आयुर्वेद में गाय के घी को अमृत समान बताया गया है

देशी गाय के घी से होने वाले लाभ

आयुर्वेद में गाय के घी को अमृत समान बताया गया है। हमारे घरों में बहुत से ऐसे लोग हैं जो  वीक्यूजेक्यूएन को नियक़्न्तृत रखने के प्रति सतर्कता  बरतते हैं और  घी को हाथ तक नहीं लगाते। पर अगर गाय के घी को नियमित रूप से अपने भोजन में शामिल किया जाए तो इससे वजन भी नियंत्रित रहता है और किसी भी प्रकार की बीमारी भी नहीं लगती। देशी घी का मतलब है गाय के दूध से बना शुद्ध घी, जो कि एक प्रकार की दवा भी माना जाता है। 

  • 1.गाय का घी नाक में डालने से पागलपन दूर होता है।
  • 2.गाय का घी नाक में डालने से एलर्जी खत्म हो जाती है।
  • 3.गाय का घी नाक में डालने से लकवा का रोग में भी उपचार होता है।
  • 4.(20-25 ग्राम) घी व मिश्री खिलाने से शराब, भांग व गांझे का नशा कम हो जाता है।
  • 5.गाय का घी नाक में डालने से कान का पर्दा बिना ओपरेशन के ही ठीक हो जाता है।
  • 6.नाक में घी डालने से नाक की खुश्की दूर होती है और दिमाग तरोताजा हो जाताहै।
  • 7.गाय का घी नाक में डालने से कोमा से बाहर निकल कर चेतना वापस लोट आती है।
  • 8.गाय का घी नाक में डालने से बाल झडना समाप्त होकर नए बाल भी आने लगते है।
  • 9.गाय के घी को नाक में डालने से मानसिक शांति मिलती है, याददाश्त तेज होती है।
  • 10.हाथ पाव मे जलन होने पर गाय के घी को तलवो में मालिश करें जलन ठीक होता है।
  • 11.हिचकी के न रुकने पर खाली गाय का आधा चम्मच घी खाए, हिचकी स्वयं रुक जाएगी।
  • 12.गाय के घी का नियमित सेवन करने से एसिडिटी व कब्ज की शिकायत कम हो जाती है।
  • 13.गाय के घी से बल और वीर्य बढ़ता है और शारीरिक व मानसिक ताकत में भी इजाफा होता है
  • 14.गाय के पुराने घी से बच्चों को छाती और पीठ पर मालिश करने से कफ की शिकायत दूर हो जाती है।
  • 15.अगर अधिक कमजोरी लगे, तो एक गिलास दूध में एक चम्मच गाय का घी और मिश्री डालकर पी लें।
  • 16.हथेली और पांव के तलवो में जलन होने पर गाय के घी की मालिश करने से जलन में आराम आयेगा।
  • 17.गाय का घी न सिर्फ कैंसर को पैदा होने से रोकता है और इस बीमारी के फैलने को भी आश्चर्यजनक ढंग से रोकता है।
  • 18.जिस व्यक्ति को हार्ट अटैक की तकलीफ है और चिकनाइ खाने की मनाही है तो गाय का घी खाएं, हर्दय मज़बूत होता है।
  • 19.देसी गाय के घी में कैंसर से लड़ने की अचूक क्षमता होती है। इसके सेवन से स्तन तथा आंत के खतरनाक कैंसर से बचा जा सकता है।
  • 20.घी, छिलका सहित पिसा हुआ काला चना और पिसी शक्कर (बूरा) तीनों को समान मात्रा में मिलाकर लड्डू बाँध लें। प्रातः खाली पेट एक लड्डू खूब चबा-चबाकर खाते हुए एक गिलास मीठा गुनगुना दूध घूँट-घूँट करके पीने से स्त्रियों के प्रदर रोग में आराम होता है, पुरुषों का शरीर मोटा ताजा यानी सुडौल और बलवान बनता है.
  • 21.फफोलो पर गाय का देसी घी लगाने से आराम मिलता है।
  • 22.गाय के घी की झाती पर मालिस करने से बच्चो के बलगम को बहार निकालने मे सहायक होता है।
  • 23.सांप के काटने पर 100 -150 ग्राम घी पिलायें उपर से जितना गुनगुना पानी पिला सके पिलायें जिससे उलटी और दस्त तो लगेंगे ही लेकिन सांप का विष कम हो जायेगा।
  • 24.दो बूंद देसी गाय का घी नाक में सुबह शाम डालने से माइग्रेन दर्द ठीक होता है।
  • 25.सिर दर्द होने पर शरीर में गर्मी लगती हो, तो गाय के घी की पैरों के तलवे पर मालिश करे, सर दर्द ठीक हो जायेगा।
  • 26.यह स्मरण रहे कि गाय के घी के सेवन से कॉलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ता है। वजन भी नही बढ़ता, बल्कि वजन को संतुलित करता है ।यानी के कमजोर व्यक्ति का वजन बढ़ता है, मोटे व्यक्ति का मोटापा (वजन) कम होता है।
  • 27.एक चम्मच गाय का शुद्ध घी में एक चम्मच बूरा और 1/4 चम्मच पिसी काली मिर्च इन तीनों को मिलाकर सुबह खाली पेट और रात को सोते समय चाट कर ऊपर से गर्म मीठा दूध पीने से आँखों की ज्योति बढ़ती है।
