दुबली रह कर दूर रहिए स्तन कैंसर से

दुबली रह कर दूर रहिए स्तन कैंसर से

एक ताज़ा शोध बताता है कि स्तन कैंसर का इलाज करा रही मोटी महिलाओं में दोबारा इस बीमारी के होने का ख़तरा पतली महिलाओं के मुकाबले ज्यादा होता है.

इस अध्ययन में पहली बार ये बात सामने आई है कि जो महिलाएं मोटी होती हैं उन पर मामूली से मामूली बीमारियों का असर भी ज्यादा होता है.

ये शोध बताता है कि जिन मोटी महिलाओं में इस बीमारी का पता चलता है उनमें समय से पहले मरने का खतरा ज्यादा होता है.

इसकी वज़ह शोधकर्ता हार्मोन संबंधी दिक्कते मानते हैं.

इस अध्ययन में जो नतीजे सामने आए हैं वो बताते है कि शरीर पर बढ़ी अधिक चर्बी हार्मोन में बदलाव और सूजन का कारण बनती है और इसकी वजह से कुछ मामलों में ये इलाज होने के बावजूद कैंसर फैल जाता है और दोबारा आ जाता है.

इससे पहले मोटी महिलाओं में इस बीमारी के दोबारा होने कारण उपचार और कीमोथेरेपी दवाइयां का इस्तेमाल माना जाता था.

शोध

साथ ही इस बात की आशंका भी मानी जा रही है कि इन महिलाओं को उनके वज़न को ध्यान में देखते हुए दवा दी गई हो.

ये अध्ययन 7000 महिला मरीज़ों पर किया गया है.

इस शोध का नेतृत्व न्ययॉर्क स्थित अल्बर्ट आइंस्टीन कॉलेज ऑफ मेडिसिन के मोंटेफिओरे मेडिकल सेंटर में डॉक्टर जोसेप स्पर्नों ने किया है.

उनका कहना है, ''हमने पाया कि बेहतरीन इजाल के बावजूद जिन मोटी महिलाओं का इलाज चल रहा था उनमें 30 प्रतिशत बीमारी दोबारा होने का खतरा होता है और करीब 50 प्रतिशत ज्यादा मौत का खतरा होता है.''

डॉक्टर जोसेप ने बताया, ''अगर मोटापे के कारण हुए हार्मोन में बदलावों और सूजन का इलाज किया जाता है तो इससे दोबारा बीमारी होने का खतरा कम किया जा सकता है.''

तुलना

इस शोध में मोटे और अधिक वजनदार मरीज़ों की अन्य मरीज़ों के साथ तुलना की गई. इन लोगों पर नेश्नल कैंसर इंस्टिट्यूट ने तीन तरह की जांच करवाई.

इस शोध में भाग लेने वालों के लिए जरुरी थी कि उनका दिल, गुर्दा, लीवर और बोन मेरो ठीक से काम करे और उन लोगों को इससे अलग रखा गया था जिन्हें स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें थी.

इसका नतीजा ये हुआ कि शोधकर्ता मोटापे से होने वाले प्रभाव को अन्य पहलुओं से अलग कर पाए.

शोधकर्ताओं ने पाया कि बढ़ता बीएमआई यानी (वज़न और लंबाई में संबंध) महिलाओं में कैंसर के दोबारा आने और जल्द मौत का खतरा बढ़ा सकता है.

सच्चाई

डॉक्टर स्पर्नो का कहना है, ''ये जैविक सच्चाई है कि वज़न बढ़ने से कैंसर के दोबारा होने का ज्यादा ख़तरा होता है.''

हालांकि अभी ये नहीं पता चला है कि जांच के बाद वज़न घटने से कैंसर के दोबारा आने का खतरा कम होता है लेकिन कुछ शोध के अनुसार वज़न घटने से इन्सुलिन का स्तर कम होता है जो प्रभावकारी हो सकता है.

ब्रैस्ट कैंसर केयर में क्लिनिकल नर्स विशेषज्ञ कैथरीन प्रेस्टली का कहना है, ''हमें पता है कि सही वज़न कई तरह की बीमारियों के खतरे को कम करने के लिए फायदेमंद होता है.''

