टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें

टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें

टिटनेस के दुष्‍परिणामों के बारे में हम सभी ने सुना ही होगा। टिटनेस एक प्रकार का गंभीर बैक्‍टीरियल संक्रमण होता है जिसका प्रत्‍यक्ष प्रभाव, व्‍यक्ति के तंत्रिका तंत्र पर पड़ता है।

टिटनेस को लॉकजॉ भी कहा जाता है क्‍योंकि इसकी चपेट में आने पर व्‍यक्ति की मांसपेशियों में भयानक कठोरता आ जाती है और मौत हो जाती है। 

टिटनेस एक प्रकार का रोग है जो क्‍लोस्‍ट्रीडियम टीटनी बैक्‍टीरिया के कारण हो जाता है। यह बैक्‍टीरिया, दुनिया की हर जगह की जमीन, मलबे और पशुमल में पाया जाता है। यह मानव की त्‍वचा पर भी होता है।

ऐसे में अगर शरीर में कहीं कट लग जाता है या त्‍वचा कहीं से खुल जाती है तो ये बैक्‍टीरिया शरीर में अंदर प्रवेश कर जाता है और अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर देता है। 

शरीर के जिन हिस्‍सों में ऑक्‍सीजन सबसे कम पाई जाती हैं वहां भी अच्‍छी खासी ग्रोथ कर लेते हैं। ऐसे में अगर किसी भी व्‍यक्ति को चोट या खरोंच लग जाती है तो उसे शीघ्र की इस इंजेक्‍शन लगवाने की सलाह दी जाती है।

यह इंजेक्‍शन इन कीटाणुओं को नष्‍ट करने के लिए अपना प्रभाव दिखाता है और कभी-कभी व्‍यक्ति को इसकी वजह से कुछ हल्‍की सी समस्‍या भी हो सकती है। 

जब टिटनेस के बैक्‍टीरिया शरीर में एक्टिव होते हैं तो वे एक प्रकार का विष छोड़ने लगते हैं जो नर्व से कनेक्‍ट हो जाते हैं और घाव के आसपास फैल जाते हैं। टिटनेस टॉक्सिन, इस प्रकार बढ़ता जाता है और बाद में स्‍पाइन कॉर्ड पर बुरा असर डालता है। 

लोकल टिटनेस, चोट की जगह तक ही सीमित रहता है, सेफालिक टिटनेस एक असामान्‍य प्रकार का होता है जो पूरे नर्व सिस्‍टम पर प्रभाव डालता है, गंभीर चोट लगने पर या कोई एक्‍सीडेंट होने पर या सिर में चोट लगने पर इस इंजेक्‍शन को दिया जाता है। नियोनेटल टिटनेस इंजेक्‍शन, नवजात शिशुओं को दिया जाता है ताकि उन्‍हें टिटनेस होने से बचाया जा सकें। 

शायद अब आपको समझ में आ गया होगा कि चोट लगने पर यह इंजेक्‍शन जल्‍द से जल्‍द क्‍यों लगवा लेना चाहिए। टिटनेस इंजेक्‍शन लगने पर, हल्‍का बुखार, थकान, जोड़ों में दर्द, मतली और मांसपेशियों में दर्द हो सकता है।

कई बार उस जगह पर सूजन, दर्द और खुजली भी होती है। पर आप परेशान हो, इंजेक्‍शन लगवाने के बाद संक्रमण होने का खतरा दूर हो जाता है और व्‍यक्ति को अगले कुछ दिनों तक भी चोट लगने पर टिटनेस होने का खतरा नहीं रहता है।

नोट :  अत: टिटनेस का इंजेक्शन  ज़रूर लगवाएं !

Source: hindi.boldsky.com

Vote: 
0
No votes yet
,

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 43,550 80
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 48,311 64
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 20,184 42
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 9,794 41
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 20,278 32
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 10,736 30
मोती जैसे सफेद दांत पाने के लिए ट्राई करें ये 5 घरेलू उपाय 2,492 14
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 7,061 13
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 5,044 13
सिर दर्द को चुटकियों में दूर करता है सिर्फ '1 नींबू' करके देखे प्रयोग 398 12
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 6,821 12
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 2,571 11
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 3,680 10
इंसानी दूध पीने को लेकर ब्रिटेन में चेतावनी 6,928 9
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 3,726 9
स्वास्थ्य शिक्षा कैसे 1,340 8
ख़तरनाक है सेक्स एडिक्शन 4,755 8
सुबह उठ कर कैसा पानी पीना चाहिए 187 8
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 20,166 8
तरबूज खाने के फायदे 450 8
आखें लाल होने पर क्या उपाय करें 898 7
मौसमी का जूस पीने के फायदे 3,994 7
मूंगफली खाने के आत्याधिक फायदे 917 7
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 4,366 7
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 3,312 7
ब्‍लड ग्रुप के अनुसार कैसा होना चाहिये आपका आहार 2,489 6
ब्रेस्ट कम करने के उपाय 1,755 6
दूध में डिटर्जेंट की जाँच करने के उपाय 1,992 6
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 3,870 6
रोजाना भीगे हुए चने खाने के हैं कई फायदे, जानिए और स्वस्थ्य रहिए.... 2,506 5
हड्डियों को मजबूत करते हैं ये 443 5
जीभ हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में बताती है जैसे 1,803 5
हरी मिर्च खाने के चमत्कार 106 5
पेट दर्द और पेट में मरोड़ का कारण, लक्षण और उपचार आइए जानें 318 5
झाइयां होने के कारण 4,834 5
शयनकक्ष में बहुत रोशनी बढ़ा सकती है मोटापा 671 5
ब्लड प्रेशर को कैसे रखें नियंत्रित 346 5
जवान दिखने के बेहतरीन जादुई नुस्खे 2,780 4
सर्दियों में कम पानी पीने से ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ सकता है 642 4
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 6,884 4
अपनी आँखों को रखे हमेशा सलमात 1,364 4
रस्सी कूदें, वज़न घटाएं 2,276 4
चिकनपॉक्स (छोटी माता): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज 1,558 4
व्रत से हो सकते हैं नुकसान भी 796 4
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 2,087 4
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 1,316 4
क्या है आई वी एफ की प्रक्रिया, जानें 949 4
बिना दवा के किडनी को स्वस्थ कैसे रखेंगे 98 4
टीबी से कैसे करें बचाव, क्या हैं लक्षण, जानें सब. 2,121 4
कम उम्र में सफेद हुए बालों को काला करे 990 4