गूलर लंबी आयु वाला वृक्ष है

गूलर लंबी आयु वाला वृक्ष है

गूलर  फिकस कुल  का एक विशाल वृक्ष है। इसे संस्कृत में उदुम्बर, बांग्ला में हुमुर, मराठी में उदुम्बर, गुजराती में उम्बरा, अरबी में जमीझ, फारसी में अंजीरे आदम कहते हैं। इस पर फूल नहीं आते। इसकी शाखाओं में से फल उत्पन्न होते हैं। फल गोल-गोल अंजीर की तरह होते हैं और इसमें से सफेद-सफेद दूध निकलता है। इसके पत्ते लभेड़े के पत्तों जैसे होते हैं। नदी के उदुम्बर के पत्ते और फूल गूलर के पत्तों-फल से छोटे होते हैं ।
गूलर, २ प्रकार का होता है- नदी उदुम्बर और कठूमर। कठूमर के पत्ते गूलर के पत्तों से बडे होते हैं। इसके पत्तों को छूने से हाथों में खुजली होने लगती है और पत्तों में से दूध निकलता है।

औषधीय गुण

गूलर शीतल, गर्भसंधानकारक, व्रणरोपक, रूक्ष, कसैला, भारी, मधुर, अस्थिसंधान कारक एवं वर्ण को उज्ज्वल करने वाला है कफपित्त, अतिसार तथा योनि रोग को नष्ट करने वाला है।

  • गूलर की छाल - अत्यंत शीतल, दुग्धवर्धक, कसैली, गर्भहितकारी और वर्णविनाशक है।
  • कोमल फल- स्तम्भक, कसैले, हितकारी, तथा तृषा पित्त-कफ और रूधिरदोष नाशक है।
  • मध्यम कोमल फल - स्वादु, शीतल, कसैले, पित्त, तृषा, मोहकारक एवं वमन तथा प्रदर रोग विनाशक है।
  • तरूण फल - कसैले, रूचिकारी, अम्ल, दीपन, माँसवर्धक, रूधिरदोषकारी और दोषजनक है।
  • पका फल - कसैला, मधुर, कृमिकारक, जड, रूचिकारक, अत्यंत शीतल, कफकारक, तथा रक्तदोष, पित्त, दाह, क्षुधा, तृषा, श्रम, प्रमेह शोक और मूर्छा नाशक है।

 

