डिप्रेशन का शिकार क्यों बन रहे हैं लोग जानें क्यों

अध्ययन दल के प्रमुख डॉ. मनमोहन सिंह ने 'इंडिया साइंस वायर' को बताया कि किशोरों में अवसाद के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इस समस्या को गंभीरता से लेने की जरूरत है क्योंकि किशोरावस्था बचपन से वयस्कता के बीच के एक संक्रमण काल की अवधि होती है। इस दौरान किशोरों में कई हार्मोनल और शारीरिक परिवर्तन होते हैं। ऐसे में अवसाद का शिकार होना उन बच्चों के करियर निर्माण और भविष्य के लिहाज से घातक साबित हो सकता है।

 

किशोरों में अवसाद के इन विभिन्न स्तरों के लिए कई तरह के पहलुओं को जिम्मेदार पाया गया है। इनमें सुदूर ग्रामीण इलाकों में अध्ययन, पारिवारिक सदस्यों द्वारा शारीरिक शोषण, पिता द्वारा शराब का सेवन एवं धूम्रपान, शिक्षकों द्वारा प्रोत्साहन एवं सहयोगी व्यवहार की कमी, पर्याप्त अध्ययन की कमी, सांस्कृतिक गतिविधियों में सीमित भागीदारी, अध्ययन व शैक्षिक प्रदर्शन से असंतुष्टि और गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड की बढ़ती पश्चिमी संस्कृति जैसे कारकों को प्रमुख रूप से जिम्मेदार पाया गया है।

 

शोधकर्ताओं के अनुसार किशोरों में अवसाद के ज्यादातर कारक परिवर्तनीय हैं। घर एवं स्कूल के वातावरण को अनुकूल बनाकर छात्रों में अवसाद को कम करने में मदद मिल सकती है। किशोरों में अवसाद की उपेक्षा नहीं करनी चाहिए। अवसाद से संबंधित कारकों को समझने के लिए और भी अधिक विस्तृत अनुसंधान की आवश्यकता है जिससे कि देश की शिक्षा नीति में इन कारणों का भी ध्यान रखा जा सके।

 

अध्ययनकर्ताओं का मानना है कि किशोरों में बढ़ रहे अवसाद और इससे जुड़े कारकों के संदर्भ में समझ विकसित करने के लिहाज से यह अध्ययन उपयोगी हो सकता है। इसकी तर्ज पर देश के अन्य इलाकों में भी स्कूलों में अध्ययन के गिरते स्तर और किशोरों में बढ़ रहे अवसाद की समस्या को समझने में मदद मिल सकती है।

 

  डॉ. मनमोहन सिंह के अलावा डॉ. मधु गुप्ता और डॉ. संदीप ग्रोवर शामिल हैं। यह शोध 'इंडियन जर्नल ऑफ मेडिकल रिसर्च' में प्रकाशित किया गया है। 

 

 

वास्को-डि-गामा (गोवा)। एक ताजा अध्ययन में भारतीय शोधकर्ताओं ने पाया है कि स्कूल जाने वाले 13 से 18 वर्ष के अधिकतर किशोर अवसाद (डिप्रेशन) का शिकार बन रहे हैं। चंडीगढ़ स्थित स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ और स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (पीजीआईएमईआर) के शोधकर्ताओं द्वारा किए गए अध्ययन में ये तथ्य उभरकर आए हैं।
 

 

शोधकर्ताओं ने पाया है कि लगभग 40 प्रतिशत किशोर किसी न किसी रूप में अवसाद के शिकार हैं। इनमें 7.6 प्रतिशत किशोर गहरे अवसाद से पीड़ित हैं जबकि 32.5 प्रतिशत किशोरों में अवसाद संबंधी अन्य विकार देखे गए हैं। करीब 30 प्रतिशत किशोर अवसाद के न्यूनतम स्तर और 15.5 प्रतिशत किशोर अवसाद के मध्यम स्तर से प्रभावित हैं। 3.7 प्रतिशत किशोरों में अवसाद का स्तर गंभीर स्थिति में पहुंच चुका है, वहीं 1.1 प्रतिशत किशोर अत्यधिक गंभीर अवसाद से ग्रस्त पाए गए हैं।

 

चंडीगढ़ के 8 सरकारी एवं निजी स्कूलों में पढ़ने वाले 542 किशोर छात्रों को सर्वेक्षण में शामिल किया गया था। अवसाद का मूल्यांकन करने के लिए कई कारक अध्ययन में शामिल किए गए हैं जिनमें माता-पिता की शिक्षा एवं व्यवसाय, घर तथा स्कूल में किशोरों के प्रति रवैया, सामाजिक एवं आर्थिक पृष्ठभूमि, यौन-व्यवहार और इंटरनेट उपयोग प्रमुख हैं।

 

Vote: 
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 34,403 76
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 42,603 43
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 5,591 41
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 15,729 31
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 7,954 27
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 16,904 25
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 1,741 17
सप्ताह में इतनी बार सेक्स करना जरूरी है 4,411 15
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 5,609 15
अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए उत्तम प्रकार का टॉनिक 15 14
पाचन तंत्र ठीक हो लिवर ठीक से कार्य करें 44 13
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 6,259 11
जबरदस्त फोरप्ले ही देता है दमदार सम्बन्ध का मजा 130 11
जब एक लड़की पहली बार किसी के सामने उतारती है अपने कपडे... 155 10
मौसमी का जूस पीने के फायदे 3,492 10
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 18,973 10
सेब खाने के फायदे 398 9
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 4,483 9
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 2,969 8
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 2,248 8
कब्ज और पेट साफ रखने के आसान घरेलू उपाय 57 8
झाइयां होने के कारण 3,615 8
सेक्‍स करने से लोगों को होते हैं ये 10 फायदे 3,558 7
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 959 7
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 4,213 7
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 3,309 7
किडनी को ख़राब करने वाली है ये आदतें……. 1,519 7
क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए 1,918 7
क्‍या सोते समय ब्रा पहननी चाहिये ? 10,873 6
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 3,973 6
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 3,918 6
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 3,193 6
चिकनपॉक्स (छोटी माता): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज 1,206 5
शादीशुदा महिलाओं की ये चीजें लड़कों को बना देती है दीवाना 132 5
पीलिया कैसा भी हो जड़ से खत्म करेंगे 3,271 5
व्रत के दौरान कितने अंतराल पर क्या खाएं 418 5
बच्चे के कान के पीछे शंकु का समाधान 1,151 5
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 5,493 4
मासिक धर्म के इन दिनों में शारीरिक संबंध के लिए तड़पती है महिला 131 4
पायरिया के आयुर्वेदिक उपचार: 275 4
मौसमी को खाने और मौसमी के जूस को पीने के फायदे और नुकसान 1,105 4
जामुन के गुण 992 4
जौ के इस उबटन से पुरूषों का चेहरा दिखेगा गोरा 514 4
पियें मेथी का पानी और दूर करें बीमार जिंदगी 5,165 4
वजन कम करने के फायदे, जानकर रहे जायगे हैरान 1,241 3
डायबिटीज का प्राकृतिक इलाज हैं आम के पत्ते, जानें कैसे? 501 3
खून की कमी होने पर करें उपाय 647 3
सुबह का नाश्ता राजा की तरह, दोपहर का भोजन राजकुमार की तरह और रात का भोजन भिखारी की तरह करना चाहिए।’ 3,611 3
ब्रेस्ट कम कैसे करे- एक्सर्साइज़ टिप्स 1,787 3
हाई ब्लड प्रेशर के कारण खो सकती है आपकी याददाश्त, जानें क्यों? 294 3