पांच साल की उम्र तक स्तनपान कराना क्या फायदेमंद है

सभी जानते हैं कि मां का दूध बच्चे के लिए अमृत के समान है. लेकिन क्या पांच साल की उम्र तक दूध पिलाते रहना बच्चे के लिए फायदेमंद हो सकता है?

एमा शार्डलो हडसन दो बच्चों की मां है. उनकी एक पांच साल की बेटी है और दो साल का बेटा है. वो उन दोनों को ही दूध पिलाती हैं.

एमा का मानना है कि दूध पिलाने से उनके बच्चे स्वस्थ्य रहते हैं और जल्दी बीमार नहीं पड़ते.

ब्रिटेन में ये सलाह दी जाती है कि जबतक मां और बच्चा चाहें, स्तनपान कराया जा सकता है.

ब्रिटेन की स्वास्थ्य एजेंसी नेशनल हेल्थ सर्विस ने ऐसा कोई समय सीमा तय नहीं की है कि कब मां को स्तनपान कराना बंद कर देना चाहिए.

छह महीने की उम्र तक बच्चे को सिर्फ मां का दूध पिलाने की सलाह दी जाती है. छह महीने के बाद दूध पिलाने के साथ-साथ दूसरे खाने दिए जा सकते हैं.

स्तनपानइमेज कॉपीरइटGETTY IMAGES

Image captionछह महीने के बाद बच्चे को खाने के लिए कुछ सख्त चीज़े दी जा सकती हैं

ब्रेस्ट फीडिंग के फायदे

विशेषज्ञों का मानना है कि स्तानपान मां और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद है. मां का दूध बच्चों को इंफेक्शन, दस्त और उल्टी से बचाता है.

जो बच्चे मां का दूध पीते हैं उन्हें आगे चलकर मोटापे और दूसरी बीमारियों का खतरा कम रहता है. दूध पिलाना मां के लिए भी फायदेमंद होता है.

इससे स्तन और अंडाशय के कैंसर का रिस्क कम हो जाता है. लेकिन स्तनपान कब तक कराना चाहिए?

मां को स्तनपान कितनी उम्र तक कराना चाहिए इससे जुड़ी कोई सलाह अब तक जारी नहीं की गई है.

नेशनल हेल्थ सर्विस की वेबसाइट के मुताबिक, "आप और आपका बच्चा जबतक चाहे स्तनपान के फायदे ले सकते हैं."

विश्व स्वास्थ संगठन का मानना है कि स्तानपान दो साल की उम्र या उससे ज़्यादा समय के लिए कराया जाना चाहिए.

 

 

स्तनपान

इमेज कॉपीरइटGETTY IMAGES

बच्चे को अतिरिक्त पोषण

लेकिन रॉयल कॉलेज ऑफ पेडियाट्रिक्स एंड चाइल्ड हेल्थ से जुड़े डॉक्टर मैक्स डेवी कहते हैं, "इस बात के कम ही सबूत मिलते हैं कि दो साल की उम्र के बाद स्तनपान से बच्चे को कोई अतिरिक्त पोषण मिलता है."

वो कहते हैं, "दो साल की उम्र के बाद बच्चे को उसकी डाइट के ज़रिए सारे पोषक तत्व मिलने चाहिए. इसलिए इस उम्र में ब्रेस्ट फीडिंग से कोई अतिरिक्त फायदा नहीं मिलता."

मां बच्चे को आगे दूध पिलाते रहना चाहती है, कम करना चाहती है या रोक देना चाहती है, इसका फैसला कई बातों पर निर्भर करता है.

इन बातों में मां का काम पर लौटना, परिवार और दोस्तों का सहयोग, ब्रेस्टफीडिंग कराने में सहजता शामिल है.

डॉक्टर डेवी कहते हैं कि स्तनपान कराना एक बहुत ही व्यक्तिगत बात है.

उनका कहना है, "ये मां और बच्चे के बीच के बॉन्ड को मज़बूत करने में मदद कर सकता है. यकीनन इससे कोई नुकसान भी नहीं होता है. परिवारों को वही करना चाहिए जो उनके हिसाब से सबसे सही हो."