गूलर लंबी आयु वाला वृक्ष है। इसका वनस्पतिक नाम फीकुस ग्लोमेराता रौक्सबुर्ग है। यह सम्पूर्ण भारत में पाया जाता है। यह नदी−नालों के किनारे एवं दलदली स्थानों पर उगता है। उत्तर प्रदेश के मैदानों में यह अपने आप ही उग आता है।
* इसके भालाकार पत्ते 10 से सत्रह सेमी लंबे होते हैं जो जनवरी से अप्रैल तक निकलते हैं। इसकी छाल का रंग लाल−घूसर होता है। फल गोल, गुच्छों में लगते हैं। फल मार्च से जून तक आते हैं। कच्चा फल छोटा हरा होता है पकने पर फल मीठे, मुलायम तथा छोटे−छोटे दानों से युक्त होता है। इसका फल देखने में अंजीर के फल जैसा लगता है। इसके तने से क्षीर निकलता है।
* गूलर का कच्चा फल कसैला एवं दाहनाशक है। पका हुआ गूलर रुचिकारक, मीठा, शीतल, पित्तशामक, तृषाशामक, श्रमहर, कब्ज मिटाने वाला तथा पौष्टिक है। इसकी जड़ में #रक्तस्राव रोकने तथा जलन शांत करने का गुण है। गूलर के कच्चे फलों की सब्जी बनाई जाती है तथा पके फल खाए जाते हैं। इसकी छाल का चूर्ण बनाकर या अन्य प्रकार से उपयोग किया जाता है।
* गूलर के नियमित सेवन से शरीर में पित्त एवं कफ का संतुलन बना रहता है। इसलिए पित्त एवं कफ विकार नहीं होते। साथ ही इससे उदरस्थ अग्नि एवं दाह भी शांत होते हैं। पित्त रोगों में इसके पत्तों के चूर्ण का शहद के साथ सेवन भी फायदेमंद होता है।
* गूलर की छाल ग्राही है, रक्तस्राव को बंद करती है। साथ ही यह मधुमेह में भी लाभप्रद है। गूलर के कोमल−ताजा पत्तों का रस शहद में मिलाकर पीने से भी मधुमेह में राहत मिलती है। इससे पेशाब में शर्करा की मात्रा भी कम हो जाती है।
* गूलर के तने को दूध बवासीर एवं दस्तों के लिए श्रेष्ठ दवा है। #खूनी बवासीर के रोगी को गूलर के ताजा पत्तों का रस पिलाना चाहिए। इसके नियमित सेवन से त्वचा का रंग भी निखरने लगता है।
* हाथ−पैरों की त्वचा फटने या #बिवाई फटने पर गूलर के तने के दूध का लेप करने से आराम मिलता है, पीड़ा से छुटकारा मिलता है।
* गूलर से स्त्रियों की मासिक धर्म संबंधी अनियमितताएं भी दूर होती हैं। स्त्रियों में मासिक धर्म के दौरान अधिक रक्तस्राव होने पर इसकी छाल के काढ़े का सेवन करना चाहिए। इससे अत्याधिक बहाव रुक जाता है। ऐसा होने पर गूलर के पके हुए फलों के रस में खांड या शहद मिलाकर पीना भी लाभदायक होता है।
* विभिन्न योनि विकारों में भी गूलर काफी फायदेमंद होता है। योनि विकारों में योनि प्रक्षालन के लिए गूलर की छाल के काढ़े का प्रयोग करना बहुत फायदेमंद होता है।
* मुंह के छाले हों तो गूलर के पत्तों या #छाल का काढ़ा मुंह में भरकर कुछ देर रखना चाहिए। इससे फायदा होता है। इससे दांत हिलने तथा मसूढ़ों से खून आने जैसी व्याधियों का निदान भी हो जाता है। यह क्रिया लगभग दो सप्ताह तक प्रतिदिन नियमित रूप से करें।
* आग से या अन्य किसी प्रकार से जल जाने पर प्रभावित स्थान पर गूलर की छाल को लेप करने से जलन शांत हो जाती है। इससे खून का बहना भी बंद हो जाता है। पके हुए गूलर के शरबत में शक्कर, खांड या शहद मिलाकर सेवन करने से गर्मियों में पैदा होने वाली जलन तथा तृषा शांत होती है।
* नेत्र विकारों जैसे आंखें लाल होना, आंखों में पानी आना, जलन होना आदि के उपचार में भी गूलर उपयोगी है। इसके लिए गूलर के पत्तों का काढ़ा बनाकर उसे साफ और महीन कपड़े से छान लें। ठंडा होने पर इसकी दो−दो बूंद दिन में तीन बार आंखों में डालें। इससे नेत्र ज्योति भी बढ़ती है।
* नकसीर फूटती हो तो ताजा एवं पके हुए गूलर के लगभग 25 मिली लीटर रस में गुड़ या शहद मिलाकर सेवन करने या नकसीर फूटना बंद हो जाती है।
* धातुदुर्बलता के लिए 1 बताशे में 10 बूंद गूलर का दूध डालकर सुबह-शाम सेवन करने और 1 चम्मच की मात्रा में गूलर के फलों का चूर्ण रात में सोने से पहले लेने से धातु दुर्बलता दूर हो जाती है। इस प्रकार से इसका उपयोग करने से शीघ्रपतन रोग भी ठीक हो जाता है।
* मर्दाना शक्तिवर्द्धक के लिए 1 छुहारे की गुठली निकालकर उसमें गूलर के दूध की 25 बूंद भरकर सुबह रोजाना खाये इससे वीर्य में शुक्राणु बढ़ते हैं तथा संतानोत्पत्ति में शुक्राणुओं की कमी का दोष भी दूर हो जाता है।
*1 चम्मच गूलर के दूध में 2 बताशे को पीसकर मिला लें और रोजाना सुबह-शाम इसे खाकर उसके ऊपर से गर्म दूध पीएं इससे मर्दाना कमजोरी दूर होती है।
* पका हुआ गूलर सुखाकर पीसकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण में इसी के बराबर की मात्रा में मिश्री मिलाकर किसी बोतल में भर कर रख दें। इस चूर्ण में से 2 चम्मच की मात्रा गर्म दूध के साथ सेवन करने से मर्दाना शक्ति बढ़ जाती है। 2-2 घंटे के अन्तराल पर गूलर का दूध या गूलर का यह चूर्ण सेवन करने से दम्पत्ति वैवाहिक सुख को भोगते हुए स्वस्थ संतान को जन्म देते हैं।
* बाजीकारक (काम उत्तेजना) के लिए 4 से 6 ग्राम गूलर के फल का चूर्ण और बिदारी कन्द का चूर्ण बराबर मात्रा में मिलाकर मिश्री और घी मिले हुए दूध के साथ सुबह-शाम सेवन करने से पौरुष शक्ति की वृद्धि होती है व बाजीकरण की शक्ति बढ़ जाती है। यदि इस चूर्ण का उपयोग इस प्रकार से स्त्रियां करें तो उनके सारे रोग ठीक हो जाएंगे।
** गर्मी के मौसम में गूलर के पके फलों का शर्बत बनाकर पीने से मन प्रसन्न होता है और शरीर में शक्ति की वृद्धि होती है तथा कई प्रकार के रोग जैसे- कब्ज तथा #खांसी और दमा आदि ठीक हो जाते हैं।
* उपदंश (फिरंग) के लिए 40 ग्राम गूलर की छाल को 1 लीटर पानी में उबालकर काढ़ा बना लें और इसमें मिश्री मिलाकर पीने से उपदंश की बीमारी ठीक हो जाती है।
* शरीर को शक्तिशाली बनाने के लिए लगभग 100 ग्राम की मात्रा में गूलर के कच्चे फलों का चूर्ण बनाकर इसमें 100 ग्राम मिश्री मिलाकर रख दें। अब इस चूर्ण में से लगभग 10 ग्राम की मात्रा में रोजाना दूध के साथ लेने से शरीर को भरपूर ताकत मिलती है।
* प्रदर के लिए गूलर के फूलों के चूर्ण को छानकर उसमें शहद एव मिश्री मिलाकर गोली बना लें। रोजाना 1 गोली का सेवन करने से 7 दिन में प्रदर रोग से छुटकार मिल जाता है।
* गूलर के पके फल को छिलके सहित खाकर ऊपर से ताजे पानी पीयें इससे श्वेत प्रदर रोग ठीक हो जाता है।
