Blog

रजनीशपुरम के बर्बाद होने के पीछे शीला का काला सच

रजनीशपुरम के बर्बाद होने के पीछे  शीला का काला सच

मां आनंद शीला 1981 से 1985 तक ओशो रजनीश की सचिव थी। इन चार साल में उसने ओशो को कई बार मारने का प्रयास किया। यही नहीं, ओशो तक पहुंच बनाने और कम्यून की सर्वेसर्वा बनने के लिए उसने ओशो संन्यासियों को धीमा जहर देकर मारने का भी प्रयास किया।

सत्ता और ध्यान मिलने की अपने लालच को छोड़कर शीला का एक अन्य प्रयोजन भी था ओशो रजनीश का खात्मा करने के लिए सरकार की मदद करना। लेकिन रजनीश के खात्मे तक भी शीला के कम्यून की सर्वेसर्वा बने रहने की योजना सफल नहीं हो पाई। Read More : रजनीशपुरम के बर्बाद होने के पीछे शीला का काला सच about रजनीशपुरम के बर्बाद होने के पीछे शीला का काला सच

बोस-हाकिंग्स में गहरा नाता....अपना भारत

बोस-हाकिंग्स

कण से कण जुड़े तो तत्व और पदार्थ बने। विज्ञानियों के शोध आपस में जुड़े तो नए सिद्धांत बने। बिना पहले के ज्ञान को समझे नया शोध संभव नहीं। गैलीलियो, लिमेत्री, आइंस्टीन, जगदीश चंद्र बोस, हिग्स और स्टीफन हाकिंग्स ब्रह्मांड के रहस्य जानने वालों की एक सुगठित कड़ी है।
Read More : बोस-हाकिंग्स में गहरा नाता....अपना भारत about बोस-हाकिंग्स में गहरा नाता....अपना भारत

भगवान पर क्या कहते थे हॉकिंग?

भगवान पर क्या कहते थे हॉकिंग?

उन्होंने एक नये ग्रह की खोज के बारे में बात करते हुए हमारे सौरमंडल के ख़ास समीकरण और भगवान के अस्तित्व पर सवाल उठाया.

साल 1992 में एक ग्रह की खोज की गई थी जो हमारे सूर्य की जगह किसी अन्य सूर्य का चक्कर लगा रहा था.

हॉकिंग ने इसका ही उदाहरण देते हुए कहा, "ये खोज बताती है कि हमारे सौरमंडल के खगोलीय संयोग- एक सूर्य, पृथ्वी और सूर्य के बीच में उचित दूरी और सोलर मास, सबूत के तौर पर ये मानने के लिए नाकाफ़ी हैं कि पृथ्वी को इतनी सावधानी से इंसानों को खुश करने के लिए बनाया गया था."

उन्होंने सृष्टि के निर्माण के लिए गुरुत्वाकर्षण के नियम को श्रेय दिया. Read More : भगवान पर क्या कहते थे हॉकिंग? about भगवान पर क्या कहते थे हॉकिंग?

अपने घर में कौन सा पौधा लगाएं

।। हरि ॐ सर्व भूत हिते रता: ।।

अपने घर में कौन सा पौधा लगाएं

हर व्यक्ति चाहता है कि यदि उसके पास जगह है तो वह अपने घर के बगीचे में तरह तरह के पेड़ पौधे लगाये लेकिन यह भी सच है कि उनमें से कई पेड़ पौधों का घर के आस-पास होना अशुभ माना जाता है और कई ऐसे होते है जो दोष निवारक माने गए हैं। आइए जानें, कौन सा पेड़ लगाना होता है अच्छा और कौन सा है अशुभ

तुलसी Read More : अपने घर में कौन सा पौधा लगाएं about अपने घर में कौन सा पौधा लगाएं

पढ़ाई को रोचक व मनोरंजक बनाईये

पढ़ाई को रोचक व मनोरंजक बनाईये

मनोरंजन किसे पसंद नहीं होता तथा मनोरंजक चीजें किसे याद नहीं होते जाहिर है सभी को याद हो जाती है चलिए जानें कैसी चीजें हमें याद रहती है (a) जिनसे भावत्मक जुडाव हो (b) जिन पर हमें हँसी आती हो (c) वो चीजें जो संसार में इकलौती हो यानि Unique (d) वो जो अजीब है (e) वो चीजें जिनमें कुछ भिन्नता है आप जिन चीजों में भावात्मक जुडाव महसूस करते है वे आप को सदैव याद रहती है जिन पर हम को हँसी आ जाये वह भी जैसे किसी वैज्ञानिक का नाम उदाहरण के तौर पर एक वैज्ञानिक का नाम लेते है मारकोनी बचपन में मैंनें इसे पढा तो मुझे मार कोहनी लगा तथा सभी बच्चे भी क्लास में इसे मार कोहनी कहके एक दूसरे को कोहनी मारते मुझे यह Read More : पढ़ाई को रोचक व मनोरंजक बनाईये about पढ़ाई को रोचक व मनोरंजक बनाईये

