तुलसी का काढ़ा फायदा ही फायदा

तुलसी का काढ़ा फायदा ही फायदा

तुलसी का काढ़ा पीने से निकलती है किडनी की पथरी बाहर, ये हैं 10 फायदे

भारत के हर हिस्से में तुलसी का पौधा पाया जाता है। इसका पौधा केवल डेढ़ या दो फुट तक बढ़ता है। तुलसी को हिन्दू संस्कृति में अतिपूजनीय पौधा माना गया है। माता तुल्य तुलसी को आंगन में लगा देने मात्र से अनेक रोग घर में प्रवेश नहीं करते हैं। यह हवा को भी शुद्ध बनाने का कार्य करती है। तुलसी का वानस्पतिक नाम ओसीमम सैन्कटम है। आदिवासी भी तुलसी को अनेक हर्बल नुस्खों में अपनाते हैं। आज हम तुलसी से जुडे आदिवासियों के ऐसे 10 हर्बल नुस्खों के बारे में बता रहे है जिनके बारे में शायद ही आपने कभी सुना हो।

तुलसी का काढ़ा पीने से निकलती है किडनी की पथरी बाहर, ये हैं 10 फायदे
तुलसी के इन फायदों के बारे में विस्तार से जानिए।

1- किडनी की पथरी बाहर निकल सकती है
किडनी की पथरी हो, तो तुलसी की पत्तियों को उबालकर बनाया गया काढ़ा शहद के साथ नियमित 6 महीने सेवन करने से पथरी मूत्र मार्ग से बाहर निकल आती है।

2- पानी की शुद्धता के लिए
आदिवासी अंचलों मे पानी की शुद्धता के लिए तुलसी के पत्ते जल पात्र में डाल दिए जाते हैं और कम से कम एक से सवा घंटे पत्तों को पानी में रखा जाता है। कपड़े से पानी को छान लिया जाता है और फिर यह पीने योग्य माना जाता है।

3- त्वचा संक्रमण से बचाव
औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी के रस में थाइमोल तत्व पाया जाता है जिससे त्वचा के रोगों में लाभ होता है। पातालकोट के आदिवासी हर्बल जानकारों के अनुसार तुलसी के पत्तों को त्वचा पर रगड़ दिया जाए, तो त्वचा पर किसी भी तरह के संक्रमण में आराम मिलता है।

4- दिल की बीमारी में वरदान
दिल की बीमारी में यह वरदान साबित होती है, क्योंकि यह खून में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करती है। जिन्हें हार्ट अटैक हुआ हो, उन्हें तुलसी के रस का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए। तुलसी और हल्दी के पानी का सेवन करने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा नियंत्रित रहती है और इसे कोई भी व्यक्ति सेवन में ला सकता है।

5- झाइयां कम करने के लिए
इसकी पत्तियों का रस निकाल कर बराबर मात्रा में नींबू का रस मिलाएं और रात को चेहरे पर लगाएं, तो झाइयां नहीं रहतीं, फुंसियां ठीक होती हैं और चेहरे की रंगत में निखार आता है।

6- फ्लू से बचाव
फ्लू रोग में तुलसी के पत्तों का काढ़ा, सेंधा नमक मिलाकर पीने से ठीक होता है। डांग- गुजरात में आदिवासी हर्बल जानकार फ्लू के दौरान बुखार से ग्रस्त रोगी को तुलसी और सेंधा नमक लेने की सलाह देते हैं।

7- थकान मिटाने के लिए
पातालकोट के आदिवासी हर्बल जानकार तुलसी को थकान मिटाने वाली एक औषधि मानते हैं। इनके अनुसार अत्यधिक थकान होने पर तुलसी की पत्तियों और मंजरी के सेवन से थकान दूर हो जाती है।

8- माइग्रेन से बचाव
इसके नियमित सेवन से 'क्रोनिक-माइग्रेन' के निवारण में मदद मिलती है। प्रतिदिन दिन में 4-5 बार तुलसी से 6-7 पत्तियों को चबाने से कुछ ही दिनों में माइग्रेन की समस्या में आराम मिलने लगता है।

9- संतान सुख
आदिवासियों द्वारा शिवलिंगी के बीजों को तुलसी और गुड़ के साथ पीसकर नि:संतान महिला को खिलाया जाता है, तो महिला को जल्द ही संतान सुख की प्राप्ति होती है।

10- घमौरियों का इलाज
गर्मियों में घमौरियों के इलाज के लिए डांग- गुजरात के आदिवासी संतरे के छिलकों को सुखाकर पाउडर बना लेते हैं और इसमें थोड़ा तुलसी का पानी और गुलाबजल मिलाकर शरीर पर लगाते हैं। ऐसा करने से तुरंत आराम मिलता है।

 

 

Vote: 
0
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 34,519 24
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 42,657 18
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 15,782 15
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 5,634 9
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 5,743 9
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 18,992 8
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 5,627 7
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 16,936 6
पत्नी को क्यों पिलाएं कलौंजी वाला दूध ? 308 6
झाइयां होने के कारण 3,632 4
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 2,307 4
मासिक धर्म के इन दिनों में शारीरिक संबंध के लिए तड़पती है महिला 140 4
ब्रेस्ट कम कैसे करे- एक्सर्साइज़ टिप्स 1,793 4
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 3,981 4
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 3,322 3
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 3,211 3
मैथी के फायदे और गुण 59 3
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 2,977 3
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 6,276 3
थायराइड की समस्या और घरेलु उपचार 1,677 3
अपने दांतों की देखभाल और उनको रखे दूध जैसे चमकीले तथा स्वच्छ 962 2
जानें बीयर के बारें में 161 2
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 4,220 2
हाई बीपी और माइग्रेन में फायदेमंद है मेंहदी 1,006 2
स्वस्थ रहने की 10 अच्छी आदतें 639 2
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 5,503 2
खून की कमी होने पर करें उपाय 649 2
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 2,256 2
सुबह उठ कर कैसा पानी पीना चाहिए 52 2
कब्ज और पेट साफ रखने के आसान घरेलू उपाय 60 2
ब्रेस्ट साइज़ कैसे करे कम| घरेलू नुस्खे| 1,374 2
इडली को क्‍यूं माना जाता है वर्ल्‍ड का बेस्‍ट ब्रेकफास्‍ट 862 2
मियादी बुखार का कारण क्या है 3,203 2
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 3,260 1
पीलिया कैसा भी हो जड़ से खत्म करेंगे 3,274 1
तरबूज खाने के फायदे 284 1
योगासन से लाभ 1,028 1
माइग्रेन के दर्द से राहत देता है ये आहार 1,181 1
पेट फूलना, गैस व खट्टी डकार से तुरंत राहत दिलाने उपचार के 1,615 1
हाइपर थाइरोइड में शंखपुष्पी का प्रयोग। 1,086 1
पेट में दर्द तथा पेट फूलना 717 1
टांसिल बढ़ना : : 346 1
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 3,927 1
मुहांसे दूर करने के नुस्खे 994 1
बच्चे के कान के पीछे शंकु का समाधान 1,155 1
स्प्राउट्स- सेहत को रखे आहार भरपूर 1,535 1
हल्दी का प्रयोग आप को करे निरोग 1,750 1
लड़कियों की शर्ट में पॉकेट क्यों नहीं होती ! आखिर क्या हैं राज 1,858 1
तिल तथा मस्से हटाने के आसान घरेलू उपचार 9,394 1
स्वास्थ्य शिक्षा कैसे 1,037 1