* गूलर के फलों के रस में शहद मिलाकर सेवन करने से #प्रदर रोग में आराम मिलता है।
* रक्तप्रदर के लिए गूलर की छाल 5 से 10 ग्राम की मात्रा में या फल 2 से 4 की मात्रा में सुबह-शाम चीनी मिले दूध के साथ सेवन करने से अधिक लाभ मिलता है तथा रक्तप्रदर रोग ठीक हो जाता है।
* 20 ग्राम गूलर की ताजी छाल को 250 मिलीलीटर पानी में उबालें जब यह 50 मिलीलीटर की मात्रा में बच जाए तो इसमें 25 ग्राम मिश्री और 2 ग्राम सफेद जीरे का चूर्ण मिलाकर सेवन करें इससे रक्तप्रदर रोग में लाभ मिलता है।
* पके गूलर के फलों को सुखाकर इसे कूटे और पीसकर छानकर चूर्ण बना लें। फिर इसमें बराबर मात्रा में मिश्री मिलाकर किसी ढक्कनदार बर्तन में भर कर रख दें। इसमें से 6 ग्राम की मात्रा में रोजाना सुबह-शाम दूध या पानी के साथ सेवन करने से रक्तप्रदर ठीक हो जाता है।
* पके गूलर के फल को लेकर उसके बीज को निकाल कर फेंक दें, जब उसके फल शेष रह जायें तो उसका रस निकाल कर शहद के साथ सेवन करने से रक्त प्रदर में लाभ मिलता है। रोगी इसके सब्जी का सेवन भी कर सकते हैं।
* 1 चम्मच गूलर के फल का रस में बराबर मात्रा में मिश्री मिलाकर सुबह-शाम नियमित रूप से सेवन करने से कुछ ही हफ्तों में न केवल रक्त प्रदर ठीक होता है बल्कि #मासिकधर्म में खून अधिक आने की तकलीफ भी दूर होती है।
* श्वेत प्रदर के लिए रोजाना दिन में 3-4 बार गूलर के पके हुए फल खाने से श्वेत प्रदर में लाभ मिलता है।
* गूलर का रस 5 से 10 ग्राम मिश्री के साथ मिलाकर नाभि के निचले हिस्से में पूरे पेट पर इससे लेप करें। इससे श्वेत प्रदर रोग में आराम मिलता है।
** महिलाओ के श्वेत प्रदर के लिए 1 किलो कच्चे गूलर लेकर इसके 3 भाग कर लें। इसमें से #कच्चे गूलर 1 भाग उबाल लें और इनकों पीसकर 1 चम्मच सरसों के तेल में फ्राई कर लें तथा इसकी रोटी बना लें। रात को सोते समय रोटी को नाभि के ऊपर रखकर कपड़ा बांध लें। इस प्रकार शेष 2 भागों से इसी प्रकार की क्रिया 2 दिनों तक करें इससे श्वेत प्रदर रोग की अवस्था में आराम मिलता है।
* 10-15 ग्राम गूलर की छाल को पीसकर, 250 मिलीलीटर पानी में डालकर पकाएं। पकने के बाद 125 मिलीलीटर पानी शेष रहने पर इसे छान लें और इसमें मिश्री व लगभग 2 ग्राम सफेद जीरे का चूर्ण मिलाकर सुबह-शाम सेवन करें तथा भोजन में इसके कच्चे फलों का काढ़ा बनाकर सेवन करें श्वेत प्रदर रोग में लाभ मिलता है।
* गर्भपात ... गर्भावस्था में खून का बहना और गर्भपात होने के लक्षण दिखाई दें तो तुरन्त ही गूलर की छाल 5 से 10 ग्राम की मात्रा में अथवा 2 से 4 गूलर के फल को पीसकर इसमें चीनी मिलाकर दूध के साथ पीएं। जब तक रोग के लक्षण दूर न हो तब तक इसका प्रयोग 4 से 6 घंटे पर उपयोग में लें।
* गूलर की जड़ अथवा जड़ की छाल का काढ़ा बनाकर गर्भवती स्त्री को पिलाने से गर्भस्राव अथवा गर्भपात होना बंद हो जाता है।
* भगन्दर के लिए गूलर के दूध में रूई का फोहा भिगोंकर इसे नासूर और भगन्दर के ऊपर रखें और इसे प्रतिदिन बदलते रहने से नासूर और भगन्दर ठीक हो जाता है।
* खूनी बवासीर के लिए गूलर के पत्तों या फलों के दूध की 10 से 20 बूंदे को पानी में मिलाकर रोगी को पिलाने से खूनी बवासीर और रक्तविकार दूर हो जाते हैं। गूलर के दूध का लेप मस्सों पर भी लगाना लाभकारी है।
* 10 से 15 ग्राम गूलर के कोमल पत्तों को बारीक पीसकर चूर्ण बना लें। 250 ग्राम गाय के दूध की दही में थोड़ा सा सेंधानमक तथा इस चूर्ण को मिलाकर सुबह-शाम सेवन करने से खूनी बवासीर के रोग में लाभ मिलता है।
* आंव (पेचिश) के लिए 5 से 10 ग्राम गूलर की जड़ का रस सुबह-शाम चीनी मिले दूध के साथ सेवन करने से आमातिसार (पेचिश) ठीक हो जाता है।
* बताशे में गूलर के दूध की 4-5 बूंदे डालकर रोगी को खिलाने से आमातिसार (आंव) ठीक हो जाता है।
* गूलर के पके फल खायें इससे पेचिश रोग ठीक हो जाता है।
* गूलर को गर्म जल में उबालकर छान लें और इसे पीसकर रोटी बना लें फिर इसे खाएं इससे पेचिश में लाभ होता है |
* दस्त के लिए ...दस्त और ग्रहणी के रोग में 3 ग्राम गूलर के पत्तों का चूर्ण और 2 दाने कालीमिर्च के थोड़े से चावल के पानी के साथ बारीक पीसकर, उसमें कालानमक और छाछ मिलाकर फिर इसे छान लें और इसे सुबह-शाम सेवन करें इससे लाभ मिलेगा।
* गूलर की 10 ग्राम पत्तियां को बारीक पीसकर 50 मिलीलीटर पानी में डालकर रोगी को पिलाने से सभी प्रकार के दस्त समाप्त हो जाते हैं।
* बच्चों का आंव....गूलर के दूध की 5-6 बूंदे चीनी के साथ बच्चे को देने से बच्चों के आंव ठीक हो जाते हैं।
* विसूचिका....विसूचिका (हैजा) के रोगी को गूलर का रस पिलाने से रोगी को आराम मिलता है।
* रक्तपित्त (खूनी पित्त) के लिए पके हुए हुए गूलर, गुड़ या शहद के साथ खाना चाहिए अथवा गूलर की जड़ को घिसकर चीनी के साथ खाने से लाभ मिलेगा और रक्तपित्त दोष दूर हो जाएगा।
* हर प्रकार के रक्तपित्त में गूलर की छाल 5 ग्राम से 10 ग्राम तथा उसका फल 2 से 4 ग्राम तथा गूलर का दूध 10 से 20 मिलीलीटर की मात्रा के रूप में सेवन करने से लाभ मिलता है।
* फोड़े पर गूलर का दूध लगाकर उस पर पतला कागज चिपकाने से फोड़ा जल्दी ठीक हो जाता है।
* शरीर के अंगों में घाव होने पर गूलर की छाल से घाव को धोएं इससे घाव जल्दी ही भर जाते हैं।
* गूलर के पत्तों को छांया में सूखाकर इसे पीसकर बारीक चूर्ण बना लें। इसके बाद घाव को साफ करकें इसके ऊपर इस चूर्ण को छिड़के तथा इस चूर्ण में से 5-5 ग्राम की मात्रा सुबह तथा शाम को पानी के साथ सेवन करें इससे लाभ मिलेगा।
* गूलर के दूध में बावची को भिगोंकर इसे पीस लें और 1-2 चम्मच की मात्रा में रोजाना इससे घाव पर लेप करें इससे घाव जल्दी ही ठीक हो जाते हैं।
* गूलर के पत्तों को पानी के साथ पीसकर शर्बत बनाकर पीने से मधुमेह रोग में लाभ मिलता है।
* गूलर के ताजे फल को खाकर ऊपर से ताजे पानी पीये इससे मधुमेह रोग में आराम मिलता है।
* शीतला (चेचक) के लिए गूलर के पत्तों पर उठे हुए कांटों को गाय के ताजे दूध में पीसकर इसमें थोड़ी सी चीनी मिलाकर चेचक से पीड़ित रोगी को पिलाये इससे उसका यह रोग ठीक हो जाएगा।
