डायबिटीज यानि कि मधुमेह आजकल एक बहुत जटिल और गंभीर रोग बन कर उभर रहा है।

डायबिटीज यानि कि मधुमेह आजकल एक बहुत जटिल और गंभीर रोग बन कर उभर रहा है। एक सर्वे से पता चला है कि ना सिर्फ भारत बल्कि पूरी दुनिया में हिंदुस्तानी महिलाएं सबसे ज्यादा डायबिटीज की शिकार हैं। जो महिलाएं गर्भवती होती हैं और डायबिटीज की रोगी होती हैं उन्हें खुद का ज्यादा ध्यान रखने की जरूरत होती है। क्योंकि जेनेटिक होने के चलते यह रोग आपके बच्चे में भी जाने के पूरे चांस रहते हैं।

हालांकि यह एक ऐसा रोग है जो पूरी तरह से लाइफस्टाइल से जुड़ा हुआ है। यानि कि अगर पीड़ित अपने लाइफस्टाइल में बदलाव करता है और सही डाइट को फॉलो करता है ते यह रोग उसका कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा। आज हम आपको मुधमेह रोगी गर्भवती के लिए एक संतुलित डाइट बता रहे हैं। इसे फॉलो कर आप डायबिटीज को अपने बच्चे से जाने से काफी हद तक रोक सकती हैं। 

कार्बोहाइड्रेट

आपके आहार में कार्बोहाइड्रेट को कैलोरी आपकी जरूरत के आधे से कम प्रदान करनी चाहिए। खाद्य पदार्थ जैसे रोटी, चावल, पास्ता, अनाज, आलू, मटर, मक्का, फल, फलों का रस, दूध, दही, कुकीज़, कैंडी कार्बोहाइड्रेट में समृद्ध होती हैं। आपको अधिमानतः उच्च फाइबर, पूरे अनाज वाले कार्बोहाइड्रेट खाने चाहिए। ये खाद्य पदार्थ धीरे पचते हैं, अधिक स्वस्थ होते हैं और रक्त शर्करा के स्तर में तीव्र वृद्धि को रोकते हैं। कुछ सब्जियां जैसे गाजर, ब्रोकोली, और पालक में कार्बोहाइड्रेट होते हैं, लेकिन ये फाइबर में प्रचुर होते हैं, अपने स्वास्थ्य के लिए अच्छे हैं और आपके रक्त शर्करा में जुड़ते नहीं हैं।

अनाज और स्टार्चयुक्त सब्जियां

रोटी, अनाज, सेम, चावल, और स्टार्चयुक्त सब्जियां आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। आपको एक दिन में इन खाद्य पदार्थों की 6 या अधिक सर्विंग्स जरूरत है। एक सर्विंग - 1 टुकड़ा रोटी, 1 औंस खाने के लिए तैयार अनाज, 1/2 कप पके हुए चावल के बराबर होती है। ये खाद्य पदार्थ विटामिन, फाइबर, खनिज, और स्वस्थ कार्बोहाइड्रेट में प्रचुर होते हैं। कार्बोहाइड्रेट जिनमें फाइबर प्रचुर हो जैसे पूरे अनाज की रोटी, ब्राउन चावल, या सेम उन्हें वरीयता दें।

वसायुक्त आहार

तेल, घी, मक्खन, मार्जरीन, सलाद ड्रेसिंग, और डेसर्ट का सेवन सीमा में करें। लेकिन उन्हें अपने आहार से पूरी तरह से हटाएं नहीं क्योंकि वे आपके बच्चे के विकास और भ्रूण के मस्तिष्क के विकास के लिए आवश्यक हैं।

 

सब्जियां

आपको प्रतिदिन 3-5 सब्जियों की सर्विंग्स की जरूरत है। एक सर्विंग है एक कप पकी या कच्ची पत्तेदार सब्जियां कटी हुई, 3/4 कप सब्जी का रस, या 1/2 कप कटी हुई सब्जियां, कच्ची या पकी हुई। गहरे हरे और पीले रंग की सब्जियां जैसे पालक, ब्रोकोली, गाजर, टमाटर खाएं।

