कान में दर्द है तो करें ये कारगार उपाय

कान का दर्द---
1. सरसोे का तेल हल्का गर्म करके कान में डालने से कान का दर्द दूर होता हैं। 
2. प्याज का रस गुनगुना करके डालने से दर्द में तुरंत आराम मिलता हैं। 
3. अदरक का रस भी गुनगुना करके डालना काफी कारगार होता हैं। 
4. एरंडी के पत्तों को गरम तिल के तेल में डुबोकर उससे कानों के आसपास हल्का सेंक करें। 
5. कान में पस (मवाद) अता हो तो गुग्गल का धुआं कान पर लें। 
6. मुल्हठी को पीसकर घी में मिलाकर हल्का गर्म करके कान के आसपास लेप करने से दर्द में आराम मिलता हैं। 
7. एक भाग अजवायन का तेल और तीन भाग सरसों का तेल मिलाकर मंद आंच पर गुनगुना करके कान में डालें।
कान में सूजन ---
1. एरंड के पत्तों पर तेल लगाकर सेंक करें। फिर गुनगुने पत्तों को सूजन वाले स्थान पर बांध दें। इससे कान की सूजन व दर्द दूर हो जाता हैं। 
2. सूजन वाले स्थान पर गुड व चूने का लेप करने से भी आराम मिलता हैं। 
3. सनई के बीज, मेथी, काला जीरा, रास्ना, हल्दी सभी को कांजी या छाछ में पीसकर गर्म करके लेप करें। 
4. सोंठ 3 ग्राम, काला तिल 2 ग्राम, बिनौला 4 ग्राम, इन सभी को गाय के मुत्र में पीसकर सूजन वाले स्थान पर 2-3 बार लेप करने से कान में सूजन में लाभ होता हैं। 
कान का बहना ---
1. कान में थोडी स्पिरिट डालने से कान का बहना बंद हो जाता हैं। 
2. हल्दी और फुलाई हुई फिटकरी के चूर्ण को तेल में घोल-छानकर 2-2 बंूद कान में डालने से कान का बहना बंद हो जाता हैं। 
3. कान के बहने पर गाय का दूध लेकर उसमें मेथी का हल्का गरम तेल मिलाकर कान में डालना लाभकारी होता हैं। 
4. कान बहने पर कान में प्याज का रस हल्का गर्म करके डाला जा सकता हैं। 
5. शाल वृक्ष की छाल तथा वनकपास का रस मधु में मिलाकर 2 से 4 बुंदे डालने से कान का बहना शीघ्र बंद हो जाता हैं।
कम सुनाई देना ---
1. सप्ताह में एक बार कानों में शुद्ध सरसों का तेल हल्का गुनगुना करके डालना गुणकारी होता हैं।
2. 4-5 बूंदे राई का तेल कान में टपकाने से कम सुनाई पडने की शिकायत दूर हो जाती हैं। 
3. सोंठ, गुड और घी मिलाकर खाने से कम सुनने में लाभ होता है और सांय सायं की आवाज भी बंद हो जाती हैं। 
4. ताजा मूली का रस, सरसों का तेल और शहद तीनों बराबर मात्रा में लेकर अच्छी तरह से मिला लें । इसकी दो-चार बंूदें दिन में चार बार कान में डालने से सुनने की शक्ति बढती हैं। 
5. दालचीनी का तेल नियमित रूप से रात को सोते समय कान में डालने से बहरापन दूर होता हैं। 
कान बजना ---
1. हिंग्वादि तेल कानों में डालने से लाभ होता हैं। बाहर से कान के आसपास मालिश करने से भी लाभ होता हैं। 
2. तिल के तेल या नारियल तेल से सिर की मालिश करें। 
3. एक कप दूध में एक टेबलस्पून घी डालकर प्रतिदिन सुबह पिये।
4. अपामार्ग के क्षार के तेल की 5-5 बूंदें रात को सोते समय कान में डालें। 
कान में कीडा जाना ---
1. कान में कीडा चले जाने पर कोई नुकीली चीज या तिनका न डालें। सरसों का तेल थोडा गर्म करके डालें कीडा मरकर तेल के साथ बाहर आ जाएगा। 
2. प्याज का रस डालने से भी कीडा बाहर आ जाता हैं।
3. जैसे ही कीडा कान में घुसे सारी लाइट्स बंद करके कान के पास टॉर्च जलाकर बैठ जाएं। रोशनी देखते ही कीडा बाहर आ जाएगा। 
4. चूने का पानी निथारकर उसे साफ कपडे में छान लें। दो-तीन बूंदें कान मे डालने से कान में गई कोई भी चीज बाहर आ जाएगी।

Vote: 
No votes yet

आप भी अपने लेख फिज़िका माइंड वेबसाइट पर प्रकाशित कर सकते है|

आप अपने लेख WhatsApp No 9259436235 पर भेज सकते है जो की पूरी तरह से निःशुल्क है | आप 1000 रु (वार्षिक )शुल्क जमा करके भी वेबसाइट के साधारण सदस्य बन सकते है और अपने लेख खुद ही प्रकाशित कर सकते है | शुल्क जमा करने के लिए भी WhatsApp No पर संपर्क करे. या हमें फ़ोन काल करें 9259436235

 

 

New Health Updates

बढती उम्र में झुरियों को कैसे कम करें
चेहरें पर सूजन हो तो करें ये उपाय
आखों में जलन हो तो करें ये कारगार उपाय
रिश्तों से जुड़ीं ये 5 हैरान करने वाली बातें, जरूर जानिए
विज्ञान ने खोजा सौंदर्य का समीकरण
क्‍यूं नहीं रखने चहिये फ्रिज में अंडे?
दोस्त बनाने के सबसे आसान तरीके
एक साथी के साथ रहना नहीं है इंसानों की फितरत
2-7 साल के 92% बच्चों को है मोबाइल एड‍िक्शन
लाल लकीर वाली दवाए बिना डॉ की सलाह के कभी न लें
बड़ी उम्र की महिलाओं से डेटिंग के टिप्स
माँ का दूध बढ़ाने के तरीके
तिल तथा मस्से हटाने के आसान घरेलू उपचार
आयुर्वेद में गाय के घी को अमृत समान बताया गया है
डार्क सर्कल को दूर करने के घरेलू नुस्खों
अब घर पर ही पाइये काले घुटनों से निजात
सर्दियों में अपने पैरों को रखें सॉफ्ट
मोटापा दूर करने के घरेलु उपाय
अनार का जूस स्वस्थ के लिए किस प्रकार फयदेमद
रात में दूध पीने के फायदे