टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें

टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें

टिटनेस के दुष्‍परिणामों के बारे में हम सभी ने सुना ही होगा। टिटनेस एक प्रकार का गंभीर बैक्‍टीरियल संक्रमण होता है जिसका प्रत्‍यक्ष प्रभाव, व्‍यक्ति के तंत्रिका तंत्र पर पड़ता है।

टिटनेस को लॉकजॉ भी कहा जाता है क्‍योंकि इसकी चपेट में आने पर व्‍यक्ति की मांसपेशियों में भयानक कठोरता आ जाती है और मौत हो जाती है। 

टिटनेस एक प्रकार का रोग है जो क्‍लोस्‍ट्रीडियम टीटनी बैक्‍टीरिया के कारण हो जाता है। यह बैक्‍टीरिया, दुनिया की हर जगह की जमीन, मलबे और पशुमल में पाया जाता है। यह मानव की त्‍वचा पर भी होता है।

ऐसे में अगर शरीर में कहीं कट लग जाता है या त्‍वचा कहीं से खुल जाती है तो ये बैक्‍टीरिया शरीर में अंदर प्रवेश कर जाता है और अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर देता है। 

शरीर के जिन हिस्‍सों में ऑक्‍सीजन सबसे कम पाई जाती हैं वहां भी अच्‍छी खासी ग्रोथ कर लेते हैं। ऐसे में अगर किसी भी व्‍यक्ति को चोट या खरोंच लग जाती है तो उसे शीघ्र की इस इंजेक्‍शन लगवाने की सलाह दी जाती है।

यह इंजेक्‍शन इन कीटाणुओं को नष्‍ट करने के लिए अपना प्रभाव दिखाता है और कभी-कभी व्‍यक्ति को इसकी वजह से कुछ हल्‍की सी समस्‍या भी हो सकती है। 

जब टिटनेस के बैक्‍टीरिया शरीर में एक्टिव होते हैं तो वे एक प्रकार का विष छोड़ने लगते हैं जो नर्व से कनेक्‍ट हो जाते हैं और घाव के आसपास फैल जाते हैं। टिटनेस टॉक्सिन, इस प्रकार बढ़ता जाता है और बाद में स्‍पाइन कॉर्ड पर बुरा असर डालता है। 

लोकल टिटनेस, चोट की जगह तक ही सीमित रहता है, सेफालिक टिटनेस एक असामान्‍य प्रकार का होता है जो पूरे नर्व सिस्‍टम पर प्रभाव डालता है, गंभीर चोट लगने पर या कोई एक्‍सीडेंट होने पर या सिर में चोट लगने पर इस इंजेक्‍शन को दिया जाता है। नियोनेटल टिटनेस इंजेक्‍शन, नवजात शिशुओं को दिया जाता है ताकि उन्‍हें टिटनेस होने से बचाया जा सकें। 

शायद अब आपको समझ में आ गया होगा कि चोट लगने पर यह इंजेक्‍शन जल्‍द से जल्‍द क्‍यों लगवा लेना चाहिए। टिटनेस इंजेक्‍शन लगने पर, हल्‍का बुखार, थकान, जोड़ों में दर्द, मतली और मांसपेशियों में दर्द हो सकता है।

कई बार उस जगह पर सूजन, दर्द और खुजली भी होती है। पर आप परेशान हो, इंजेक्‍शन लगवाने के बाद संक्रमण होने का खतरा दूर हो जाता है और व्‍यक्ति को अगले कुछ दिनों तक भी चोट लगने पर टिटनेस होने का खतरा नहीं रहता है।

नोट :  अत: टिटनेस का इंजेक्शन  ज़रूर लगवाएं !