फल

आपको प्रतिदिन फलों की 2-4 सर्विंग्स की जरूरत है। एक सर्विंग है 1 मध्यम साइज का पूरा फल जैसे एक केला, सेब, या संतरा, 1/2 एक कप कटे, जमे, पके हुए या डिब्बा बंद फल; 3/4 कप किसी भी फल का रस। अधिमानतः फलों का रस के बजाय पूरे फल खाएं क्योंकि पूरे फलों में अधिक फाइबर होता है। फलों के रस जिनमें मिठास या सिरप जोड़ा गया हो, से बचें, फ्रोजन या डिब्बा बंद फलों की तुलना में ताजा फलों को वरीयता दें क्योंकि उनमें अधिक पोषक तत्व बरकरार रहते हैं।

दूध और डेयरी

आपको प्रतिदिन दूध या दूध से बने उत्पादों की 4 सर्विंग्स की जरूरत है। एक सर्विंग 1 कप दूध या दही है, लगभग 40 ग्राम प्राकृतिक पनीर, या 2 ऑउंस संसाधित पनीर। अधिमानतः कम वसा वाला दूध या दही लें। दूध और दूध से बने उत्पाद प्रोटीन, कैल्शियम और फास्फोरस के प्रचुर स्रोत हैं।

प्रोटीन

आपको इस समूह की प्रतिदिन 2-3 सर्विंग्स की जरूरत है। एक सर्विंग 2-3 ऑउंस पका मांस, मुर्गी, या मछली; 1/2 कप पकी हुई सेम; 1 अंडा; 1 कप दाल/दलहन। मछली और मुर्गी की बजाए मीट को वरीयता दें। ये खाद्य पदार्थ विटामिन बी , प्रोटीन, लौह और जस्ता के प्रचुर स्रोत हैं।  

Vote: 
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 53,091 98
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 15,068 75
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 54,601 70
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 14,544 62
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 24,242 37
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 24,043 33
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 8,558 21
झाइयां होने के कारण 6,041 16
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 7,233 16
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 8,627 15
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 5,478 13
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 4,757 13
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 21,328 12
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 3,488 11
दिमाग को तेज कैसे बनाये 941 10
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 5,156 9
सेब खाने के फायदे 851 9
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 5,636 9
सुबह का नाश्ता राजा की तरह, दोपहर का भोजन राजकुमार की तरह और रात का भोजन भिखारी की तरह करना चाहिए।’ 4,833 9
आधे सर का दर्द और उसका इलाज 1,774 8
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 4,528 8
स्प्राउट्स- सेहत को रखे आहार भरपूर 2,185 8
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 4,528 8
तिल तथा मस्से हटाने के आसान घरेलू उपचार 10,467 8
झुर्रियां दूर करने के घरेलू उपाय 504 7
काली मिर्च के फायदे 217 7
व्रत रखने के फायदे 644 7
जीभ हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में बताती है जैसे 2,127 6
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 6,057 6
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 5,543 6
हड्डी टूटने पर घरेलु उपचार 1,208 6
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 3,711 6
बिना सर्जरी स्तन छोटे करने के उपाय 2,759 5
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 1,857 5
प्राकृतिक चिकित्सा 1,385 5
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 4,097 5
मस्सा या तिल हटाना 768 5
पोषाहार क्या है जानिए 1,420 5
स्वस्थ रहने की 10 अच्छी आदतें 969 5
लड़कियों की शर्ट में पॉकेट क्यों नहीं होती ! आखिर क्या हैं राज 2,429 5
गुड़ और मूंगफली खाना सेहत और स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद 1,875 5
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 3,041 5
कब्ज और पेट साफ रखने के आसान घरेलू उपाय 480 4
गले में सूजन और दर्द, लिम्फोमा कैंसर के हो सकते हैं संकेत 1,243 4
जामुन के गुण 1,260 4
शल्य क्रिया से स्तनों का आकार घटाने का तरीका 2,347 4
अंगुली के नाम, रोग और कार्य 759 4
कॉफी: फायदा या नुकसान? 1,318 4
मूंग की खेती इस प्रकार करें 1,206 4
रात में दूध पीने के फायदे 1,146 4