बच्चों के लिए दवा सा है मां का दूध

ब्रेस्ट फीडिंग से जुड़े सवाल

सच्चाई ये है कि ब्रिटेन में करीब 80% महिलाएं स्तनपान कराना शुरू तो करती हैं लेकिन उनमें से कई बच्चे के जन्म के कुछ हफ्तों बाद ही बंद कर देती हैं.

छह साल की उम्र तक सिर्फ एक तिहाई बच्चों को ही मां का दूध मिल पाता है. 12 साल की उम्र तक ये आकड़ा घटकर 0.5% तक आ जाता है.

2016 में छपी एक अंतरराष्ट्रीय स्टडी के मुताबिक ब्रिटेन की महिलाएं दुनिया में सबसे कम समय तक ब्रेस्टफीडिंग कराती हैं.

बच्चों के स्वास्थ्य से जुड़े विशेषज्ञ कहते हैं कि कई बार महिलाओं को स्तनपान शुरू कराने के समय परेशानियां हो सकती हैं और ये भी ज़रूरी नहीं कि उन्हें हमेशा सही सलाह और सहयोग भी मिल जाए.

कई बार महिलाएं सार्वजनिक जगहों पर स्तनपान कराने में असहज और शर्मिंदगी भरा हमसूस करती हैं. इस वजह से वो बच्चे को दूध पिलाना बंद कर देती हैं.

विशेषज्ञों का कहता है, "कई बार महिलाएं स्तनपान नहीं करा पाती या कराना नहीं चाहती, हमें इस बात का भी सम्मान करना चाहिए."

Vote: 
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 52,708 118
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 54,321 63
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 14,844 60
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 23,928 41
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 14,391 37
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 24,121 35
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 8,483 23
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 4,491 22
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 3,667 18
ब्‍लड ग्रुप के अनुसार कैसा होना चाहिये आपका आहार 2,747 14
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 21,280 14
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 8,557 13
झाइयां होने के कारण 5,989 13
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 5,129 12
स्मार्टफोन का बुरा असर 403 12
कम उम्र में सेक्‍स करने से बढ़ जाता है इस चीज का खतरा 3,292 11
वजन कम करने के फायदे, जानकर रहे जायगे हैरान 2,208 11
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 6,022 10
सुबह का नाश्ता राजा की तरह, दोपहर का भोजन राजकुमार की तरह और रात का भोजन भिखारी की तरह करना चाहिए।’ 4,812 10
ब्लैक कॉफी पीने के फायदे 3,163 9
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 4,495 9
स्त्री यौन रोग (श्वेत प्रदर) के लिए औषधि ॥ 939 8
जामुन के गुण और फायदे 2,834 8
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 3,440 7
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 1,845 7
श्वेत प्रदर के रोग को जड़ से मिटा देंगे यह घरेलू उपाय 784 7
क्या है आई वी एफ की प्रक्रिया, जानें 1,210 7
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 5,513 7
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 5,445 7
मौसमी को खाने और मौसमी के जूस को पीने के फायदे और नुकसान 1,616 6
आयुर्वेद में गुनगुना पानी पीने के कई फायदे बताए गए हैं 202 6
क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए 3,237 6
क्या है स्लीप डिस्ऑर्डर 453 6
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 7,403 6
शरीर में रक्त की कमी का होना, रक्त की कमी पूरी करने के लिए क्या करें, जानें 1,425 5
मियादी बुखार का कारण क्या है 3,889 5
धनिया के औषधीय गुण 413 5
हर तरह की खुजली से राहत दिलाते हैं ये घरेलू उपचार इस प्रकार करे पयोग 1,773 5
दालचीनी वाले दूध में छिपा है सेहत और खूबसूरत त्वचा का राज़ 117 5
रात में दूध पीने के फायदे 1,141 5
गाजर खाने के फायदे 433 5
गर्भावस्था के बाद महिलाएं अपनाएं ऐसी डाइट, नहीं होगी कमजोरी 467 5
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 4,714 5
स्प्राउट्स- सेहत को रखे आहार भरपूर 2,169 5
महिलाओं में हार्टअटैक इस प्रकार जानें 392 5
होठों की क्या ज़रूरत है 2,469 5
सप्ताह में इतनी बार सेक्स करना जरूरी है 5,999 5
हाइड्रोसील के कारण लक्षण और इलाज इस प्रकार है जानिए 2,107 4
जानिए पेट दर्द के होने के कारण 882 4
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 4,082 4