अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए उत्तम प्रकार का टॉनिक

अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए उत्तम प्रकार का टॉनिक

अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए उत्तम प्रकार का टॉनिक जिसका अर्थ संकट मोचन,घोड़े जैसी ताकत देने वाला,
अश्वगंधा । जिसका अर्थ उसके नाम में ही छुपा है -जिसकी घोडे जैसी महक हो । इसमें एक खास महक तो होती है पर वह घोडे जैसी होती है कि हाथी जैसी यह आप ख़ुद सूँघ कर देख लीजियेगा पर मैं यह ज़रूर आपको बताना चाहूंगा कि इसको खाने से घोडे जैसी ताकत जरूर आ जाती है ।
चूँकि हमारे ऋषियों ने इसे अश्वगंधा नाम दिया है तो सही ही दिया होगा।वैसे तो अश्वगंधा का प्रत्येक भाग-जड़ ,पत्तियां ,बीज और फल भी दवाई के रूप में प्रयोग होते हैं। परन्तु इसकी जड़ों का प्रयोग आम जन-मानस के लिए सरल है । इसकी जड़ें नर,नारी ,बालक ,बुजुर्ग सबके लिए एक टॉनिक का काम करती है।
जड़ों के चूर्ण का सेवन अगर तीन महीने तक बच्चों को करवाया जाए तो कमजोर बच्चों के शरीर का सही विकास होने लगता है । सामान्य आदमी अगर इसका प्रयोग करे तो उसके शरीर में स्फूर्ति ,शक्ति ,चैतन्यता तथा कान्ति[चमक]आ जाती है। यह जडी सभी प्रकार के वीर्य विकारों को मिटा करके बल-वीर्य बढाता है। साथ ही धातुओं को भी पुष्ट करती है। इसका सेवन करने से शरीर का दुबलापन भी ख़त्म हो जाता है और शरीर कि हड्डियों पर माँस भी चढ़ता है। साथ ही नसें भी सुगठित हो जाती हैं। लेकिन डरिये मत इससे मोटापा नहीं आता । गठिया, धातु, मूत्र तथा पेट के रोगों के लिए यह बहुत उपयोगी है। इससे आप खांसी, साँस फूलना तथा खुजली की भी दवा बना सकते हैं । इसका आप अगर नियमित सेवन शुरू कर दें तो आपकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ जायेगी जिसका दूर गामी परिणाम यह होगा कि आप लंबे समय तक युवा बने रहेंगे बुढापे के रोग आपसे काफ़ी समय तक दूर रहेंगे। महिलाओं कि बीमारी में यह जड़ काफी लाभकारी है। इसके नियमित उपयोग से नारी की गर्भ-धारण की क्षमता बढती है ,प्रसव हो जाने के उपरांत उनमें दूध कि मात्रा भी बढती है तथा उनकी श्वेत प्रदर, कमर दर्द एवं शारीरिक कमजोरी से जुड़ी सारी समस्याएं दूर हो जाती हैं। इसके नियमित सेवन से हिमोग्लोविन तथा लाल रक्त कणों की सख्या में वृद्धि होती है । व्यक्ति की सामान्य बुद्धि का विकास होता है। कैंसर से लड़ने की क्षमता विकसित होती है। गैस की बीमारी,एसिडिटी ,अल्सर ,जोडों का दर्द, ल्यूकोरिया तथा उच्च रक्तचाप में इसे आजमाकर देखिये । आप ख़ुद कहेंगे कि इसका नाम तो संजीवनी बूटी होना चाहिए।
अब मुख्य बात है कि इसका प्रयोग कैसे करें?
आप सामान्य तौर पर अश्वगंधा कि जड़ें पीसकर उसका चूर्ण बनालें । और [2ग्राम से 5ग्राम] सुबह खाली पेट पानी से निगल जाएँ फिर एक कप गर्म दूध या चाय पी लें .इस प्रक्रिया के दस मिनट बाद बाकी नाश्ता करें। कुछ जडी -बूटी सवेरे खाली पेट खाने से ज्यादा फायदा पहुंचाती है। यह २००/- से ५००/- रु० किलो तक बाज़ार में उपलब्ध है। अगर किसी बीमारी में इसका प्रयोग करना चाहते हैं तो किसी वैद्य से थोड़ा राय-मशविरा कर लें। क्योकि हर बीमारी में इसकी मात्रा तथा इसे खाने का तरीका बदल जाता है। मेरी राय है कि आपको कोई बीमारी न हो तो भी प्रतिदिन इसका सेवन करें .चेहरे पर चमक तो बढेगी ही और कितना ही काम कर लें थकान से बुखार इत्यादि नहीं होगा । हरारत कि गोली खाने से छुटकारा मिल जायेगा । इसका वैज्ञानिक नाम Withania somnifera।
 

Vote: 
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 48,624 126
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 51,464 81
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 12,450 69
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 12,612 65
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 22,330 49
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 22,469 48
क्या आप पार्टनर से लिपट कर सोते हैं 38 33
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 3,935 28
प्रेगनेंसी में डांस करने के तरीके 28 22
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 2,818 21
सप्ताह में इतनी बार सेक्स करना जरूरी है 5,697 19
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 4,954 18
शादीशुदा जीवन में चाहती है भरपूर रोमांस तो पहने ऐसे अंत-वस्त्र 93 17
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 20,760 16
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 7,705 14
सेक्‍स करने से लोगों को होते हैं ये 10 फायदे 4,247 14
झाइयां होने के कारण 5,474 14
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 4,164 13
स्तन घटाने के उपाय, तरीके और टिप्स 2,232 13
बड़ी उम्र की महिलाओं से डेटिंग के टिप्स 1,707 13
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 3,125 11
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 5,378 10
होठों की क्या ज़रूरत है 2,361 10
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 7,774 10
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 5,527 10
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 5,144 10
कमर की चर्बी कम करने के लिये पीजिये ढेर सारा पानी 1,437 9
आंख की एपीस्कलेराइटिस : लक्षण, कारण, उपचार को करें निरोग 667 9
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 7,155 9
रस्सी कूदें, वज़न घटाएं 2,596 9
पार्टनर के साथ इंटिमेट होने से पहले ये चीजें चैक लें कहीं.... 229 9
दालचीनी वाले दूध में छिपा है सेहत और खूबसूरत त्वचा का राज़ 43 9
पेट दर्द और पेट में मरोड़ का कारण, लक्षण और उपचार आइए जानें 1,603 8
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 3,107 7
अपने दातो की देखभाल कैसे करें 536 7
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 2,836 7
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 1,574 7
योगासन से लाभ 1,297 7
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 4,330 7
ख़तरनाक है सेक्स एडिक्शन 5,077 6
मौसमी का जूस पीने के फायदे 4,209 6
व्रत रखने के फायदे 591 6
ब्लैक कॉफी पीने के फायदे 3,016 6
पीलिया कैसा भी हो जड़ से खत्म करेंगे 4,031 6
जीभ हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में बताती है जैसे 1,969 6
गाजर खाने के फायदे 361 6
दही खाने के बेहतरीन फायदो और खूबियों के बारे में जानें क्या हैं 1,191 5
प्रेगनेंसी में डांस करने से मुझे क्या फायदे हैं? 35 5
स्वास्थ्य शिक्षा कैसे 1,551 5
एंटीबायोटिक दवाओं से अधिक गुण है लहसुन में! 876 5