टूथपेस्‍ट से इस तरह करें प्रेगनेंसी का टेस्‍ट

26 साल की सरला को लग रहा था कि वह प्रेगनेंट हैं और इसका पता लगाने के लिए वह घर में ही कुछ उपायों की खोज कर रही थी। हालांकि प्रेग्नेंसी टेस्ट करने के लिए बाजार में कई तरह के उपकरण मौजूद हैं। लेकिन वह घर में ही मौजूद उपायों से ऐसा करना चाहती थी। लेकिन उसे समझ नहीं आ रहा था कि ऐसा कौन सा घरेलू उपाय है, जिसकी मदद से वह ऐसा कर सकती है। अगर सरला की तरह आप भी ऐसे उपाय की खोज कर रही हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए ही है।
मां बनने का अहसास किसी भी महिला के लिए जिन्‍दगी का सबसे सुखद अहसास होता है, क्‍योंकि प्रेगनेंसी में महिला के शरीर में एक नये जीव का निर्माण होता है। गर्भवती होने का हल्‍का सा अंदेशा महिला को यह जानने के लिए विवश कर देता है कि क्‍या वह सच में मां बनने वाली हैं। यदि आपको भी लगता है कि आप गर्भवती है और प्रेगनेंसी की जांच करना चाहती हैं तो देर किसी बात की, आप आसानी से घर बैठे प्रेगनेंसी का टेस्‍ट कर सकती हैं। जीं हां टूथपेस्‍ट के माध्‍यम से आप अपनी प्रेगनेंसी की जांच कर सकती है। आपको विश्‍वास नहीं हो रहा है तो आइए इस आर्टिकल के माध्‍यम से हम आपकी इस दुविधा को दूर करते हैं और आपको बताते हैं कि घर बैठे टूथपेस्‍ट से कैसे प्रेगनेंसी टेस्‍ट होता है।

टूथपेस्‍ट से प्रेगनेंसी टेस्‍ट करने का तरीका
टूथपेस्ट के माध्‍यम से प्रेगनेंसी टेस्‍ट करने के लिए आपको सफेद रंग के टूथपेस्ट, सुबह के समय का पहला यूरिन, और एक ग्लास की जरूरत होती है।
एक डिस्पोजेबल ग्लास में अपने पहले यूरिन का सैंपल लें।
अब उस यूरिन में एक चम्मच टूथपेस्ट मिला दें।

टूथपेस्ट टेस्‍ट का परिणाम
यूरिन में टूथपेस्‍ट मिलाने के बाद अगर उसका रंग बदलकर नीला हो जाता है, तो यह आपके प्रेगनेंट होने का संकेत देता है। इसके अलावा झाग का एक साथ इकठ्ठा होना भी पॉजीटिव प्रेगनेंसी का संकेत है। लेकिन अगर आपको इस उपाय को करने के दौरान कोई भी बदलाव दिखाई नहीं देते तो इससे स्पस्ट होता है कि आप प्रेगनेंट नहीं हैं।

टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्‍ट के लिए कैसे उचित है?
हालांकि टूथपेस्‍ट से होममेड प्रेगनेंसी टेस्‍ट आपके लिए पूरी तरह से उपयोगी होता है, लेकिन हर उपाय की तरह इसके भी कई फायदे और नुकसान है। अब सवाल यह उठता है कि टूथपेस्ट के माध्‍यम से प्रेगनेंसी टेस्‍ट कितना सही है। जी हां यह बिल्कुल सही है कि सुबह के समय का पहला यूरिन गर्भावस्था के लक्षणों का पता लगाने में मदद करता है, क्योंकि उस समय एचसीजी का लेवल हाई होता है, जो सही मायने में प्रेगनेंसी के लक्षणों का पता लगाने में मदद करता है।

सामान्य तौर पर यह देखा जाता है कि प्रेगनेंसी टेस्‍ट करने के लिए महिलाएं प्रेग्नेंसी किट या घरेलू विधि का उपयोग करती हैं। हालांकि दोनों में कुछ न कुछ कमी होती हैं। ऐसे में यह जरूरी नहीं है की यह 100 प्रतिशत सही हो। इसलिए कहा जाता है कि टूथपेस्‍ट से प्रेगनेंसी टेस्‍ट से जुड़े कुछ नुकसान भी है, जो शायद आपके विश्‍वास को डगमगा सकते हैं। उदाहरण के लिए, इस टेस्‍ट के दौरान प्रयोग की जाने वाले यूरीन और टूथपेस्ट की मात्रा के बारे में कोई स्पष्ट दिशा निर्देश नहीं है।

इसके अलावा, जब मिश्रण को लंबे समय के लिए छोड़ दिया जाता है, तो उसका कलर अपने आप बदल जाता है। इससे परिणाम को लेकर आप हमेशा उलझन में रहती है। हालांकि 2-3 बार कोशिश करने के बाद आप इसकी आसानी से व्याख्या कर सकती हैं। परिणाम प्राप्त करने के लिए कोई निर्धारित समय नहीं है।

ब्‍लीच के उपयोग से बना होममेड प्रेगनेंसी टेस्‍ट
एक कप ब्‍लीच ले लो और इसमें यूरीन का सैंपल मिला लें। अगर आप कप में बुलबुले दिखाई दें तो आपके लिए अच्‍छी खबर है जिसका आप इंतजार कर रही थी। टेस्‍ट का परिणाम इस तथ्‍य पर आधरित है कि जब महिला कंसीव करती है तो हार्मोन की मात्रा बढ़ जाती है।

