कढ़ी पत्ता

कढ़ी पत्ते का पेड़ (मुराया कोएनिजी, (Murraya koenigii;) ; अन्य नाम: बर्गेरा कोएनिजी, (Bergera koenigii), चल्कास कोएनिजी (Chalcas koenigii)) उष्णकटिबंधीय तथा उप-उष्णकटिबंधीय प्रदेशों में पाया जाने वाला रुतासी (Rutaceae) परिवार का एक पेड़ है, जो मूलतः भारत का देशज है। अकसर रसेदार व्यंजनों में इस्तेमाल होने वाले इसके पत्तों को "कढ़ी पत्ता" कहते हैं। कुछ लोग इसे "मीठी नीम की पत्तियां" भी कहते हैं। इसके तमिल नाम का अर्थ है, 'वो पत्तियां जिनका इस्तेमाल रसेदार व्यंजनों में होता है'। कन्नड़ भाषा में इसका शब्दार्थ निकलता है - "काला नीम", क्योंकि इसकी पत्तियां देखने में कड़वे नीम की पत्तियों से मिलती-जुलती हैं। लेकिन इस कढ़ी पत्ते के पेड़ का नीम के पेड़ से कोई संबंध नहीं है। असल में कढ़ी पत्ता, तेज पत्ता या तुलसी के पत्तों, जो भूमध्यसागर में मिलनेवाली ख़ुशबूदार पत्तियां हैं, से बहुत अलग है।

 

कड़वे अनुभव से दूर रहना है तो खाएं मीठी नीम

हम भोजन में से कढ़ी पत्ता अक्सर निकाल कर अलग कर देते है. इससे हमें उसकी खुशबू तो मिलती है पर उसके गुणों का लाभ नहीं मिल पाता. कढ़ी पत्ते को धो कर छाया में सुखा कर उसका पावडर इस्तेमाल करने से बच्चे और बड़े भी भी इसे आसानी से खा लेते है, इस पावडर को हम छाछ और निम्बू पानी में भी मिला सकते है. इसे हम मसालों में, भेल में भी डाल सकते है. प्रतिदिन भोजन में कढ़ी पत्ते को दाल, सब्ज़ी में डालकर या चटनी बनाकर प्रयोग किया जा सकता है, जिस प्रकार दक्षिण भारत में किया जाता है.

इसकी छाल भी औषधि है. हमें अपने घरों में इसका पौधा लगाना चाहिए. Read More : कड़वे अनुभव से दूर रहना है तो खाएं मीठी नीम about कड़वे अनुभव से दूर रहना है तो खाएं मीठी नीम

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 43,914 121
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 48,515 82
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 9,958 64
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 20,415 48
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 20,319 40
क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए 2,594 32
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 6,878 23
सेक्स सरदर्द की सबसे अच्छी दावा है 905 18
ख़तरनाक है सेक्स एडिक्शन 4,791 18
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 2,618 17
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 7,123 17
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 20,220 16
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 5,082 15
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 4,402 14
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 6,908 14
मौसमी का जूस पीने के फायदे 4,023 13
जल्‍दी पिता बनने के लिए एक घंटे में करें दो बार सेक्‍स 5,277 12
पोषाहार क्या है जानिए 1,153 12
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 3,354 12
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 3,759 12
रस्सी कूदें, वज़न घटाएं 2,300 12
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 2,129 12
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 3,706 12
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 4,789 11
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 3,903 11
गाजर खाने के फायदे 292 11
तिल तथा मस्से हटाने के आसान घरेलू उपचार 9,870 11
बिना सर्जरी स्तन छोटे करने के उपाय 2,384 11
गन्ने के रस में है कैंसर से लड़ने की ताकत 669 11
विज्ञान ने खोजा सौंदर्य का समीकरण 1,943 11
पीलिया कैसा भी हो जड़ से खत्म करेंगे 3,807 11
झाइयां होने के कारण 4,872 10
क्‍या सोते समय ब्रा पहननी चाहिये ? 11,198 10
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 2,915 10
मखाना की खेती 601 10
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 6,643 10
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 4,576 10
मियादी बुखार का कारण क्या है 3,606 10
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 10,845 10
जीभ हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में बताती है जैसे 1,824 10
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 5,127 9
सेक्‍स करने से लोगों को होते हैं ये 10 फायदे 4,002 9
जानिये कितना होना चाहिए आपका कोलेस्ट्रॉल और कब शुरू होती है इससे परेशानी 1,776 9
चन्द्र ग्रहण पर राशियों पर पड़े प्रभाव को कैसे कम करें 725 8
सप्ताह में इतनी बार सेक्स करना जरूरी है 5,394 8
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 2,605 8
गन्ने के जूस के फायदे 744 8
ब्लैक कॉफी पीने के फायदे 2,847 8
गिलोय के फायदे और अनेक प्रकार से रोगों से छुटकारा 1,284 8
चमकती हुई त्वचा के लिए हर्बल ब्यूटी टिप्स 2,995 8