चिंतन-मनन कीजिए

चिंतन-मनन कीजिए

आप जो भी पढ़ाई किए उसके बारे मे चिंतन-मनन कीजिए, कहने का मतलब हैं की उसपे ध्यान लगाए आप ने क्या-क्या पढ़ा। रात मे सोने से पहले या कोई एकांत जगह मे बैठ के सोचे की आपको क्या याद हैं कितना पढ़ा और क्या बाकी हैं। इससे आपका दिमाग़ मे रिभिजन होगा और आपने जो पढ़ा है वो ज़रूर याद होगा।
आप पढ़ते वक्त जो भी पढ़ रहे है उसे लिखते भी जाए. इससे आपको जो पढ़े वो अच्छी तरीका से याद होगा साथ मे एग्ज़ॅम के टाइम लिखने मे प्राब्लम नही होगा। ये एक बेहतरीन तरीका है अपने पढ़ाई के क्वालिटी को इंप्रूव करने का।

Vote: 
No votes yet

आप भी अपने लेख फिज़िका माइंड वेबसाइट पर प्रकाशित कर सकते है|

आप अपने लेख WhatsApp No 9259436235 पर भेज सकते है जो की पूरी तरह से निःशुल्क है | आप 1000 रु (वार्षिक )शुल्क जमा करके भी वेबसाइट के साधारण सदस्य बन सकते है और अपने लेख खुद ही प्रकाशित कर सकते है | शुल्क जमा करने के लिए भी WhatsApp No पर संपर्क करे. या हमें फ़ोन काल करें 9259436235