डिप्रेशन का शिकार क्यों बन रहे हैं लोग जानें क्यों

अध्ययन दल के प्रमुख डॉ. मनमोहन सिंह ने 'इंडिया साइंस वायर' को बताया कि किशोरों में अवसाद के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इस समस्या को गंभीरता से लेने की जरूरत है क्योंकि किशोरावस्था बचपन से वयस्कता के बीच के एक संक्रमण काल की अवधि होती है। इस दौरान किशोरों में कई हार्मोनल और शारीरिक परिवर्तन होते हैं। ऐसे में अवसाद का शिकार होना उन बच्चों के करियर निर्माण और भविष्य के लिहाज से घातक साबित हो सकता है।

 

किशोरों में अवसाद के इन विभिन्न स्तरों के लिए कई तरह के पहलुओं को जिम्मेदार पाया गया है। इनमें सुदूर ग्रामीण इलाकों में अध्ययन, पारिवारिक सदस्यों द्वारा शारीरिक शोषण, पिता द्वारा शराब का सेवन एवं धूम्रपान, शिक्षकों द्वारा प्रोत्साहन एवं सहयोगी व्यवहार की कमी, पर्याप्त अध्ययन की कमी, सांस्कृतिक गतिविधियों में सीमित भागीदारी, अध्ययन व शैक्षिक प्रदर्शन से असंतुष्टि और गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड की बढ़ती पश्चिमी संस्कृति जैसे कारकों को प्रमुख रूप से जिम्मेदार पाया गया है।

 

शोधकर्ताओं के अनुसार किशोरों में अवसाद के ज्यादातर कारक परिवर्तनीय हैं। घर एवं स्कूल के वातावरण को अनुकूल बनाकर छात्रों में अवसाद को कम करने में मदद मिल सकती है। किशोरों में अवसाद की उपेक्षा नहीं करनी चाहिए। अवसाद से संबंधित कारकों को समझने के लिए और भी अधिक विस्तृत अनुसंधान की आवश्यकता है जिससे कि देश की शिक्षा नीति में इन कारणों का भी ध्यान रखा जा सके।

 

अध्ययनकर्ताओं का मानना है कि किशोरों में बढ़ रहे अवसाद और इससे जुड़े कारकों के संदर्भ में समझ विकसित करने के लिहाज से यह अध्ययन उपयोगी हो सकता है। इसकी तर्ज पर देश के अन्य इलाकों में भी स्कूलों में अध्ययन के गिरते स्तर और किशोरों में बढ़ रहे अवसाद की समस्या को समझने में मदद मिल सकती है।

 

  डॉ. मनमोहन सिंह के अलावा डॉ. मधु गुप्ता और डॉ. संदीप ग्रोवर शामिल हैं। यह शोध 'इंडियन जर्नल ऑफ मेडिकल रिसर्च' में प्रकाशित किया गया है। 

 

 

वास्को-डि-गामा (गोवा)। एक ताजा अध्ययन में भारतीय शोधकर्ताओं ने पाया है कि स्कूल जाने वाले 13 से 18 वर्ष के अधिकतर किशोर अवसाद (डिप्रेशन) का शिकार बन रहे हैं। चंडीगढ़ स्थित स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ और स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (पीजीआईएमईआर) के शोधकर्ताओं द्वारा किए गए अध्ययन में ये तथ्य उभरकर आए हैं।
 

 

शोधकर्ताओं ने पाया है कि लगभग 40 प्रतिशत किशोर किसी न किसी रूप में अवसाद के शिकार हैं। इनमें 7.6 प्रतिशत किशोर गहरे अवसाद से पीड़ित हैं जबकि 32.5 प्रतिशत किशोरों में अवसाद संबंधी अन्य विकार देखे गए हैं। करीब 30 प्रतिशत किशोर अवसाद के न्यूनतम स्तर और 15.5 प्रतिशत किशोर अवसाद के मध्यम स्तर से प्रभावित हैं। 3.7 प्रतिशत किशोरों में अवसाद का स्तर गंभीर स्थिति में पहुंच चुका है, वहीं 1.1 प्रतिशत किशोर अत्यधिक गंभीर अवसाद से ग्रस्त पाए गए हैं।

 

चंडीगढ़ के 8 सरकारी एवं निजी स्कूलों में पढ़ने वाले 542 किशोर छात्रों को सर्वेक्षण में शामिल किया गया था। अवसाद का मूल्यांकन करने के लिए कई कारक अध्ययन में शामिल किए गए हैं जिनमें माता-पिता की शिक्षा एवं व्यवसाय, घर तथा स्कूल में किशोरों के प्रति रवैया, सामाजिक एवं आर्थिक पृष्ठभूमि, यौन-व्यवहार और इंटरनेट उपयोग प्रमुख हैं।

 

Vote: 
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 37,721 45
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 28,352 39
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 3,801 27
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 1,986 18
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 1,214 18
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 2,842 17
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 13,274 17
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 3,200 17
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 3,047 15
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 6,296 13
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 2,521 13
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 2,944 12
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 4,817 12
झाइयां होने के कारण 2,051 12
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 2,512 12
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 4,970 11
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 17,581 10
रस्सी कूदें, वज़न घटाएं 1,394 10
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 1,576 10
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 14,712 10
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 4,643 10
तिल तथा मस्से हटाने के आसान घरेलू उपचार 8,714 10
दिमाग को तेज कैसे बनाये 521 9
अस्थमा के घरेलू उपचार 208 9
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 2,775 8
माइग्रेन के दर्द से बचाता है ये आहार 632 8
क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए 1,539 8
गिलोय के फायदे और अनेक प्रकार से रोगों से छुटकारा 773 7
गुप्तांगो या बगलों के बालों की सफाई का महत्व 8,466 7
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 2,096 7
पेट बाहर है उसे अंदर करने के तरीके 1,492 7
मौसमी का जूस पीने के फायदे 2,751 7
सप्ताह में इतनी बार सेक्स करना जरूरी है 3,533 6
ब्रेस्ट साइज़ कैसे करे कम| घरेलू नुस्खे| 1,179 6
जामुन के गुण 860 6
एनीमिया की शिकार महिलाओं के लिए चुकंदर आत्याधिक लाभदायक 497 6
बच्‍चों के मानसिक विकास के लिए रोजाना खिलाएं ये 5 आहार 420 6
ब्रेन ट्यूमर के उपाय 484 6
जीभ हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में बताती है जैसे 1,161 6
सेक्‍स करने से लोगों को होते हैं ये 10 फायदे 2,954 6
चिकनपॉक्स (छोटी माता): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज 890 5
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 1,288 5
बाल झड़ने की समस्या से बचने के लिए कुछ टिप्स 741 5
स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक पिस्‍ता सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है आइए जानें 419 5
सर दर्द से राहत के लिए करें ये घरेलु उपचार 1,171 5
उम्र के अंतर का संबंधों पर प्रभाव 931 5
ड्रिंकिंग की लत से कैसे निजात पाएं 367 5
अपने दांतों की देखभाल और उनको रखे दूध जैसे चमकीले तथा स्वच्छ 761 5
बड़ी उम्र की महिला से डेटिंग के टिप्‍स 914 5
इंसानी दूध पीने को लेकर ब्रिटेन में चेतावनी 6,038 5