तुलसी का काढ़ा फायदा ही फायदा

तुलसी का काढ़ा फायदा ही फायदा

तुलसी का काढ़ा पीने से निकलती है किडनी की पथरी बाहर, ये हैं 10 फायदे

भारत के हर हिस्से में तुलसी का पौधा पाया जाता है। इसका पौधा केवल डेढ़ या दो फुट तक बढ़ता है। तुलसी को हिन्दू संस्कृति में अतिपूजनीय पौधा माना गया है। माता तुल्य तुलसी को आंगन में लगा देने मात्र से अनेक रोग घर में प्रवेश नहीं करते हैं। यह हवा को भी शुद्ध बनाने का कार्य करती है। तुलसी का वानस्पतिक नाम ओसीमम सैन्कटम है। आदिवासी भी तुलसी को अनेक हर्बल नुस्खों में अपनाते हैं। आज हम तुलसी से जुडे आदिवासियों के ऐसे 10 हर्बल नुस्खों के बारे में बता रहे है जिनके बारे में शायद ही आपने कभी सुना हो।

तुलसी का काढ़ा पीने से निकलती है किडनी की पथरी बाहर, ये हैं 10 फायदे
तुलसी के इन फायदों के बारे में विस्तार से जानिए।

1- किडनी की पथरी बाहर निकल सकती है
किडनी की पथरी हो, तो तुलसी की पत्तियों को उबालकर बनाया गया काढ़ा शहद के साथ नियमित 6 महीने सेवन करने से पथरी मूत्र मार्ग से बाहर निकल आती है।

2- पानी की शुद्धता के लिए
आदिवासी अंचलों मे पानी की शुद्धता के लिए तुलसी के पत्ते जल पात्र में डाल दिए जाते हैं और कम से कम एक से सवा घंटे पत्तों को पानी में रखा जाता है। कपड़े से पानी को छान लिया जाता है और फिर यह पीने योग्य माना जाता है।

3- त्वचा संक्रमण से बचाव
औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी के रस में थाइमोल तत्व पाया जाता है जिससे त्वचा के रोगों में लाभ होता है। पातालकोट के आदिवासी हर्बल जानकारों के अनुसार तुलसी के पत्तों को त्वचा पर रगड़ दिया जाए, तो त्वचा पर किसी भी तरह के संक्रमण में आराम मिलता है।

4- दिल की बीमारी में वरदान
दिल की बीमारी में यह वरदान साबित होती है, क्योंकि यह खून में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करती है। जिन्हें हार्ट अटैक हुआ हो, उन्हें तुलसी के रस का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए। तुलसी और हल्दी के पानी का सेवन करने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा नियंत्रित रहती है और इसे कोई भी व्यक्ति सेवन में ला सकता है।

5- झाइयां कम करने के लिए
इसकी पत्तियों का रस निकाल कर बराबर मात्रा में नींबू का रस मिलाएं और रात को चेहरे पर लगाएं, तो झाइयां नहीं रहतीं, फुंसियां ठीक होती हैं और चेहरे की रंगत में निखार आता है।

6- फ्लू से बचाव
फ्लू रोग में तुलसी के पत्तों का काढ़ा, सेंधा नमक मिलाकर पीने से ठीक होता है। डांग- गुजरात में आदिवासी हर्बल जानकार फ्लू के दौरान बुखार से ग्रस्त रोगी को तुलसी और सेंधा नमक लेने की सलाह देते हैं।

7- थकान मिटाने के लिए
पातालकोट के आदिवासी हर्बल जानकार तुलसी को थकान मिटाने वाली एक औषधि मानते हैं। इनके अनुसार अत्यधिक थकान होने पर तुलसी की पत्तियों और मंजरी के सेवन से थकान दूर हो जाती है।

8- माइग्रेन से बचाव
इसके नियमित सेवन से 'क्रोनिक-माइग्रेन' के निवारण में मदद मिलती है। प्रतिदिन दिन में 4-5 बार तुलसी से 6-7 पत्तियों को चबाने से कुछ ही दिनों में माइग्रेन की समस्या में आराम मिलने लगता है।

9- संतान सुख
आदिवासियों द्वारा शिवलिंगी के बीजों को तुलसी और गुड़ के साथ पीसकर नि:संतान महिला को खिलाया जाता है, तो महिला को जल्द ही संतान सुख की प्राप्ति होती है।

