BTT

हेमा मालिनी बोलीं, एक मिनट में मुख्यमंत्री बन सकती हूँ

भारतीय जनता पार्टी की सांसद और अभिनेत्री हेमा मालिनी ने कहा है कि वो अगर चाहें तो एक मिनट में मुख्यमंत्री बन सकती हैं.

उत्तर प्रदेश के मथुरा से सांसद हेमा मालिनी ने गुरुवार को राजस्थान के बांसवाड़ा शहर में ये बयान दिया.

उन्होंने कहा, "अगर मैं चाहूं तो एक मिनट में मुख्यमंत्री बन सकती हूं. लेकिन मुझे बंधना पसंद नहीं है. इससे मेरी आज़ादी समाप्त हो जायेगी. इसे लेकर मैं बहुत ज़्यादा उत्सुक नहीं हूं."

उन्होंने ये बयान इस सवाल के जवाब में दिया कि क्या वो मौक़ा मिलने पर मुख्यमंत्री बनना चाहेंगी?

अविश्वास प्रस्ताव गिरा ! 451 में से 335 वोट Modi सरकार के पक्ष में

संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन आज लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ पहले अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग हुई. इस वोटिंग में विपक्ष के 126 के मुकाबले मोदी सरकार को 325 वोट मिले. बता दें कि बुधवार को टीडीपी सांसद की ओर से लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने मंजूर किया था, जिसके बाद उस पर चर्चा के लिए शुक्रवार का दिन तय हुआ था.

 

UPDATES

ये रहा आंकड़ा

मोदी सरकार के पक्ष में - 325 वोट

मोदी सरकार के विपक्ष में - 126 वोट

कुल - 451 वोट

 

2014 के बाद हमास के ख़िलाफ़ इसराइल का सबसे बड़ा हमला

इसराइल ने कहा है कि 90 से ज़्यादा रॉकेट हमलों के जवाब में उसने उत्तरी गज़ा में हमास के दर्जनों सैन्य ठिकानों को निशाना बनाया है.

फ़लस्तीनी स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है ग़ज़ा शहर पर हुए हवाई हमलों में दो लोगों की मौत हुई है और 12 ज़ख़्मी हुए हैं.

इसराइली सेना का कहना है कि उसने बटालियन के मुख्यालय और हमास द्वारा ट्रेनिंग के लिए इस्तेमाल की जाने वाली जगहों को निशाना बनाया है.

2014 में हमास के साथ हुई लड़ाई के बाद से लेकर अब तक यह इसराइल का सबसे बड़ा अभियान है.

भारतीय कंपनी जिसने थाईलैंड के बच्चों को बचाया

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक थाईलैंड में गुफ़ा में फंसे बच्चों को निकालने के लिए एक भारतीय कंपनी से मदद ली गई थी.

पुणे की इस कंपनी 'किर्लोस्कर ब्रदर्स लिमिटेड (केबीएल)' की पानी निकालने में विशेषज्ञता है. भारतीय दूतावास ने थाईलैंड प्रशासन को इस कंपनी की मदद लेने की सलाह दी थी.

इस कंपनी ने भारत, थाईलैंड और ब्रिटेन के अपने कार्यालय से इस अभियान के लिए टीम भेजी थी.

बच्चे 23 जून को जिस गुफ़ा में फंसे थे वहां बारिश के कारण काफी पानी भर गया था. उन बच्चों को निकालने के लिए गुफ़ा से पानी निकाला गया. इस काम में कंपनी ने बचाव टीम की मदद की.

सुप्रीम कोर्ट ने यूपी पुलिस से क्यों मांगा जवाब?

सुप्रीम कोर्ट के दख़ल के बाद उत्तर प्रदेश में पुलिस एनकाउंटर का मामला एक बार फिर चर्चा में आ गया है.

हालांकि, राज्य सरकार का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट को जवाब दिया जाएगा, लेकिन अपराधियों का एनकाउंटर जारी रहेगा.

सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने एक जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान यूपी सरकार से पुलिस एनकाउंटर को लेकर दो हफ़्ते में जवाब दाख़िल करने को कहा है.

प्रदेश की बीजेपी सरकार का कहना है कि उसका अभियान अपराध को लेकर 'ज़ीरो टॉलरेंस' के लिए है और सुप्रीम कोर्ट में अपनी बात रखेगी.

पीएम मोदी की सुरक्षा के लिए नई गाइडलाइन

पिछले दिनों पीएम मोदी की हत्या की कथित साजिशों के उजागर होने के दावों के बाद गृह मंत्रालय ने उनकी सुरक्षा के लिए नई गाइडलाइन जारी की है। गृह मंत्रालय का कहना है कि स्पेशल प्रॉटेक्शन ग्रुप (SPG) से क्लियरंस मिले बिना किसी मंत्री और अधिकारी को भी पीएम मोदी के नजदीक आने की अनुमति नहीं मिलेगी। इस घटनाक्रम से जुड़े अधिकारियों के अनुसार मंत्रालय ने कहा है कि पीएम मोदी पर अबतक का सबसे अधिक खतरा मंडरा रहा है और 2019 के आम चुनाव से पहले वह सबसे अधिक निशाने पर हैं।  

खुशखबरी :- जम्मू कश्मीर में 63 साल का इतिहास बदला J&k में तिरंगा ही लहराएगा

जम्मू-कश्मीर में सरकारी बिल्डिंगों पर दो झंडे फहराने के सिंगल बेंच के फैसले पर हाई कोर्ट की डिविजन बेंच ने रोक लगा दी है. कोर्ट ने कहा कि सरकारी बिल्डिंगों पर सिर्फ तिरंगा ही फहराया जाएगा.

दरअसल, बीते साल मार्च में राज्य की सरकार ने एक सर्कुलर जारी करके कहा था कि सभी संवैधानिक संस्थाओं की इमारतों और आधिकारिक गाड़ियों पर राज्य के झंडे को तिरंगा के साथ ही फहराया जाए. हालांकि, दबाव के बाद सरकार ने फैसले से कदम वापस खींच लिए थे. बाद में श्रीनगर हाई कोर्ट की सिंगल बेंच ने फैसला सुनाते हुए सरकार को दो झंडे लगाने का आदेश दिया था.

रेलवे ट्रैक पर बच्चे के साथ लेटी महिला, सौ की स्पीड से गुजरी ट्रेन फिर भी नहीं आई कोई खरोंच

मध्य प्रदेश के बुरहानपुर जिले में एक महिला पति से तलाक के बाद अपने डेढ़ महीने के बेटे के साथ रेलवे ट्रैक पर लेट गई। तबस्सुम नाम की ये महिला शनिवार को गोरखपुर-एलटीटी काशी एक्सप्रेस से मुंबई जा रही थी। जिसके बाद अचानव वह नेपानगर स्टेशन पर उतर गई और अपने बेटे के साथ ट्रैक पर लेट गई। ऐसे में दोनों का बच पाना मुश्किल था।
 

पहले बीजेपी-पीडीपी गठजोड़ टूटा, फिर क्या-क्या हुआ

उन्होंने श्रीनगर में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ''ये सोचकर बीजेपी के साथ गठबंधन किया था कि बीजेपी एक बड़ी पार्टी है, केंद्र में सरकार है. हम इसके ज़रिए जम्मू कश्मीर के लोगों के साथ संवाद और पाकिस्तान के साथ अच्छे संबंध चाहते थे, उस समय अनुच्छेद 370 को लेकर घाटी के लोगों के मन में संदेह थे लेकिन फिर भी हमने गठबंधन किया था ताकि संवाद और मेलजोल जारी रहे.''

अपने पिता मुफ़्ती मोहम्मद सईद का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा, ''मुफ़्ती साहब ने जिस मक़सद के लिए ये गठबंधन किया था, उसके लिए हमने अपनी तरफ़ से पूरी कोशिश की, संवाद और मेलजोल के लिए आगे भी हमारी कोशिश जारी रहेगी.

Pages