फल और सब्जियों के 'रंगों' में छिपा है हमारे स्‍वास्‍थ्‍य का राज

फल और सब्जियों के 'रंगों' में छिपा है हमारे स्‍वास्‍थ्‍य का राज

 फलों व सब्जियों में जो विटामिन्स, मिनरल्स और अन्य पोषक तत्व पाए जाते हैं, वे शरीर के अन्दर पैदा होने वाले नुकसानदेह तत्वों के दुष्प्रभावों को कम करते हैं। इसका कारण यह है कि बहुरंगी खाद्य पदार्थों में एंटीऑक्सीडेंट्स पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं। हमारे  जीवन में रंगों का प्रभाव शुरू से ही रहा है चाहे वह मनुष्य का रंग-रूप, रक्त, बाल या भी फिर पहनावा, सभी में रंगों का अपना प्रभाव है। अगर यह कहा जाय कि रंगों के बिना जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती है, तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। इस बात का प्रमाण अब तक हुए कई शोधों से भी होता है। अब कई शोधें ने यह भी साबित कर दिया है कि फलों और सब्जियों में मौजूद रंग हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद और लाभकारी हैं।

शरीर पर हानिकारक दुष्प्रभाव को कम करना

 स्वास्थ्य के लिए लाभकारी माने गए। यहां तक की लगभग सभी डायटीशियंस इस बात पर एकमत दिखे कि खानपान में अधिक से अधिक कुदरती बहुरंगी खाद्य पदार्थों को शामिल करने से स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण सुधर होता है। आहार विशेषज्ञों का कहना है कि प्रत्येक रंग के खाद्य पदार्थ में अलग-अलग  प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं।
हरा रंग आयरन की प्रचूरता को बाढ़ता है

सब्जियों व फलों में पाए जाने वाले हरे रंग इस बात की सूचना और बीटा केरोटिन नामक तत्व पाए जाते हैं इस खाद्य पदार्थ में प्रचुर मात्रा में आयरन मौजूद है अंगूर, पालक, बन्दगोभी, मटर, सेम, हरी मिर्च, बथुआ, बीन्स, सरसों का साग, चने का साग, मूली के हरे पत्ते आदि।, जो नेत्रों को स्वस्थ रखने में सहायक होते हैं। इनमें उपस्थित पोषक पदार्थ पाचन शक्ति बढ़ाने के साथ ही कैंसर और निम्न रक्तचाप के खतरों को भी कम करते हैं। इसके अलावा यह रंग रोग प्रतिरोध्क क्षमता में बढ़ाने में भी मदद करती है।

खानपान में इस प्रकार के पदार्थो का सेवन उचित है  

अगर आपने कुछ दिनों से पीले रंग के खाद्य पदार्थ नहीं खाएं तो उसका सेवन करें, उसी तरह समय-समय पर सभी रंगों के खाद्य पदार्थों को लेते रहें, जिससे आप अपने को हमेशा तरोताजा महसूस कर सकें, नीरोग रह सकें।
नारंगी रंग आपकी त्‍वचा को  रखे चमकदार

 आम, सन्तरा, मौसमी, पपीता, आडू में विटामिन ए और सी, बीटा कैरोटिन, जिआजेन्थिन, फ्रलेवोनायड, लाइकोपिन और पोटेशियम की भरपूर मात्रा होती है, जो आंखों एवं त्वचा को स्वस्थ रखने में सहायक है। साथ ही मैगनीशियम और कैल्शियम एक-दूसरे के साथ मिलकर हडि्डयों को मजबूती प्रदान करते हैं।

पीला रंग आपकी आंखों की दृष्टि और अधिक बढ़ाता है

चने की दाल, अरहर की दाल, मकई एवं सभी पीले रंगों वाले फलों, सब्जियों एवं खाद्य पदार्थों में रोग प्रतिरोधक विटामिन सी पाया जाता है इसके अलावा बीटा क्राईपटॉक्सैनिथ्न नाम एंटी ऑक्सीडेंट्स पाया जाता है, जो कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाने में सहायक है। यह एंटीऑक्सीडेंट आंखों की सेहत को भी बरकरार रखने में मददगार है।पीले रंग इसलिए आँखों के लिए आवश्यक है 