Source: hindi.boldsky.com

Vote: 
0
No votes yet

New Health Updates

Total views Views todaysort descending
डायरिया होने पर करें घरेलु उपाय 375 0
संभलकर! हफ्ते में पीएंगे शराब के 7 पैग तो हो जाएंगे प्रोस्टेट कैंसर का शिकार 47 0
क्या शारीरिक फिटनेस के बगैर मानसिकविकास सम्भव है ? 2,380 0
अस्थमा के घरेलू उपचार 306 0
टांसिल बढ़ना : : 350 0
एक साथी के साथ रहना नहीं है इंसानों की फितरत 577 0
भूलकर भी किसी दिन Skip ना करें भोजन, होते है ये खतरनाक बदलाव 517 0
अमरुद खाने के फायदे 224 0
जानें शंखपुष्‍पी स्‍वास्‍थ्‍य के लिए कितनी फायदेमंद है प्रयोग करें 822 0
पीठ दर्द से मिलेगा तुरंत छुटकारा 470 0
लीवर इज़ार्ज इस रोग का कारण और उपचार करें और जानें 206 0
उंगलिया चटकाने पर आवाज़ क्यों होती है? 157 0
स्तनों का ढीलापन दूर करने के घरेलू नुस्खे 5,626 0
आटिज्म: समझें बच्चों को और उनकी भावनाओं को 579 0
वेलेंटाइन डे के पहले कैसे पाएं साफ और गोरी त्‍वचा 1,516 0
हार्मोन और स्किन को नुकसान पहुंचाते हैं ये आहार 445 0
भूने चने के साथ गुड़ खाने से मिलतें हैं ये अनेक फायदे 512 0
प्रेगनेंसी में किस प्रकार का डांस करना चाहिए? 61 0
दोस्त बनाने के सबसे आसान तरीके 1,570 0
डायबिटीज से आंखों को होता है डायबिटिक रेटिनोपैथी का खतरा, जानिये इसके लक्षण 364 0
हाइड्रोसेफेलस है गंभीर मानसिक बीमारी, जानें इसके लक्षण और उपचार 576 0
इसलिए शारीरिक संबंध बनाने से डरती है महिलाएं 129 0
लड़कियों को 'इन दिनों' यौन संबंध बनाने में आता है सबसे अधिक आनंद 4,563 0
गर्भावस्था के बाद महिलाएं अपनाएं ऐसी डाइट, नहीं होगी कमजोरी 383 0
दिल के दौरे में है ब्लड ग्रुप का भी हाथ 128 0
लिक्विड सोप से हाथ धोते हैं तो सतर्क हो जाएं! 192 0
क्या होती है नेगेटिव कैलोरी? 65 0
कमर पतली बनाने के लिए करें अतिसरल सुझाव और जाने इसको बनाने के तरीके 428 0
क्या मैं प्रेगनेंसी में डांस कर सकती हूँ? 50 0
डायबिटीज यानि कि मधुमेह आजकल एक बहुत जटिल और गंभीर रोग बन कर उभर रहा है। 330 0
लहसुन : हानिकारक प्रभाव भी दे सकती हैं। 76 0
सेहत पर बहुत बुरा असर डालती है गेम खेलने की लत, ऐसे पाएं छुटकारा 202 0
दही खाने के बेहतरीन फायदो और खूबियों के बारे में जानें क्या हैं 945 0
कब्ज को करें गुडबाय 339 0
एक माँ का अपने बच्चों के साथ सोना कितना जरूरी है आइए जानें इस प्रकार 498 0
हड्डी टूटने पर घरेलु उपचार 850 0
हरड का काया कल्प प्रयोग 65 0
मोटापे से कमज़ोर होती है याददाश्त? 581 0
दस सेकंड के एक चुंबन के दौरान क़रीब आठ करोड़ जीवाणु चुंबन करने वालों के मुंह में चले जाते हैं. 201 0
नवरात्रि ब्रत किस राशि के लिएशुभ किस के लिए अशुभ 334 0
ब्लड प्रेशर को कैसे रखें नियंत्रित 310 0
अधिक मुहांसो से परेशान है तो उनको दूर करने के नुस्खे 469 0
सुबह उठते ही चेहरे पर दिखती है सूजन तो जरूर जानिए इसकी वजह 90 0
बच्चों में खाने की अच्छी आदतें विकसित करें 402 0
पैरों में दर्द के लिए घरेलू उपचार 781 0
छुहारा और खजूर एक ही पेड़ की देन है। 88 0
याद्दाश्‍त खोना ही नहीं, ये लक्षण भी हैं अल्‍जाइमर के संकेत 253 0
पार्टी के लिए क्विक मेकओवर करना है तो अपनाएं ये टिप्स 234 0
1अनार सौ बीमार नहीं, सौ फायदे कहिए जनाब 460 0
पेशाब में आ रहा है झाग तो हो जाये सावधान 274 0