* भिलावें की धुएं से उत्पन्न हुई सूजन को दूर करने के लिए गूलर की छाल को पीसकर इससे सूजन वाली भाग पर लेप करें।
* शरीर के किसी भी अंग पर गांठ होने की अवस्था में गूलर का दूध उस अंग पर लगाने से लाभ मिलता है।
* पेशाब अधिक आना....1 चम्मच गूलर के कच्चे फलों के चूर्ण को 2 चम्मच शहद और दूध के साथ सेवन करने से पेशाब का अधिक मात्रा में आने का रोग दूर हो जाता है।
* पेशाब के साथ खून आना....पेशाब में खून आने पर गूलर की छाल 5 ग्राम से 10 ग्राम या इसके फल 2 से 4 लेकर पीस लें और इसमें चीनी मिलाकर दूध के साथ खायें इससे यह रोग पूरी तरह से ठीक हो जाता है।
* मूत्रकृच्छ (पेशाब करने में कष्ट या जलन) होना....प्रतिदिन सुबह गूलर के 2-2 पके फल रोगी को सेवन करने से मूत्रकच्छ (पेशाब की जलन) में लाभ मिलता है।
* गूलर के 8-10 बूंद को 2 बताशों में भरकर रोजाना सेवन करने से मूत्ररोग (पेशाब के रोग) तथा पेशाब करने के समय में होने वाले कष्ट तथा जलन दूर हो जाती है।
* मधुमेह के लिए 1 चम्मच गूलर के फलों के चूर्ण को 1 कप पानी के साथ दोनों समय भोजन के बाद नियमित रूप से सेवन करने से पेशाब में शर्करा आना बंद हो जाता है। इसके साथ ही गूलर के कच्चे फलों की सब्जी नियमित रूप से खाते रहना अधिक लाभकारी होता है। मधुमेह रोग ठीक हो जाने के बाद इसका सेवन करना बंद कर दें।
* दांतों की मजबूती के लिए गूलर की छाल के काढे़ से गरारे करते रहने से दांत और मसूड़ों के सारे रोग दूर होकर दांत मजबूत होते हैं।
* कंठमाला (गले में गिल्टी होना)....गूलर के पत्तों पर उठे हुए कांटों को पीसकर इसे मीठे या दही मिला दें और इसमें चीनी मिलाकर रोजाना 1 बार सेवन करें इससे कंठमाला के रोग से मुक्ति मिलती है।
* खांसी के लिए रोगी को बहुत तेज खांसी आती हो तो गूलर का दूध रोगी के मुंह के तालू पर रगड़ने से आराम मिलता है।
* गूलर के फूल, कालीमिर्च और ढाक की कोमल कली को बराबर मात्रा में लेकर पीसकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण में 5 ग्राम शहद में मिलाकर रोजाना 2-3 बार चाटने से खांसी ठीक हो जाती है।
* नाक से खून बहना .....पके गूलर में चीनी भरकर घी में तलें, इसके बाद इस पर काली मिर्च तथा इलायची के दानों का आधा-आधा ग्राम चूर्ण छिड़कर प्रतिदिन सुबह के समय में सेवन करें तथा इसके बाद बैंगन का रस मुंह पर लगाएं इससे नाक से खून गिरना बंद हो जाता है।
* गूलर का पेड़, शाल पेड़, अर्जुन पेड़, और कुड़े के पड़े की पेड़ की छाल को बराबर मात्रा में लेकर पानी के साथ पीसकर चटनी बना लें। इन सब चीजों का काढ़ा भी बनाकर रख लें। इसके बाद इस चटनी तथा इससे 4 गुना ज्यादा घी और घी से 4 गुना ज्यादा काढ़े को कढ़ाही में डालकर पकाएं। पकने पर जब घी के बराबर मात्रा रह तो इसे उतार कर छान लें। अगर नाक पक गई हो तो इस घी को नाक पर लगाने से बहुत जल्दी आराम मिलता है।
* रक्तस्राव (खून का बहना)...नाक से, मुंह से, योनि से, गुदा से होने वाले रक्तस्राव में गूलर के दूध की 15 बूंदे 1 चम्मच पानी के साथ दिन में 3 बार सेवन करने से लाभ मिलता है।
* शरीर में कहीं से भी किसी कारण से रक्तस्राव (खून बहना) हो रहा हो तो गूलर के पत्तों का रस निकालकर वहां पर लगाएं इससे तुरन्त खून का आना बंद हो जाता है।
* मुंह में छाले हो अथवा खून आता हो या खूनी बवासीर हो तो 1 चम्मच गूलर के दूध में इतनी ही पिसी हुई मिश्री मिलाकर रोजाना खाने से रक्तस्राव (खून बहना) होना बंद हो जाता है तथा इसके सेवन से मुंह के छाले भी ठीक हो जाते हैं।
* चोट लगने पर खून का बहना...गूलर के पत्तों का रस चोट लगे हुए स्थान पर लगने से खून बहना रुक जाता है।
* गूलर के रस को रूई में भिगोकर इसे चोट पर रखकर पट्टी बांध लें इससे चोट जल्दी भरकर ठीक हो जाएगा।
* शिशु का दुबलापन...गूलर का दूध कुछ बूंदों की मात्रा में मां या गाय-भैंस के दूध के साथ मिलाकर नियमित रूप से कुछ महीने तक रोजाना 1 बार बच्चों को पिलाने से शरीर हृष्ट-पुष्ट और सुडौल बनाता है लेकिन गूलर के दूध बच्चों उम्र के अनुसार ही उपयोग में लेना चाहिए।
* सूखा (रिकेट्स) रोग....5 बूंद गूलर के दूध को 1 बताशे पर डालकर इसका सेवन बच्चों को कराएं इससे सूखा रोग (रिकेटस) ठीक हो जाता है।
* बच्चों के गाल पर सूजन होना...बच्चों के गाल की सूजन को दूर करने के लिए उनके गाल पर गूलर के दूध का लेप करें इससे लाभ मिलेगा।
* बिच्छू का जहर...जहां पर बिच्छू ने काटा हो उस स्थान पर गूलर के अंकुरों को पीसकर लगाए इससे जहर चढ़ता नहीं है और दर्द से आराम मिलता है।
* आग से जलने पर ...जलने पर गूलर की हरी पत्तियां पीसकर लेप करने से जलन दूर हो जाती है।
* गूलर के पत्तों को पीसकर शरीर के जले हुए भाग पर लगाने से जलन मिट जाती है और छाले के निशान भी नही पड़ते।
* दमा के लिए गूलर की पेड़ की छाल उतारकर छाया में सुखा लें और फिर इसे पीसकर चूर्ण बना लें और फिर इसे छानकर बोतल में भरकर ढक्कन लगाकर रख दें। इसमें से चूर्ण का सेवन प्रतिदिन करने से दमा रोग में लाभ मिलता है।
* सितम्बर से मार्च तक की हर पूर्णमासी की रात में जितना खीर खा सकें, उतने दूध में चावल (इस खीर में अरबा चावल उत्तम माने जाते हैं) डालकर खीर बनाएं। इस खीर को कांसे की थाली में डालकर फैलाकर, इस पर ढाई चम्मच गूलर की छाल का चूर्ण चारो और छिड़क दें। खीर रात को नौ बजे तक तैयार कर लें। इसे रात को नौ बजे से सुबह के चार बजे तक खुले स्थान पर चांदनी में रखें। सुबह चार बजे के तुरन्त बाद इसे भर पेट खा लें। खीर खाने से पहले मंजन करके मुंह को साफ कर लें। आम के हरे पत्ते से खीर खाएं। इसके बाद धीरे-धीरे थकान नहीं हो तब तक घूमते रहें। इससे दमा रोग में लाभ मिलता है।
* जिगर का रोग के लिए 10 ग्राम की मात्रा में #जंगली गुलर की जड़ की छाल पीसकर गाय के मूत्र में मिला लें और इसे छानकर 25 ग्राम की मात्रा में रोजाना पीने से से यकृत वृद्धि खत्म जाती है।
* वमन (उल्टी) के लिए गूलर के दूध की 10 बूंदे सुबह और शाम दूध में मिलाकर बच्चों को पिलाने से बच्चों को उल्टी आना बंद हो जाता है।