गेहूं और जौ का उपयोग से बना होममेड प्रेगनेंसी टेस्‍ट
मिस्र के लोग सदियों से इस प्रेगनेंसी टेस्‍ट का उपयोग करते है। जो महिलाएं प्रेगनेंसी टेस्‍ट करने के लिए यूरीन में गेहूं और जौ के बीज का इस्‍तेमाल करती है, उन्‍हें बीजों के विकास पर ध्‍यान देना चाहिए। अगर बीज बढ़ जाते है, तो यह पॉजीटिव प्रेगनेंसी का संकेत होता है।

गर्भावस्‍था एक सुंदर स्‍टेज है, जो कई कठिनाइयों के बावजूद एक औरत को इस दुनिया में एक नये जीवन को लाने के लिए अपनी क्षमता पर गर्व महसूस कराती है। इसलिए यह टेस्‍ट हर महिला के जीवन में एक महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

आपको इस बात पर ध्‍यान देना बहुत जरूरी है कि होममेड प्रेगनेंसी टेस्‍ट से परिणाम पता चलने के बाद डॉक्‍टर से जांच जरूर करवायें। घर में बने प्रेगनेंसी टेस्‍ट का इस्‍तेमाल तभी किया जाना चाहिए जब अन्‍य विकल्‍प उपलब्‍ध न हो।

Vote: 
No votes yet

New Health Updates

Total viewssort descending Views today
दिल के दौरे में है ब्लड ग्रुप का भी हाथ 29 0
उंगलिया चटकाने पर आवाज़ क्यों होती है? 33 0
लिक्विड सोप से हाथ धोते हैं तो सतर्क हो जाएं! 35 0
मोबाइल गेमिंग डिसऑर्डर क्या है? 53 0
दस सेकंड के एक चुंबन के दौरान क़रीब आठ करोड़ जीवाणु चुंबन करने वालों के मुंह में चले जाते हैं. 56 0
बाजरा खाइए, हड्डियों के रोग नहीं होंगे 60 0
हार्ट अटैक के कारण 66 0
गेमिंग एडिक्शन एक 'बीमारी' 66 0
गेमिंग एडिक्शन का इलाज? 71 0
किडनी डायलीसिस क्यों......? 73 0
टैनिंग को हटाया जा सकता है 74 0
नींबू केस्वास्थ्यवर्धक घरेलु उपाय 77 0
काली मिर्च के फायदे 79 0
खुलकर हंसने के होते हैं ये फायदे 82 0
रक्तदान से होने वाले फायदे 83 0
कैसे लें खुद हाफ बाथ? 85 0
मखाना के फायदे 85 0
सोने से पहले नहीं करें इन चीजों का सेवन: 86 0
स्वास्थ्य क्या है आइए जाने की अपने आप को कैसे स्वास्थ्य रखें 87 0
जानें बीयर के बारें में 87 0
मुहासे हटाने के घरेलु उपाय 87 0
क्या हर गेम खेलने वाला बीमार है? 88 0
छोटे ब्रेस्‍ट है तो अभी से शुरू कर दें ये योगासन 106 0
पारिजात (हरसिंगार) के लाभ 106 0
बालों को स्‍ट्रेट करने के प्राकृतिक उपाय 106 0
मिठाई में इस्तेमाल होने वाला चांदी का वर्क असली है या नकली 107 0
पालक की खेती 107 0
सुबह उठकर नींबू पानी पीने के और भी फायदे हैं 109 0
केले खाने के फायदे 110 0
मटर की खेती 111 0
आयुर्वेद से जुड़ी ये बाते हैं अजीब लेकिन सच! 113 0
पेट दर्द और पेट में मरोड़ का कारण, लक्षण और उपचार आइए जानें 115 0
अमरुद खाने के फायदे 122 0
लोकस्वास्थ्य क्या है जानें 123 0
ऐसी बातों से बिगड़ता है हार्मोन संतुलन, जन्म लेते हैं बुरे लक्षण.. 123 0
गाजर खाने के फायदे 132 0
इम्सोम्निआ (अनिन्द्रा) से निपटने के कारगर तरीक़े 137 0
प्रकृति के नियम​ 139 0
यकृत कैंसर के को दूर करने के उपाय 139 0
स्वास्थ्य क्या है जाने और एक प्रकार के विज्ञान की तरह 141 0
चेहरे और शरीर की हार्डवेयर की मालिश करवाये इस प्रकार 142 0
तरह-तरह के व्रत 144 0
ब्रेस्ट कैंसर के लिए कीमोथेरेपी क्यों ज़रूरी है? 146 0
सेहत पर बहुत बुरा असर डालती है गेम खेलने की लत, ऐसे पाएं छुटकारा 147 0
शाकाहारी भोजन आपकी सर की रूसी दूर करने में सहायक होगा 149 0
पेशाब में आ रहा है झाग तो हो जाये सावधान 149 0
पांच साल की उम्र तक स्तनपान कराना क्या फायदेमंद है 153 0
लीवर इज़ार्ज इस रोग का कारण और उपचार करें और जानें 154 0
अस्थमा के घरेलू उपचार 155 0
ज़्यादा ड्रिंकिंग की लत से कैसे निजात पाएं 156 0