बिजनेस शुरू करने से पहले जानें कानून का फंडा

बिजनेस शुरू करने से पहले जानें कानून का फंडा

स्टार्टअप शुरू करने के बाद सबसे बड़ी चुनौती उससे जुड़ी औपचारिकताओं को पूरा करने की है। रजिस्ट्रेशन की रस्सी जकड़ने लगती है तो परमिशन का पंगा निपटाने में पसीने छूट जाते हैं। एक्सपर्ट्स की मदद से अमित मिश्रा बता रहे हैं कैसे निपटें स्टार्टअप के आड़े आने वाली लीगल अड़चनों से: बूझें स्टार्टअप की लीगल पहेली अक्सर देखने में आता है जब कोई स्टार्टअप बड़ा होने लगता है तो रजिस्ट्रेशन और परमिशन के भंवर में फंस कर रह जाता है। इससे बचने का सही तरीका यह है कि शुरुआत से ही कुछ वक्त और पैसा अपनी कंपनी के हिसाब से इनवेस्ट करें। स्टार्टअप की शुरुआत में दो तरह की कानूनी अड़चनें आती हैं: - रजिस्ट्रेशन: यह मुख् Read More : बिजनेस शुरू करने से पहले जानें कानून का फंडा about बिजनेस शुरू करने से पहले जानें कानून का फंडा

लंबी उम्र पाने के लिए रोज पीएं 3 कप कॉफी

लंबी उम्र पाने के लिए रोज पीएं 3 कप कॉफी

प्रतिदिन तीन कप कॉफी पीने से कुछ बीमारियों के कारण समयपूर्व मौत का खतरा कम हो सकता है। एक नए शोध में यह बात कही गई है
यॉर्क। प्रतिदिन तीन कप कॉफी पीने से कुछ बीमारियों के कारण समयपूर्व मौत का खतरा कम हो सकता है। एक नए शोध में यह बात कही गई है। हारवर्ड युनिवर्सिटी के 'टी. एच. चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ' के शोधकर्ताओं को अध्ययन में पता चला कि कैफीन युक्त या कैफीन रहित दोनों तरह की कॉफी पीने के कई फायदे हैं। अन्य फायदों के अतिरिक्त इससे दिल के रोगों, मस्तिष्क संबंधी रोगों, टाइप टू डायबिटीज और आत्महत्या का खतरा भी कम हो सकता है।
Read More : लंबी उम्र पाने के लिए रोज पीएं 3 कप कॉफी about लंबी उम्र पाने के लिए रोज पीएं 3 कप कॉफी

भारत के 29 राज्यों के नाम.. *श्री. संत तुलसीदास* के इक दोहे में समाई हुई है।

कितने आश्चर्य की बात है.... भारत के 29 राज्यों के नाम.. *श्री. संत तुलसीदास* के इक दोहे में समाई हुई है।

कितने आश्चर्य की बात है.... भारत के 29 राज्यों के नाम.. *श्री. संत तुलसीदास* के इक दोहे में समाई हुई है।

*राम नाम जपते अत्रि मत गुसिआउ।*
*पंक में उगोहमि अहि के छबि झाउ।।* Read More : भारत के 29 राज्यों के नाम.. *श्री. संत तुलसीदास* के इक दोहे में समाई हुई है। about भारत के 29 राज्यों के नाम.. *श्री. संत तुलसीदास* के इक दोहे में समाई हुई है।

घुमक्कड़-शास्त्र – (लेखक – राहुल सांकृत्यायन)

राहुल सांकृत्यायन पुस्तकें, राहुल सांकृत्यायन के यात्रा वृतांत का सारांश, राहुल सांकृत्यायन के विचार, राहुल सांकृत्यायन का यात्रा वृतांत, राहुल सांकृत्यायन जीवन परिचय, किन्नर देश में राहुल सांकृत्यायन, राहुल सांकृत्यायन के उपन्यास, राहुल सांकृत्यायन की रचनाएँ

घुमक्कड़ के स्वावलंबी होने के लिए उपसुक्त कुछ बातों को हम बतला चुके हैं। क्षौरकर्म, फोटोग्राफी या शारीरिक श्रम बहुत उपयोगी काम हैं, इसमें शक नहीं; लेकिन वह घुमक्कड़ की केवल शरीर-यात्रा में ही सहायक हो सकते हैं। उनके द्वारा वह ऊँचे तल पर नहीं उठ सकता, अथवा समाज के हर वर्ग के साथ समानता के साथ घुल-मिल नहीं सकता। सभी वर्ग के लोगों में घुल-मिल जाने तथा अपने कृतित्व को दिखाने का अवसर घुमक्कड़ को मिल सकता है, यदि उसने ललित कलाओं का अनुशीलन किया है। हाँ, यह अवश्य है कि ललित-कलाएँ केवल परिश्रम के बल पर नहीं सीखी जा सकतीं। उनके लिए स्वामाविक रुचि का होना भी आवश्‍यक है। ललित-कलाओं में नृत्य, वाद्य और Read More : घुमक्कड़-शास्त्र – (लेखक – राहुल सांकृत्यायन) about घुमक्कड़-शास्त्र – (लेखक – राहुल सांकृत्यायन)

कौन कहता है कि होली सिर्फ़ हिंदुओं का त्योहार है?

कौन कहता है कि होली सिर्फ़ हिंदुओं का त्योहार है?

ईमान को ईमान से मिलाओ

इरफ़ान को इरफ़ान से मिलाओ

इंसान को इंसान से मिलाओ

गीता को क़ुरान से मिलाओ

दैर-ओ-हरम में हो ना जंग

होली खेलो हमारे संग

नज़ीर ख़य्यामी Read More : कौन कहता है कि होली सिर्फ़ हिंदुओं का त्योहार है? about कौन कहता है कि होली सिर्फ़ हिंदुओं का त्योहार है?

Pages