 

Vote: 
0
No votes yet

आप भी अपने लेख फिज़िका माइंड वेबसाइट पर प्रकाशित कर सकते है|

आप अपने लेख WhatsApp No 7454046894 पर भेज सकते है जो की पूरी तरह से निःशुल्क है | आप 1000 रु (वार्षिक )शुल्क जमा करके भी वेबसाइट के साधारण सदस्य बन सकते है और अपने लेख खुद ही प्रकाशित कर सकते है | शुल्क जमा करने के लिए भी WhatsApp No पर संपर्क करे. या हमें फ़ोन काल करें 7454046894

 

 

 

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 23,176 56
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 32,807 46
सुबह उठकर नींबू पानी पीने के और भी फायदे हैं 37 19
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 3,492 17
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 16,286 17
पीलिया कैसा भी हो जड़ से खत्म करेंगे 1,605 16
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 4,547 16
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 1,880 15
झाइयां होने के कारण 868 14
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 422 14
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 3,650 13
जामुन के गुण 700 13
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 2,265 12
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 1,961 11
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 2,123 10
क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए 780 10
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 11,782 9
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 1,252 9
मौसमी का जूस पीने के फायदे 1,957 9
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 211 9
गूलर लंबी आयु वाला वृक्ष है 2,585 8
तिल तथा मस्से हटाने के आसान घरेलू उपचार 7,843 8
मियादी बुखार का कारण क्या है 1,984 8
जानिये कितना होना चाहिए आपका कोलेस्ट्रॉल और कब शुरू होती है इससे परेशानी 996 8
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 3,707 8
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 1,647 7
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 1,632 7
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 13,765 7
रस्सी कूदें, वज़न घटाएं 890 7
सप्ताह में इतनी बार सेक्स करना जरूरी है 2,836 7
बड़ी उम्र की महिलाओं से डेटिंग के टिप्स 1,023 7
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 813 6
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 1,809 6
गुप्तांगो या बगलों के बालों की सफाई का महत्व 7,885 6
झुर्रियां दूर करने के घरेलू उपाय 142 6
हल्दी का प्रयोग आप को करे निरोग 1,059 6
एड़ियों के दर्द से छुटकारा दिलाते हैं ये घरेलू नुस्खे 460 6
सुबह का नाश्ता राजा की तरह, दोपहर का भोजन राजकुमार की तरह और रात का भोजन भिखारी की तरह करना चाहिए।’ 2,274 6
रात में दूध पीने के फायदे 562 6
पेट कम करना सबसे चुनौतीपूर्ण है इसलिए 178 5
पेट फूलना, गैस व खट्टी डकार से तुरंत राहत दिलाने उपचार के 907 5
कम उम्र में सफेद हुए बालों को काला करे 639 5
टांसिल्स से बचने के घरेलु उपाय 507 5
ब्रेस्ट कम कैसे करे- एक्सर्साइज़ टिप्स 700 5
जामुन के गुण और फायदे 1,228 5
सेक्स एडिक्शन - बड़ी समस्या है. 296 5
आधे सर का दर्द और उसका इलाज 568 5
नवजात शिशु की देखभाल कैसे करें 283 5
पेशाब में आ रहा है झाग तो हो जाये सावधान 83 5
टीबी से कैसे करें बचाव, क्या हैं लक्षण, जानें सब. 1,349 4
सोने से पहले नहीं करें इन चीजों का सेवन: 30 4
पीलिया होने पर करें घरेलु उपाय 255 4
माइग्रेन के दर्द से राहत देता है ये आहार 642 4
स्वस्थ रहने की 10 अच्छी आदतें 284 4
मिठाई में इस्तेमाल होने वाला चांदी का वर्क असली है या नकली 73 4
गर्भावस्था में लें सही आहार 548 4
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 925 4
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 241 4
गोरी और सफेद त्वचा के लिए घरेलू नुस्खे 3,056 4
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 448 4
शल्य क्रिया से स्तनों का आकार घटाने का तरीका 1,340 4
जीभ हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में बताती है जैसे 808 3
नींबू केस्वास्थ्यवर्धक घरेलु उपाय 40 3
दूध में डिटर्जेंट की जाँच करने के उपाय 1,577 3
कसरत के लिए कौन सा टाइम बेस्ट है? 439 3
पेट की गैस के घरेलू उपचार 179 3
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 2,230 3
आखों के काले घेरे दूर करिये 463 3
सुबह उठ कर खाली पेट कैसे पानी पीना चाहिए 580 3
मसूड़ों में रक्त स्राव को रोकने के लिए कारण और उपचार 310 3
पेट दर्द और पेट में मरोड़ का कारण, लक्षण और उपचार आइए जानें 716 3
लकवा (पैरालिसिस): लक्षण और कारण 167 3
चेहरे का ऐसा दर्द देता है इस गंभीर बीमारी के संकेत, जानें लक्षण और बचाव 262 3
चने खाने के फायदे 1,237 3
पंचकर्म क्या होता है 116 3
क्या है आई वी एफ की प्रक्रिया, जानें 206 3
लीवर इज़ार्ज इस रोग का कारण और उपचार करें और जानें 127 3
स्वास्थ्य शिक्षा कैसे 195 3
स्प्राउट्स- सेहत को रखे आहार भरपूर 897 3
टी .बी से बचाब के घरेलु तरीके 242 3
गन्ने के जूस के फायदे 387 3
ख़तरनाक है सेक्स एडिक्शन 3,372 3
जानिये कोलेस्ट्रॉल की सच्चाई दोस्तोँ 151 3
पीलिया होने पर घरेलु इलाज 309 3
रोजाना भीगे हुए चने खाने के हैं कई फायदे, जानिए और स्वस्थ्य रहिए.... 1,727 3
होठों की क्या ज़रूरत है 1,789 3
सभी प्रकार के घावों में कारगर है लेड 650 3
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 866 3
भरे हुए होंठ और जवानी में सम्बन्ध 1,510 3
हाइड्रोसील के कारण लक्षण और इलाज इस प्रकार है जानिए 909 3
बिना सर्जरी स्तन छोटे करने के उपाय 1,238 3
ब्लैक कॉफी पीने के फायदे 1,949 3
एनीमिया की शिकार महिलाओं के लिए चुकंदर आत्याधिक लाभदायक 401 3
टाइफाइड में लिए दिए जाने वाले आहार 632 2
फिटकरी के घरेलू उपाय, . 144 2
मूड खराब है तो अपनाएं ये टिप्स 393 2
आहार और कसरत मधुमेह को रखता है दूर 420 2
आयुर्वेद में गाय के घी को अमृत समान बताया गया है 2,608 2
अस्थमा के घरेलू उपचार 108 2
योगासन से लाभ 732 2
घर पर कैसे बनाएं – एगलैस चॉकलेट केक आइये जानें 394 2
