BTT

आतंकियों के खात्में तक युद्ध विराम नहीं- इजराइल

कई दिनों से गाजा पर इजराइली हमला कुछ घंटों से शांत है। ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि इजराइल आतंकी ठिकानों को नष्ट करने के लिए कोई बड़ी कार्रवाई करने की रणनीति पर काम कर रहा है।

 

सोमनाथ चटर्जी सीपीएम के दिग्गज नेता थे

सोमनाथ चटर्जी सीपीएम के दिग्गज नेता थे

लोकसभा के पूर्व अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी का 89 साल की उम्र में सोमवार को कोलकाता के निजी अस्पताल में निधन हो गया.

सोमनाथ चटर्जी को रविवार को दिल का दौरा पड़ा था. इस आघात के बाद उन्हें कोलकाता के एक निजी अस्पताल में वेंटिलेशन पर रखा गया था. पश्चिम बंगाल में मंत्री रहे सीपीएम नेता अब्दुस सत्तार ने बीबीसी को बताया कि सोमवार सुबह 8.15 बजे सोमनाथ चटर्जी ने इस दुनिया को अलविदा कहा.

वो किडनी की समस्या से भी जूझ रहे थे. चटर्जी को जून में भी स्ट्रोक आया था और वो एक महीने तक अस्पताल में भर्ती रहे थे.

Teen Talaq Bill पर विपक्ष का चक्रव्यूह तोड़ने में Modi सरकार असफल

मोदी सरकार आज ही राज्य सभा में आज ही बिल पेश करना चाहती थी लेकिन बिल का नाम आते ही विपक्ष करने लगा हंगामा और कार्यवाही करनी पड़ी स्थगित |

क्या चर्च में बंद हो जाएगी कन्फ़ेशन प्रक्रिया?

कन्फ़ेशन. अंग्रेज़ी के इस शब्द से सबसे पहले तब सामना हुआ जब स्कूल के आखिरी दिन एक 'कन्फ़ेशन सेशन' बुलाया गया.

इस सेशन में सभी दोस्त खुलकर अपने दिल की बात एक दूसरे के सामने रख रहे थे. वे बता रहे थे कि उन्हें किससे प्यार था, किस पर क्रश था, कौन सा टीचर पसंद नहीं था, किसने सबसे बड़ी शरारत की थी' और भी कई राज़दार बातें साझा हो रही थीं.

यानी कन्फ़ेशन का मतलब था किसी पर पूरा भरोसा कर अपने दिल में छिपे राज़ खोल देना, उनका इज़हार करना, जिससे मन में कोई बोझ बाकी ना रह जाए.

आरक्षण कौन देगा? अदालतें या सरकारें?

पहले तो मराठा जाति को ओबीसी में डालना होगा. सरकार ऐसा कर सकती है औक पिछड़ा आयोग भी ऐसा कर सकता है. अब काम बचता है आरक्षित सीटों का. इसमें सुप्रीम कोर्ट का एक आदेश बाधा है. मगर कर्नाटक और तमिलनाडु ने इस सीमा को पार कर दिया है. महाराष्ट्र भी ऐसा कर सकता है.

इमरान भारत को बेहतर जानते हैं

अंतरराष्ट्रीय मीडिया में इमरान ख़ान की छवि एक क्रिकेटर के तौर पर अच्छी है लेकिन एक नेता के तौर पर उन्हें 'तालिबानी ख़ान' कहा जाता है. उनकी इस छवि का असर क्या सरकार पर पड़ सकता है?

इस सवाल पर सुहासिनी हैदर कहती हैं, "ये बात सच है कि उन्हें वामपंथी और पॉपुलिस्ट नेता कहा जाता है. लेकिन फिलहाल इस दौर में दुनिया के कई देशों, जैसे अमरीका, तुर्की, ब्रिटेन में दक्षिणपंथ का उभार देखा जा रहा है. भारत में बीजेपी के उभरने को इसी कड़ी में देखा जा सकता है और इमरान ख़ान भी इसी मॉडल में फिट होते हैं. वो कट्टरपंथियों और युवाओं दोनों को साथ ले कर चलते हैं."

तुर्की और अमरीका में ठनी

तुर्की ने कहा है कि वो हिरासत में लिए गए अमरीकी पादरी के मामले में अमरीका की धमकियों को बर्दाश्त नहीं करेगा.

पादरी एंड्रयू ब्रनसन को चरमपंथ के आरोपों में हिरासत में लिया गया है और उन पर चल रहे मुक़दमे ने नेटो सहयोगी देशों अमरीका और तुर्की के रिश्तों में तनाव पैदा कर दिया है.

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने तुर्की से पादरी को तुरंत रिहा करने की मांग करते हुए कहा है कि यदि ऐसा नहीं हुआ तो अमरीका तुर्की पर व्यापक प्रतिबंध लगाएगा.

वहीं तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत कावूसोगलू उनका देश किसी के आदेश नहीं मानेगा और क़ानून व्यवस्था के मामले में किसी को छूट नहीं दी जाएगी.

कैम्ब्रिज एनालिटिका मामले की जाँच

भारत सरकार के सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने सीबीआई को फ़ेसबुक और कैम्ब्रिज एनालिटिका मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं.

केंद्रीय आईटी एवं क़ानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को राज्यसभा में इसकी सूचना दी.

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सीबीआई इसकी भी जाँच करेगी कि कैम्ब्रिज एनालिटिका ने भारत के किन क़ानूनों का उल्लंघन किया. साथ ही सीबीआई ये पता लगाने की कोशिश भी करेगी कि ब्रिटेन की इस कंपनी ने भारतीयों के डेटा तक पहुँच बनाई थी या नहीं.

हालांकि केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि कैम्ब्रिज एनालिटिका ने अब तक भारतीयों का डेटा चुराने की बात नकारी है.

बदलेगा पश्चिम बंगाल का नाम!

पश्चिम बंगाल विधानसभा में गुरुवार को दूसरी बार राज्य का नाम बदलने का प्रस्ताव पारित किया गया.

इस प्रस्ताव के अनुसार, पश्चिम बंगाल का नाम बदलकर 'बांग्ला' किया जाएगा.

राज्य सरकार अब इस प्रस्ताव को मंजूरी के लिए केंद्र सरकार के पास भेजेगी.

पिछले साल 29 अगस्त को भी ममता बनर्जी सरकार ने विधानसभा में राज्य का नाम बदलने का प्रस्ताव पारित किया था.

सूबे की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी काफ़ी समय से पश्चिम बंगाल का नाम सभी भाषाओं में बांग्ला रखे जाने पर ज़ोर देती रही हैं.

कांवड़ रूट पर मीट की बिक्री बंद

उत्तर प्रदेश सरकार ने कांवड़ यात्रा के रूट पर मीट की खुली बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है.

यह प्रतिबंध करीब दर्जन भर ज़िलों पर लागू होगा. निगरानी के लिए ड्रोन, हेलिकॉप्टर, पुलिस गश्ती दल और एम्बुलेंस को लगाया गया है.

महिला कांवड़ यात्रियों की सुरक्षा के लिए खास इंतज़ाम किए जाएंगे. इससे जुड़े निर्देश ज़िला मैजिस्ट्रेट को 20 जुलाई को ही जारी कर दिए गए थे.

Pages