टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें

टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें

टिटनेस के दुष्‍परिणामों के बारे में हम सभी ने सुना ही होगा। टिटनेस एक प्रकार का गंभीर बैक्‍टीरियल संक्रमण होता है जिसका प्रत्‍यक्ष प्रभाव, व्‍यक्ति के तंत्रिका तंत्र पर पड़ता है।

टिटनेस को लॉकजॉ भी कहा जाता है क्‍योंकि इसकी चपेट में आने पर व्‍यक्ति की मांसपेशियों में भयानक कठोरता आ जाती है और मौत हो जाती है। 

टिटनेस एक प्रकार का रोग है जो क्‍लोस्‍ट्रीडियम टीटनी बैक्‍टीरिया के कारण हो जाता है। यह बैक्‍टीरिया, दुनिया की हर जगह की जमीन, मलबे और पशुमल में पाया जाता है। यह मानव की त्‍वचा पर भी होता है।

ऐसे में अगर शरीर में कहीं कट लग जाता है या त्‍वचा कहीं से खुल जाती है तो ये बैक्‍टीरिया शरीर में अंदर प्रवेश कर जाता है और अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर देता है। 

शरीर के जिन हिस्‍सों में ऑक्‍सीजन सबसे कम पाई जाती हैं वहां भी अच्‍छी खासी ग्रोथ कर लेते हैं। ऐसे में अगर किसी भी व्‍यक्ति को चोट या खरोंच लग जाती है तो उसे शीघ्र की इस इंजेक्‍शन लगवाने की सलाह दी जाती है।

यह इंजेक्‍शन इन कीटाणुओं को नष्‍ट करने के लिए अपना प्रभाव दिखाता है और कभी-कभी व्‍यक्ति को इसकी वजह से कुछ हल्‍की सी समस्‍या भी हो सकती है। 

जब टिटनेस के बैक्‍टीरिया शरीर में एक्टिव होते हैं तो वे एक प्रकार का विष छोड़ने लगते हैं जो नर्व से कनेक्‍ट हो जाते हैं और घाव के आसपास फैल जाते हैं। टिटनेस टॉक्सिन, इस प्रकार बढ़ता जाता है और बाद में स्‍पाइन कॉर्ड पर बुरा असर डालता है। 

लोकल टिटनेस, चोट की जगह तक ही सीमित रहता है, सेफालिक टिटनेस एक असामान्‍य प्रकार का होता है जो पूरे नर्व सिस्‍टम पर प्रभाव डालता है, गंभीर चोट लगने पर या कोई एक्‍सीडेंट होने पर या सिर में चोट लगने पर इस इंजेक्‍शन को दिया जाता है। नियोनेटल टिटनेस इंजेक्‍शन, नवजात शिशुओं को दिया जाता है ताकि उन्‍हें टिटनेस होने से बचाया जा सकें। 

शायद अब आपको समझ में आ गया होगा कि चोट लगने पर यह इंजेक्‍शन जल्‍द से जल्‍द क्‍यों लगवा लेना चाहिए। टिटनेस इंजेक्‍शन लगने पर, हल्‍का बुखार, थकान, जोड़ों में दर्द, मतली और मांसपेशियों में दर्द हो सकता है।

कई बार उस जगह पर सूजन, दर्द और खुजली भी होती है। पर आप परेशान हो, इंजेक्‍शन लगवाने के बाद संक्रमण होने का खतरा दूर हो जाता है और व्‍यक्ति को अगले कुछ दिनों तक भी चोट लगने पर टिटनेस होने का खतरा नहीं रहता है।

नोट :  अत: टिटनेस का इंजेक्शन  ज़रूर लगवाएं !

Source: hindi.boldsky.com

Vote: 
0
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 34,696 42
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 15,865 24
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 5,707 22
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 42,757 20
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 17,004 19
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 5,664 12
बिना सर्जरी स्तन छोटे करने के उपाय 2,026 9
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 5,520 9
पेशाब में आ रहा है झाग तो हो जाये सावधान 271 8
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 19,017 7
बिना एक्सरसाइज किए 1 महीने में घटाएं जांघों और कूल्हों की चर्बी! 84 6
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 3,240 6
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 2,267 5
तिल तथा मस्से हटाने के आसान घरेलू उपचार 9,400 5
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 1,768 5
शल्य क्रिया से स्तनों का आकार घटाने का तरीका 1,874 5
हस्तमैथुन करने वाली महिलाएं होती है इन बीमारियों का शिकार 268 5
व्रत के दौरान कितने अंतराल पर क्या खाएं 451 5
लड़की नही समझ पा रही है इशारे तो ऐसे कराएं प्यार का अहसास 68 5
व्रत रखने के फायदे 437 4
खासी का काढ़ा 547 4
झाइयां होने के कारण 3,651 4
ब्रेस्ट कम कैसे करे- एक्सर्साइज़ टिप्स 1,807 3
पार्टनर के साथ इंटिमेट होने से पहले ये चीजें चैक लें कहीं.... 102 3
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 1,113 3
निम्बू है कई बिमारियों का इलाज जानिए कैसे 110 3
सर दर्द से राहत के लिए करें ये घरेलु उपचार 1,435 3
हर तरह की खुजली से राहत दिलाते हैं ये घरेलू उपचार इस प्रकार करे पयोग 1,479 3
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 4,511 3
क्या है आई वी एफ की प्रक्रिया, जानें 395 3
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 6,296 2
अपनी आँखों को रखे हमेशा सलमात 1,154 2
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 3,994 2
क्या है आई वी एफ की प्रक्रिया, जानें 709 2
पीलिया कैसा भी हो जड़ से खत्म करेंगे 3,283 2
पेट फूलना, गैस व खट्टी डकार से तुरंत राहत दिलाने उपचार के 1,619 2
आँखों में जलन दूर करने के उपाय 72 2
हाइपर थाइरोइड में शंखपुष्पी का प्रयोग। 1,089 2
आखें लाल हो तो करें ये उपाय 1,097 2
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 4,244 2
जल्‍दी पिता बनने के लिए एक घंटे में करें दो बार सेक्‍स 4,830 2
पोषाहार क्या है जानिए 868 2
डायबिटीज से आंखों को होता है डायबिटिक रेटिनोपैथी का खतरा, जानिये इसके लक्षण 360 2
लहसुन : हानिकारक प्रभाव भी दे सकती हैं। 74 2
दही खाने के बेहतरीन फायदो और खूबियों के बारे में जानें क्या हैं 939 2
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 2,314 2
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 2,987 2
कब्‍ज के उपचार के घरेलू उपाय 1,119 1
'सोने के पहले न देखें फोन' 221 1
बॉलीवुड एक्ट्रेस में बढ़ रहा है कपिंग थैरेपी का क्रेज, जानिए इसके फायदे 71 1