ब्रैस्ट कैंसर कैंपन के डॉक्टर स्टूयर्ट ग्रिफ्त्स का कहना है, ''ये अध्ययन इस बात का सबूत है कि मोटापे का हानिकारक प्रभाव हो सकता है.''

अगर सही वज़न पर ध्यान रखा जाए तो उससे खासतौर पर मासिक धर्म के समाप्त होने के बाद स्तन कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है.

 
Vote: 
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 60,440 5
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 19,197 4
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 60,483 4
पीलिया कैसा भी हो जड़ से खत्म करेंगे 4,602 2
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 6,444 2
इसलिए छोटे कद की लड़कियों से सम्बन्ध बनाना ज्यादा पसंद करते है लड़के 546 2
ब्रेस्ट कम कैसे करे- एक्सर्साइज़ टिप्स 2,707 2
पालक की खेती 464 1
यौन संबंध के दौरान दर्द का सच क्या है? 1,246 1
चिकनपॉक्स (छोटी माता): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज 2,333 1
कम उम्र में सेक्‍स करने से बढ़ जाता है इस चीज का खतरा 3,659 1
गिलोय के फायदे और अनेक प्रकार से रोगों से छुटकारा 1,852 1
मियादी बुखार का कारण क्या है 4,140 1
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 4,684 1
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 2,465 1
गूलर लंबी आयु वाला वृक्ष है 4,020 1
जल्‍दी पिता बनने के लिए एक घंटे में करें दो बार सेक्‍स 6,088 1
दूध पचता नही है 28 1
कलौंजी एक फायदे अनेक : कलयुग में संजीवनी है कलौंजी (मंगरैला) 1,310 1
झाइयां होने के कारण 7,133 1
पोषाहार क्या है जानिए 1,679 1
मखाना खाने के जादुई प्रभाव 3,113 1
क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए 4,019 1
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 10,103 1
याद्दाश्‍त खोना ही नहीं, ये लक्षण भी हैं अल्‍जाइमर के संकेत 430 1
क्या है आई वी एफ की प्रक्रिया, जानें 670 1
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 27,134 1
खून की कमी होने पर करें उपाय 984 1
ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए जरूर खाएं टमाटर 256 0
सेहत को रखना है फिट तो इस तरह से लें प्रोटीन... 856 0
हाई ब्लड प्रेशर के कारण खो सकती है आपकी याददाश्त, जानें क्यों? 450 0
सर्दियों में कम पानी पीने से ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ सकता है 842 0
बच्चों के मोटापे के लिए आप तो ज़िम्मेदार नहीं? 186 0
आत्मा के लिए चुनें पर्दे इस प्रकार 779 0
छुहारा और खजूर एक ही पेड़ की देन है। 865 0
गर्मियों में हृदय को दे सुरक्षा 935 0
ऐसी बातों से बिगड़ता है हार्मोन संतुलन, जन्म लेते हैं बुरे लक्षण.. 477 0
अब लीजिए दिमाग़ का बैक-अप 1,588 0
डिप्रेशन या किसी मानसिक विकार के कारण 475 0
आप अपने घर पर बालों में मेंहदी कैसे लगाए, मेंहदी लगाने के फायदे जानकर हैरान रह जायगे 1,113 0
बीड़ी-तंबाकू छुड़ाने का उपाय 98 0
पानी से है प्यार? ...तो आज़माएं ऐक्वा योग 518 0
अंतरंग सम्बन्ध के दौरान लड़की के इन इशारों का करें इंतजार 466 0
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 8,271 0
सोने से पहले नहीं करें इन चीजों का सेवन: 522 0
कॉफी बना सकता है आपको बहरा 1,675 0
पुरुषों की अपेक्षा ज्यादा समय तक जीवित रहती हैं महिलाएं आइये जानें कैसे 612 0
अनार की खेती 1,143 0
होशियार : बाजार में आ गई है जहरीली अदरक.. 469 0
इसलिए कार की सीट पर शारीरिक सम्बन्ध बनाना किया जाता है पसंद 573 0