जल्‍दी पिता बनने के लिए एक घंटे में करें दो बार सेक्‍स 4,082 2
निम्बू है कई बिमारियों का इलाज 437 2
सिरदर्द दूर करने के कारगर उपाय 1,490 2
नवरात्रि ब्रत किस राशि के लिएशुभ किस के लिए अशुभ 229 2
क्या शारीरिक फिटनेस के बगैर मानसिकविकास सम्भव है ? 2,044 2
काली मिर्च के फायदे 53 2
अगर आप अंधेरे में यूज करते हैं स्मार्टफोन, सावधान ! 201 2
लड़कियों को 'इन दिनों' यौन संबंध बनाने में आता है सबसे अधिक आनंद 4,088 2
अपनी आखों की करें सही देखभाल 248 2
किडनी को ख़राब करने वाली है ये आदतें……. 1,014 2
सर्दियों में जुकाम और नाक से पानी आने को दूर करनें के लिए पिये गर्म पानी और भी चीजो का प्रयोग करें आइये जानें 448 2
व्रत से जुड़ी गलतफहमियां 624 2
सेहत के लिए कितनी खतरनाक है ब्रेड 3,366 2
हड्डी टूटने पर घरेलु उपचार 466 2
गर्म चाय पीने से रहे अधिक सावधान 399 2
मटर की खेती 89 2
सिर दर्द को चुटकियों में दूर करता है सिर्फ '1 नींबू' करके देखे प्रयोग 199 2
पैरों में दर्द के लिए घरेलू उपचार 449 2
थायराइड की समस्या और घरेलु उपचार 848 2
माँ का दूध बढ़ाने के तरीके 3,340 2
टूथपेस्‍ट से इस तरह करें प्रेगनेंसी का टेस्‍ट 223 2
कब्‍ज के उपचार के घरेलू उपाय 814 2
हार्ट अटैक से बचना है तो रोज़ पीजिये 3 से 5 बार कॉफी: शोध 1,900 2
खुश रहने के लिये खूब खाएं फल और सब्‍जियां 1,549 2
पेट बाहर है उसे अंदर करने के तरीके 1,128 2
कैंसर, बीमारी नहीं बिजनेस है, जानें चौंकाने वाला सच 167 2
मौसमी को खाने और मौसमी के जूस को पीने के फायदे और नुकसान 513 2
अपनी आँखों को रखे हमेशा सलमात 711 2
क्यों मच्छर के काटने पर खुजली होती है जानिए 474 2
गले में सूजन और दर्द, लिम्फोमा कैंसर के हो सकते हैं संकेत 336 2
स्तन घटाने के उपाय, तरीके और टिप्स 1,248 2
फल और सब्जियों के 'रंगों' में छिपा है हमारे स्‍वास्‍थ्‍य का राज 753 2
बच्‍चों के मानसिक विकास के लिए रोजाना खिलाएं ये 5 आहार 300 2
लौंग के तेल के फायदे जानकर रह जायेंगे हैरान 404 2
ब्रेस्ट साइज़ कैसे करे कम| घरेलू नुस्खे| 908 2
बाल अधिक झड़ते है तो अपनाये यह तरीका 415 2
दिमाग को तेज कैसे बनाये 384 2
कमर में दर्द ह तो करें ये कारगार उपाय 251 2
नीम और उसके फायदे 646 2
तरबूज खाने के फायदे 121 2
ब्‍लड ग्रुप के अनुसार कैसा होना चाहिये आपका आहार 1,669 2
रक्तदान से होने वाले फायदे 48 2
अचानक बढ़ जाती है दिल की धड़कन तो हो सकती है ये खतरनाक बीमारी 396 2
साधारण से खूबसूरत लगने के उपाय 2,495 2
ब्रेन ट्यूमर के उपाय 302 2
मूंग की खेती इस प्रकार करें 412 2
प्याज का सेवन करे दूर बिमारी 170 2
सेब खाने के फायदे 105 2
अपने दांतों की देखभाल और उनको रखे दूध जैसे चमकीले तथा स्वच्छ 579 2
फिट रहना है तो रात में कम, सुबह ज्यादा खाएं 332 2
गर्मियोंमें कैसे रखे त्वचा का ख्याल 150 2
जानिए अनार का जूस पीने के और अनार को खाने के फायदे 655 2
जानिए क्या हैं हृदय रोग के लक्षण 253 1
सीने में जलन से तुरंत छुटकारा दिलाते हैं ये 10 सस्‍ते घरेलू नुस्‍खे 224 1
स्त्री यौन रोग (श्वेत प्रदर) के लिए औषधि ॥ 469 1
सर्दियों में अपने पैरों को रखें सॉफ्ट 1,348 1
व्रत में खाई जाने वाली चीजें 270 1
सुन्दर दिखें बिना पार्लर जाये 1,616 1
पेट में दर्द तथा पेट फूलना 397 1
उम्र के अंतर का संबंधों पर प्रभाव 779 1
जानें आपके पैरों में झुनझुनाहट क्यों होती है और आपकी सेहत के बारे में क्या कहते हैं! 350 1
हर तरह की खुजली से राहत दिलाते हैं ये घरेलू उपचार इस प्रकार करे पयोग 941 1
इंसानी दूध पीने को लेकर ब्रिटेन में चेतावनी 5,570 1
पेट दर्द और पेट में मरोड़ का कारण, लक्षण और उपचार आइए जानें 81 1
तेजी से बढ़ रहा बोतल से दूध पिलाने का प्रचलन 1,249 1
छाती को कम करने के उपाय एरोबिक्स से 544 1
हाइड्रोसेफेलस है गंभीर मानसिक बीमारी, जानें इसके लक्षण और उपचार 231 1
माइग्रेन के दर्द से बचाता है ये आहार 537 1
टाइम पत्रिका की स्तनपान वाली तस्वीर पर विवाद 744 1
साइकिल चलाने के चमत्कारी फायदे 321 1
पैरो में सूजन है तो करें ये उपाय 303 1
हार्मोन और स्किन को नुकसान पहुंचाते हैं ये आहार 228 1
रिश्तों से जुड़ीं ये 5 हैरान करने वाली बातें, जरूर जानिए 806 1
पोषाहार क्या है जानिए 354 1
सेहत पर बहुत बुरा असर डालती है गेम खेलने की लत, ऐसे पाएं छुटकारा 124 1
स्किन कैंसर से नहीं बचा सकते सन्सक्रीन 454 1
बालों को स्‍ट्रेट करने के प्राकृतिक उपाय 70 1
मूंगफली खाने के आत्याधिक फायदे 467 1
ये चीजें बताएंगी आपके प्यार की गहराई 612 1
दांतों को सफेद रखने के घरेलू उपाय 211 1
डायबिटीज का प्राकृतिक इलाज हैं आम के पत्ते, जानें कैसे? 216 1
दही खाने के बेहतरीन फायदो और खूबियों के बारे में जानें क्या हैं 596 1
हार्ट अटैक के कारण 27 1
सेब खाने के फायदे 655 1
कलौंजी एक फायदे अनेक : कलयुग में संजीवनी है कलौंजी (मंगरैला) 201 1
कमर पतली बनाने के लिए करें अतिसरल सुझाव और जाने इसको बनाने के तरीके 318 1
गुड़ और मूंगफली खाना सेहत और स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद 446 1
हाई बीपी और माइग्रेन में फायदेमंद है मेंहदी 561 1
मुहांसे दूर करने के नुस्खे 714 1
बेबी के सामने टीवी और मोबाइल का इस्तेमाल हो सकता है सेहत के लिए खतरनाक 461 1
स्तनों का ढीलापन दूर करने के घरेलू नुस्खे 5,248 1
खून की कमी होने पर करें उपाय 369 1
आटिज्म: समझें बच्चों को और उनकी भावनाओं को 329 1
चेहरें पर सूजन हो तो करें ये उपाय 218 1
वजन कम करने के फायदे, जानकर रहे जायगे हैरान 666 1
आंखों की रोशनी बढ़ाने के घरेलू उपाय 145 1
जानिये रक्तचाप से कैसे प्रभावित होता है आपका शरीर और कैसे करें इसे कंट्रोल 120 1
मोटापे से कमज़ोर होती है याददाश्त? 431 1
क्‍या सोते समय ब्रा पहननी चाहिये ? 10,105 1
अधिक मुहांसो से परेशान है तो उनको दूर करने के नुस्खे 344 1
लड़कियों की शर्ट में पॉकेट क्यों नहीं होती ! आखिर क्या हैं राज 1,316 1
मखाना की खेती 150 1
सर्दियों में कम पानी पीने से ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ सकता है 326 1
सोशल फोबिया के लक्षण 316 1
ताई ची सीखें सेहतमंद रहें 171 1
एंटीबायोटिक दवाओं से अधिक गुण है लहसुन में! 516 1
क्या है स्लीप डिस्ऑर्डर 241 1
मोती जैसे सफेद दांत पाने के लिए ट्राई करें ये 5 घरेलू उपाय 1,617 1