10- घमौरियों का इलाज
गर्मियों में घमौरियों के इलाज के लिए डांग- गुजरात के आदिवासी संतरे के छिलकों को सुखाकर पाउडर बना लेते हैं और इसमें थोड़ा तुलसी का पानी और गुलाबजल मिलाकर शरीर पर लगाते हैं। ऐसा करने से तुरंत आराम मिलता है।

 

 

Vote: 
0
No votes yet

New Health Updates

Total views Views todaysort descending
सुबह उठकर नींबू पानी पीने के और भी फायदे हैं 199 0
शोरगुल से बढ़ जाता है हार्ट अटैक का खतरा 1,438 0
लेसिक आई सर्जरी के फायदे और नुकसान 376 0
मिठाई में इस्तेमाल होने वाला चांदी का वर्क असली है या नकली 210 0
दाँतों में दर्द व कीड़ा लगा हो तो 90 0
जवान दिखने के बेहतरीन जादुई नुस्खे 2,747 0
आयुर्वेद के अनुसार त्वचा तीन प्रकार कि होती है। 298 0
कैंसर से बचने के घरेलु उपाय 355 0
नवरात्रि में उपवास के दौरान खाएं काजू, पास नही आएगी कमजोरी.. 91 0
मधुमेह का आयुर्वेदिक उपचार 109 0
सोने का अनियमित वक्त मानसिक कार्यक्षमता को प्रभावित करता है 836 0
बेटी की बिदाई- मां के लिए बड़ी चुनौती है इस प्रकार 954 0
कम सोने वाले हो जाएं सावधान 108 0
जानिये रक्तचाप से कैसे प्रभावित होता है आपका शरीर और कैसे करें इसे कंट्रोल 240 0
सिर दर्द को चुटकियों में दूर करता है सिर्फ '1 नींबू' करके देखे प्रयोग 359 0
अवसाद सिंड्रोम और उसके रूपों के जानें इस प्रकार 263 0
केले खाने के फायदे 279 0
क्‍यूं नहीं रखने चहिये फ्रिज में अंडे? 1,474 0
रात में बार-बार भूख लगने की आदत, इस गंभीर बीमारी का है संकेत 466 0
आंख की एपीस्कलेराइटिस : लक्षण, कारण, उपचार को करें निरोग 529 0
लड़की नही समझ पा रही है इशारे तो ऐसे कराएं प्यार का अहसास 111 0
सोने से पहले नहीं करें इन चीजों का सेवन: 283 0
कॉफी बना सकता है आपको बहरा 1,543 0
होशियार : बाजार में आ गई है जहरीली अदरक.. 303 0
नीली रोशनी के ख़तरे? 179 0
अब घर पर ही पाइये काले घुटनों से निजात 1,707 0
थायराइड की समस्या और घरेलु उपचार 1,815 0
कमर दर्द से बचने के घरेलू उपाय 98 0
टूथपेस्‍ट से इस तरह करें प्रेगनेंसी का टेस्‍ट 345 0
टी .बी से बचाब के घरेलु तरीके 470 0
गाजर है ब्रेस्ट कैंसर से बचाव का बेहतर उपाय 359 0
मूड खराब को अच्छा मूड बनाने के टिप्स 678 0
सेहत को रखना है फिट तो इस तरह से लें प्रोटीन... 633 0
हाई ब्लड प्रेशर के कारण खो सकती है आपकी याददाश्त, जानें क्यों? 315 0
सर्दियों में कम पानी पीने से ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ सकता है 604 0
साइकिल चलाने के चमत्कारी फ़ायदे 79 0
गर्मियों में हृदय को दे सुरक्षा 741 0
अब लीजिए दिमाग़ का बैक-अप 1,379 0
डिप्रेशन या किसी मानसिक विकार के कारण 299 0
आप अपने घर पर बालों में मेंहदी कैसे लगाए, मेंहदी लगाने के फायदे जानकर हैरान रह जायगे 784 0
पानी से है प्यार? ...तो आज़माएं ऐक्वा योग 392 0
मासिक धर्म के इन दिनों में शारीरिक संबंध के लिए तड़पती है महिला 217 0
गन्ने के जूस के फायदे 704 0
हरड का काया कल्प प्रयोग 132 0
बाइपोलर डिस-ऑर्डर को न्योता? 157 0
पायरिया के आयुर्वेदिक उपचार: 320 0
कच्ची् लहसुन और शुद्ध शहद खाने के लाभ 107 0
घर पर आसानी से मिनटों में निकाले व्हाइटहेड्स 111 0
अपने दातो की देखभाल कैसे करें 445 0
सुपारी के सेवन से किया जा सकता है पागलपन को कम 661 0