  • 28.गाय के घी को ठन्डे जल में फेंट ले और फिर घी को पानी से अलग कर ले यह प्रक्रिया लगभग सौ बार करे और इसमें थोड़ा सा कपूर डालकर मिला दें। इस विधि द्वारा प्राप्त घी एक असर कारक औषधि में परिवर्तित हो जाता है जिसे त्वचा सम्बन्धी हर चर्म रोगों में चमत्कारिक कि तरह से इस्तेमाल कर सकते है। यह सौराइशिस के लिए भी कारगर है।
  • 29.गाय का घी एक अच्छा (LDL) कोलेस्ट्रॉल है। उच्च कोलेस्ट्रॉल के रोगियों को गाय का घी ही खाना चाहिए। यह एक बहुत अच्छा टॉनिक भी है।
  • 30.अगर आप गाय के घी की कुछ बूँदें दिन में तीन बार, नाक में प्रयोग करेंगे तो यह त्रिदोष (वात पित्त और कफ) को संतुलित करता है।
  • वंदे गौ मातरम् ।।
Vote: 
0
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 1,861 17
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 37,511 14
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 28,184 14
झाइयां होने के कारण 1,983 10
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 2,459 8
करेला स्वस्थ के लिए किस प्रकार लाभदायक 514 7
बच्चे के कान के पीछे शंकु का समाधान 713 7
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 4,921 6
छोटे ब्रेस्‍ट है तो अभी से शुरू कर दें ये योगासन 155 6
रात में दूध पीने के फायदे 739 6
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 3,700 5
रस्सी कूदें, वज़न घटाएं 1,370 5
मियादी बुखार का कारण क्या है 2,412 5
पीलिया कैसा भी हो जड़ से खत्म करेंगे 2,375 5
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 2,977 5
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 4,596 4
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 1,206 4
मौसमी का जूस पीने के फायदे 2,717 4
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 707 4
सुबह उठ कर खाली पेट कैसे पानी पीना चाहिए 844 4
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 6,235 4
पेट दर्द और पेट में मरोड़ का कारण, लक्षण और उपचार आइए जानें 966 4
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 2,476 4
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 2,762 4
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 2,053 4
मोती जैसे सफेद दांत पाने के लिए ट्राई करें ये 5 घरेलू उपाय 1,963 3
जामुन के गुण और फायदे 1,777 3
सभी प्रकार के घावों में कारगर है लेड 924 3
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 17,524 3
सप्ताह में इतनी बार सेक्स करना जरूरी है 3,496 3
दिमागी दौरा या ब्रेन स्ट्रोक से पाएं छुटकारा 918 3
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 2,880 3
ब्लैक कॉफी पीने के फायदे 2,189 3
बादाम खाएं ,मोटापा,कोलेस्ट्रोल घटाएं और भी फायदे पाये 571 3
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 2,750 3
इंसानी दूध पीने को लेकर ब्रिटेन में चेतावनी 6,010 3
टीबी से कैसे करें बचाव, क्या हैं लक्षण, जानें सब. 1,627 3
सेब खाने के फायदे 244 3
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 13,194 3
क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए 1,517 3
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 3,126 3
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 1,540 3
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 14,669 2
माँ का दूध बढ़ाने के तरीके 3,679 2
स्वास्थ्य शिक्षा कैसे 539 2
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 1,149 2
आखें लाल होने पर क्या उपाय करें 588 2
गर्भावस्था में लें सही आहार 675 2
सुबह का नाश्ता राजा की तरह, दोपहर का भोजन राजकुमार की तरह और रात का भोजन भिखारी की तरह करना चाहिए।’ 2,870 2
अपनी आँखों को रखे हमेशा सलमात 996 2