वीडियो गेम खेल कर दूर हो सकता है डिप्रेशन 1,570 1
अपने दातो की देखभाल कैसे करें 195 1
डिफ्थीरिया के कारण, लक्षण और उपचार 151 1
सामान्य बीपी में भी ज्यादा नमक होता है खतरनाक 396 1
घमौरियों से छुटकारा पाने के आयुर्वेदिक उपाय 243 1
डायरिया होने पर अपनाएं घरेलू उपचार! 324 1
खीरा सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है 165 1
आत्मा के लिए चुनें पर्दे इस प्रकार 273 1
गर्मियों में हृदय को दे सुरक्षा 491 1
अब लीजिए दिमाग़ का बैक-अप 1,206 1
दिमागी दौरा या ब्रेन स्ट्रोक से पाएं छुटकारा 588 1
कॉफी बना सकता है आपको बहरा 1,404 1
सेक्‍स करने से लोगों को होते हैं ये 10 फायदे 2,589 1
मूड खराब को अच्छा मूड बनाने के टिप्स 414 1
हड्डियों को मजबूत करते हैं ये 249 1
खासी का काढ़ा 297 1
तुलसी का काढ़ा फायदा ही फायदा 1,427 1
डार्क सर्कल को दूर करने के घरेलू नुस्खों 2,200 1
पायरिया के लक्षण और कारण 250 1
खाने से पहले या ठीक बाद में फल खाना क्यों है गलत? 602 1
ल्यूकेमिया: लक्षणों को जानिये यह क्या है 192 1
गुर्दे की बीमारियों की चपेट में अब युवा भी 176 1
ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण क्‍या हैं? 2,708 1
किस उम्र में न रखें व्रत 180 1
अनार का जूस स्वस्थ के लिए किस प्रकार फयदेमद 348 1
शहद में छिपा है सेहत का राज़ 264 1
अपनी आँखों की देखभाल कैसे करें 168 1
क्या है आई वी एफ की प्रक्रिया, जानें 353 1
, जॉब करते समय बच्चों का रखे ध्यान आइये जाने बच्चों की परवरिश कैसे करें 261 1
कैविटी का है कारगर इलाज 609 1
एडियाँ फटने पर करे उपाय 435 1
गन्ने के रस में है कैंसर से लड़ने की ताकत 385 1
गले में मछली का कांटा फंस जाए तो करें ये काम 259 1
कान में दर्द है तो करें ये उपाय 175 1
अब नारियल बतायेगा ब्लड ग्रुप 2,497 1
ब्रेस्ट कम करने के उपाय 993 1
जौ के इस उबटन से पुरूषों का चेहरा दिखेगा गोरा 307 1
बच्चों में टाइफाइड बुखार होने के कारण 655 1
कॉफी: फायदा या नुकसान? 871 1
आखें लाल हो तो करें ये उपाय 490 1
बादाम खाएं ,मोटापा,कोलेस्ट्रोल घटाएं और भी फायदे पाये 432 1
प्रदूषण से बचने और बालों को बचाने है तो अपनाएं ये नुस्खे 312 0
टमाटर खाने के फायदे 136 0
बेसन त्वचा से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करता है 293 0
सावधान! प्रेग्नेंट हैं, तो दूर रहें माइक्रोवेव और मोबाइल से 404 0
हर 4 में से 1 भारतीय बच्चे को है डिप्रेशन! 185 0
जोड़ो में दर्द है तो करें ये उपाय 423 0
ब्रेस्ट का आकार कैसे कम करें माइक्रो लिपो से 486 0
कई गुणों से भरपूर है हल्दी, जानिए इसके फायदे 173 0
जानिए पेट दर्द के होने के कारण 389 0
पुरूषों को बुढ़ापे तक स्‍वस्‍थ रखेंगी उनकी ये 5 अच्‍छी आदतें 304 0
हाइपरटेंशन या उच्च रक्तचाप 140 0
अमरुद खाने के फायदे 83 0
हर समय खुद के बारे में सोचना और बुदबुदाना हो सकती है मानसिक बीमारी 316 0
कोल्‍ड और फ्लू से लड़ने में मददगार हैं ये फल आइये जानें 316 0
पीठ दर्द से मिलेगा तुरंत छुटकारा 200 0
डायरिया होने पर करें घरेलु उपाय 245 0
दिमागी ताकत व तरावट लानेवाला प्रयोग 197 0
नींद में चलना 223 0
बड़ी उम्र की महिला से डेटिंग के टिप्‍स 780 0
मस्सा या तिल हटाना 188 0
ऑस्टियोआर्थराइटिस में इन 5 आहारों के सेवन से बढ़ जाते हैं दर्द और सूजन 240 0
स्वास्थ्य क्या है जाने और एक प्रकार के विज्ञान की तरह 122 0
हाइपर थाइरोइड में शंखपुष्पी का प्रयोग। 769 0
गाजर खाने के फायदे 101 0
जानें शंखपुष्‍पी स्‍वास्‍थ्‍य के लिए कितनी फायदेमंद है प्रयोग करें 474 0
गर्भावस्था के बाद महिलाएं अपनाएं ऐसी डाइट, नहीं होगी कमजोरी 283 0
पियें मेथी का पानी और दूर करें बीमार जिंदगी 4,689 0
टांसिल बढ़ना : : 224 0
धूम्रपान स्वास्थ्य के लिये हानिकारक है इससे दिमाग को अत्याधिक नुकसान होता है 550 0
तरबूज खाने के फायदे 179 0
डायबिटीज से आंखों को होता है डायबिटिक रेटिनोपैथी का खतरा, जानिये इसके लक्षण 247 0
उच्च रक्तचाप की बीमारी ठीक करने के लिए 418 0
आम खाने के फायदे 106 0
दही दूर कर सकता है अपके पैरों का फंगल इंफेक्शन 177 0
एक माँ का अपने बच्चों के साथ सोना कितना जरूरी है आइए जानें इस प्रकार 302 0
पेट दर्द या मरोड़ का कारण व उपचार 159 0
प्रेग्नेंट होने,पर दूर रहें माइक्रोवेव और मोबाइल से 303 0
डायबिटीज यानि कि मधुमेह आजकल एक बहुत जटिल और गंभीर रोग बन कर उभर रहा है। 244 0
अखरोट खाने के कौन - कौन से फायदे और नुकसान होते है 766 0
भूलकर भी किसी दिन Skip ना करें भोजन, होते है ये खतरनाक बदलाव 382 0
याद्दाश्‍त खोना ही नहीं, ये लक्षण भी हैं अल्‍जाइमर के संकेत 179 0
तेजपत्ते में होते हैं ये औषधीय गुण 195 0
कड़वे अनुभव से दूर रहना है तो खाएं मीठी नीम 477 0
चन्द्र ग्रहण पर राशियों पर पड़े प्रभाव को कैसे कम करें 391 0
बच्चों में खाने की अच्छी आदतें विकसित करें 188 0
बढती उम्र में झुरियों को कैसे कम करें 277 0
सेक्स सरदर्द की सबसे अच्छी दावा है 425 0
एक साथी के साथ रहना नहीं है इंसानों की फितरत 466 0
रोज करें ये 2 काम, डायबिटीज से हमेशा के लिए मिलेगा छुटकारा 229 0
बेल खाने के फायदे जानकर रहें जायगे हैरान 603 0
बच्चे के कान के पीछे शंकु का समाधान 478 0
शयनकक्ष में बहुत रोशनी बढ़ा सकती है मोटापा 474 0
ज़्यादा ड्रिंकिंग की लत से कैसे निजात पाएं 139 0
सोने के समय ये करें ये बिल्कुल न करें 386 0
नवमी पूजा कब और शुभ मुहूर्त 381 0
पैर के दर्द का घरेलू उपचार 250 0
वेलेंटाइन डे के पहले कैसे पाएं साफ और गोरी त्‍वचा 1,419 0
भूने चने के साथ गुड़ खाने से मिलतें हैं ये अनेक फायदे 414 0
दोस्त बनाने के सबसे आसान तरीके 1,206 0
एपेंडिसाइटिस करें निर्धारित, कुछ उपयोगी टिप्स 178 0
केले खाने के फायदे 76 0
रात में बार-बार भूख लगने की आदत, इस गंभीर बीमारी का है संकेत 246 0
कब्ज को करें गुडबाय 232 0
लेसिक आई सर्जरी के फायदे और नुकसान 217 0
आखें लाल होने पर क्या उपाय करें 450 0
मखाना खाने के जादुई प्रभाव 2,093 0
आयुर्वेद के अनुसार त्वचा तीन प्रकार कि होती है। 177 0
कैंसर से बचने के घरेलु उपाय 240 0
शाकाहारी भोजन आपकी सर की रूसी दूर करने में सहायक होगा 121 0
लाल लकीर वाली दवाए बिना डॉ की सलाह के कभी न लें 1,334 0
लोकस्वास्थ्य क्या है जानें 100 0