नीला आपकी यादाश्‍त को तेज रखता है 

 जिआजेंथ्न, रेसवराट्रोल विटामिन सी, फाइबर, फ्रलेवोनायड, काले नीले अंगूर, ब्लैक बेरी, ब्लूबेरी, बैंगनी बन्दगोभी में पोषक तत्व ल्यूटिनइलेगिक एसिड और क्वेरसिटीन होते हैं। शरीर को मजबूती देने के साथ ही याददाश्त को बढ़ाता है। पदार्थों की अवशोषण क्षमता व कैल्शयम को बढ़ाता है। पाचन तन्त्र सुदृढ़ करने के अलावा कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता 

सफेद रंग स्‍तन कैंसर से रक्षा करता है, हार्मोन का संतुलन भी बनाये रखता है
सफेद रंग का लहसुन, केला, अदरक, मशरूम, शलजम, आलू और प्याज जैसे विभिन्न सब्जियों व व्यंजनों को  लजीज बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। लहसुन और प्याज में एलीसिन नामक तत्व पाया जाता है, जो शरीर में ट्यूमर नहीं बनने देते। इसी तरह सफेद रंग के मशरूम में रोगों से लड़ने वाले रसायन पाए जाते हैं। मशरूम में भरपूर मात्रा में फ्रलैवोनॉइड् पाए जाते हैं, जो कोशिकाओं को नष्ट होने बचाने में सहायक होते हैं। यह स्तन कैंसर के खतरों को रोकने के अलावा हार्मोन में भी सन्तुलन बनाए रखता है।

 

 

 

 

Vote: 
0
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 37,783 17
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 2,017 10
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 2,958 6
ब्रेस्ट साइज़ कैसे करे कम| घरेलू नुस्खे| 1,188 6
झाइयां होने के कारण 2,066 6
कलौंजी एक फायदे अनेक : कलयुग में संजीवनी है कलौंजी (मंगरैला) 352 6
क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए 1,554 6
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 28,397 6
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 4,982 5
धूम्रपान स्वास्थ्य के लिये हानिकारक है इससे दिमाग को अत्याधिक नुकसान होता है 739 5
अखरोट खाने के कौन - कौन से फायदे और नुकसान होते है 1,031 5
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 4,656 5
मौसमी का जूस पीने के फायदे 2,759 4
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 1,587 4
मोती जैसे सफेद दांत पाने के लिए ट्राई करें ये 5 घरेलू उपाय 1,986 4
चिकनपॉक्स (छोटी माता): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज 897 3
बिना सर्जरी स्तन छोटे करने के उपाय 1,703 3
श्वेत प्रदर के रोग को जड़ से मिटा देंगे यह घरेलू उपाय 275 3
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 2,780 3
आखें लाल हो तो करें ये उपाय 828 3
चने खाने के फायदे 1,479 3
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 3,211 3
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 2,103 3
जामुन के गुण और फायदे 1,799 3
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 3,822 2
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 1,296 2
मौसमी को खाने और मौसमी के जूस को पीने के फायदे और नुकसान 759 2
फल और सब्जियों के 'रंगों' में छिपा है हमारे स्‍वास्‍थ्‍य का राज 1,052 2
डायरिया होने पर अपनाएं घरेलू उपचार! 451 2
गोरी और सफेद त्वचा के लिए घरेलू नुस्खे 3,175 2
मियादी बुखार का कारण क्या है 2,446 2
बच्‍चों के मानसिक विकास के लिए रोजाना खिलाएं ये 5 आहार 422 2
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 4,826 2
सर दर्द से राहत के लिए करें ये घरेलु उपचार 1,176 2
बड़ी उम्र की महिलाओं से डेटिंग के टिप्स 1,240 2
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 6,313 2
हर तरह की खुजली से राहत दिलाते हैं ये घरेलू उपचार इस प्रकार करे पयोग 1,293 2
रात में दूध पीने के फायदे 753 2
जानें आपके पैरों में झुनझुनाहट क्यों होती है और आपकी सेहत के बारे में क्या कहते हैं! 535 2
पेट फूलना, गैस व खट्टी डकार से तुरंत राहत दिलाने उपचार के 1,273 2
साइकिल चलाने के चमत्कारी फायदे 494 2
जोड़ो में दर्द है तो करें ये उपाय 584 2
मस्सा या तिल हटाना 347 2
मूंगफली खाने के आत्याधिक फायदे 632 2
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 2,852 2
हाइड्रोसेफेलस है गंभीर मानसिक बीमारी, जानें इसके लक्षण और उपचार 383 2
गुप्तांगो या बगलों के बालों की सफाई का महत्व 8,474 2
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 2,518 2
लकवा (पैरालिसिस): लक्षण और कारण 382 2
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 2,530 2