लचीला शरीर, सुन्दर चमकती त्वचा, शांतिपूर्ण मन, अच्छा स्वास्थ्य-जो आप चाहते हैं, योग आपको देता है। योग को केवल कुछ आसनो द्वारा आंशिक रूप से समझा जाता हैं परंतु इसके लाभ का आंकलन केवल शरीर स्तर पर समझा जाता हैं। हम ये जानने में असफल रहते हैं कि योग हमें शारीरिक, मानसिक रूप से तथा श्वसन में लाभ देता हैं। जब आप सुन्दर विचारो के संग होते हैं तो जीवन यात्रा शांति, ख़ुशी और अधिक ऊर्जा से भरी होती हैं।
हम योगाभ्यास के 10 लाभ की जानकारी दे रहे हैं।
1.संपूर्ण स्वास्थ 
2.वजन में कमी 
3.चिंता से राहत 
4.अंतस की शांति 
Read More : दैनिक जीवन में योग के लाभ about दैनिक जीवन में योग के लाभ

योग के यहआसन एकाग्रता बढ़ाने में है सहायक

एकाग्रता बढ़ाने

हमारे आसपास बहुत से ऐसे लोग है जो बहुत कुछ याद रख लेते है, अपने हर काम बहुत अच्छे से कर लेते है| वही बहुत से लोग ऐसे भी है जिन्हें कुछ भी याद नहीं रहता और ना ही वे लोग अपने काम को सही से करते है| आपको जानकार आश्चर्य होगा लेकिन बहुत से लोग तो काबिल होने के बाद भी उस काम को अच्छे से नहीं कर पात
इसके पीछे का मुख्य कारण ध्यान न लगा पाना अर्थात एकाग्रता में कमी होना है| एकाग्रता में कमी होने के कारण हमारा मन इधर उधर भटकता रहता है और हम किसी भी काम में ध्यान नहीं लगा पाते है| किसी भी काम को अच्छे से करने के लिए मन का स्थिर होना बहुत जरुरी है|
Read More : योग के यहआसन एकाग्रता बढ़ाने में है सहायक about योग के यहआसन एकाग्रता बढ़ाने में है सहायक

Pages