आखों में जलन हो तो करें ये कारगार उपाय 210 0
महिलाओं में हार्टअटैक इस प्रकार जानें 172 0
हाई ब्लड प्रेशर के कारण खो सकती है आपकी याददाश्त, जानें क्यों? 203 0
ऐसी बातों से बिगड़ता है हार्मोन संतुलन, जन्म लेते हैं बुरे लक्षण.. 88 0
डिप्रेशन या किसी मानसिक विकार के कारण 172 0
स्मार्टफ़ोन बिगाड़ रहा है आंखों की सेहत जानिए कैसे 296 0
पार्टी के लिए क्विक मेकओवर करना है तो अपनाएं ये टिप्स 134 0
1अनार सौ बीमार नहीं, सौ फायदे कहिए जनाब 376 0
कमर की चर्बी कम करने के लिये पीजिये ढेर सारा पानी 1,201 0
पुरुषों की अपेक्षा ज्यादा समय तक जीवित रहती हैं महिलाएं आइये जानें कैसे 209 0
अनार की खेती 456 0
इम्सोम्निआ (अनिन्द्रा) से निपटने के कारगर तरीक़े 117 0
इस पॉपुलर डाइट का सेवन करने वाले लोग हो सकते हैं अंधे, जानिए बचने के उपाय 351 0
साबुन या फ़ेसवॉश से त्वचा रूखी होती है 160 0
ब्लड प्रेशर को कैसे रखें नियंत्रित 224 0
बेटी की बिदाई- मां के लिए बड़ी चुनौती है इस प्रकार 419 0
पालक की खेती 67 0
बोर्ड परीक्षा के दौरान बच्‍चे करें ये 2 आसान काम, तनाव रहेगा कोसों दूर 193 0
बालों का रंग पैलेट कैसे करें जानिए इस प्रकार 187 0
प्रकृति के नियम​ 106 0
आप अपने घर पर बालों में मेंहदी कैसे लगाए, मेंहदी लगाने के फायदे जानकर हैरान रह जायगे 470 0
यौन संबंध के दौरान दर्द का सच क्या है? 532 0
क्रीम का कम प्रयोग करने से त्वचा रूखी हो जाती है 167 0
पत्नी को क्यों पिलाएं कलौंजी वाला दूध ? 203 0
गाजर है ब्रेस्ट कैंसर से बचाव का बेहतर उपाय 215 0
जल्द घसीटना शुरू कर देते है शीतकाल में जन्म लेने वाले बच्चे 338 0
हार्ट फेल होने से चली जाती है 23 प्रतिशत लोगों की जान 553 0
मुहासे हटाने के घरेलु उपाय 68 0
अवसाद सिंड्रोम और उसके रूपों के जानें इस प्रकार 135 0
क्‍यूं नहीं रखने चहिये फ्रिज में अंडे? 1,248 0
तेजी से फैल रहा है टेक स्ट्रेस, कहीं आप में भी तो नहीं ऐसे लक्षण? 173 0
आंख की एपीस्कलेराइटिस : लक्षण, कारण, उपचार को करें निरोग 247 0
शोरगुल से बढ़ जाता है हार्ट अटैक का खतरा 1,285 0
व्रत रखने के फायदे 280 0
जवान दिखने के बेहतरीन जादुई नुस्खे 2,509 0
सर्दी के ख़त्म होनें के बाद डैन्ड्रफ़ ख़त्म हो जाता है 159 0
चिकनपॉक्स (छोटी माता): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज 568 0
सोने का अनियमित वक्त मानसिक कार्यक्षमता को प्रभावित करता है 671 0
सुपारी के सेवन से किया जा सकता है पागलपन को कम 335 0
हाई बीपी और माइग्रेन में मेंहदी इस प्रकार फायदेमंद 422 0
सेहत को रखना है फिट तो इस तरह से लें प्रोटीन... 446 0
कब्‍ज, मोटापा और मधुमेह का खात्‍मा करता है कच्‍चा केला खाने का ये तरीका 192 0
सर्दियों में बालो की देखभाल 331 0
शरीर में रक्त की कमी का होना, रक्त की कमी पूरी करने के लिए क्या करें, जानें 547 0
पानी से है प्यार? ...तो आज़माएं ऐक्वा योग 253 0
व्रत से हो सकते हैं नुकसान भी 297 0
काली मिर्च खाकर करें मोटापा दूर 287 0
होशियार : बाजार में आ गई है जहरीली अदरक.. 159 0
अब घर पर ही पाइये काले घुटनों से निजात 1,495 0
ज़मीन पर बैठकर खाना खाने के लाभ 174 0
पायरिया के आयुर्वेदिक उपचार: 151 0
मधूमेह रोग कब और कैसे 250 0
ब्रेस्ट कैंसर के लिए कीमोथेरेपी क्यों ज़रूरी है? 91 0
तरह-तरह के व्रत 120 0
मोतिया बिन्द है तो करें ये घरेलु उपाय 307 0
एक हफ्ते में वाटर वेट से छुटकारा पाना है तो ये तरीके आजमाएं 188 0
धनिया के औषधीय गुण 176 0
बंद धमनियों को साफ करने के लिए आजमाएं ये आसान जर्मन नुस्खा 200 0
डिब्बाबंद खाना होता है नुकसानदेह 259 0
श्वेत प्रदर के रोग को जड़ से मिटा देंगे यह घरेलू उपाय 114 0
सर्दियों में त्वचा की देखभाल 267 0
बाल झड़ने की समस्या से बचने के लिए कुछ टिप्स 594 0
पांच साल की उम्र तक स्तनपान कराना क्या फायदेमंद है 113 0
स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक पिस्‍ता सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है आइए जानें 315 0
किडनी की बीमारी 256 0
काफी खतरनाक है हाइपोग्लाइसीमिया, इसकी मार से रहें सजग 448 0
यकृत कैंसर के को दूर करने के उपाय 115 0
अंगुली के नाम, रोग और कार्य 253 0
कम उम्र में सेक्‍स करने से बढ़ जाता है इस चीज का खतरा 2,215 0
गर्भावस्था में क्या खाएं क्या न खाएं 180 0
सेब बचाता है स्किन कैंसर से 235 0
गिलोय के फायदे और अनेक प्रकार से रोगों से छुटकारा 548 0
आपका रसोई घर बनाम दवाखाना 667 0
बादाम खाने के फायदे 116 0
पानी पीने का मन नहीं होता तो इन भोजन को करें डायट में शामिल 215 0
इडली को क्‍यूं माना जाता है वर्ल्‍ड का बेस्‍ट ब्रेकफास्‍ट 636 0
कैसे लें खुद हाफ बाथ? 51 0
ख़ूबसूरती के फायदे ही नहीं नुकसान भी होते है! 1,205 0
कई रोगों में चमत्कार का काम करती है दूब घास, जानें इसके फायदे 315 0
कच्चे और छोटे आम खाने से कौन कौन से फायदे होते है 407 0
हार्टफेल से बचाएगा एरोबिक एक्‍सरसाइज 1,387 0
कौन न रखे व्रत 147 0
क्यों होता है अल्जाइमर 185 0
चमकती हुई त्वचा के लिए हर्बल ब्यूटी टिप्स 2,659 0
लौकी खाने के फायदे 198 0
डिप्रेशन का शिकार क्यों बन रहे हैं लोग जानें क्यों 289 0
स्वाद से भरपूर पोहे खाने के लाभ और फायदे 295 0
ड्रिंकिंग की लत से कैसे निजात पाएं 266 0
सर्दियों में लहसुन का फायदा 292 0
विज्ञान ने खोजा सौंदर्य का समीकरण 1,681 0
तनाव को दूर करें और भी मनोवैज्ञानिक तरीके से जानें 292 0
सेहतमंद बालों के लिए रोज करें योग 235 0
व्रत के दौरान बरतें सावधानियां 241 0
कान में दर्द है तो करें ये कारगार उपाय 272 0
लहसुन में विशेषताएं जो स्वस्थ के लिए जरूरी 381 0
दूर करे घुटने और कोहिनी का कालापन 338 0
2-7 साल के 92% बच्चों को है मोबाइल एड‍िक्शन 438 0
मुह में छाले हैं तो करें ये घरेलू उपाय 262 0
दूध को इस प्रकार पिये 358 0
प्राकृतिक चिकित्सा 818 0
आर्टिकल जो आपकी जान बचा सकता है 1,265 0
आपका मोबाइल फोन और मुंहासे 214 0
लकवा के लक्षण ,कारण और इलाज 264 0
पहचानें डिप्रेशन के लक्षण 455 0
व्रत के दौरान कितने अंतराल पर क्या खाएं 269 0
करेला स्वस्थ के लिए किस प्रकार लाभदायक 378 0
सर दर्द से राहत के लिए करें ये घरेलु उपचार 724 0
नुस्‍खों से हटाएं ठुड्डी के बाल 1,862 0
चेहरे और शरीर की हार्डवेयर की मालिश करवाये इस प्रकार 121 0