बच्चों में खाने की अच्छी आदतें विकसित करें

बच्चों में खाने की अच्छी आदतें विकसित करें

पूर्वस्कूली बच्चे दूसरों की नकल करना पसंद करते हैं। संभव है कि वे आपकी भोजन वरीयताओं को अपनाएँ या शारीरिक गतिविधियों के स्तर जैसी आपकी जीवन-शैली की नकल करें। जब भी संभव हो, अपने बच्चों के साथ पारिवारिक भोजन करने की कोशिश करें। आपके बच्चों को भोजन तथा नाश्ता करते समय फल, सब्जियाँ और अनाज खाने का मज़ा लेने दें। 

अपने बच्चों को परिवार के बाक़ी लोगों के साथ खाने दें 
परिवार के साथ भोजन करने से बच्चों का ध्यान खाने की ओर जाता है और आपको भी बढ़िया आहार खाने से संबंधित व्यवहार दिखाने का मौक़ा मिलता है। जितना संभव हो, उतनी बार सपरिवार भोजन करने की कोशिश करें।

नाना प्रकार के खाद्य पदार्थों की पेशकश करें 
पूर्वस्कूली बच्चों को कई प्रकार के खाद्य पदार्थों की पेशकश से उन्हें प्रत्येक खाद्य समूह से ज़रूरी पोषक पदार्थ पाने में मदद मिलती है। उनके द्वारा नए और कई क़िस्म के खाद्य पदार्थों को आज़माने व खाने की संभावना भी बढ़ती है।  
प्रमुख भोजन में कम से कम 3-4 खाद्य समूहों से आहार उपलब्ध कराएँ। खाए जाने वाले स्वास्थ्यकारी खाद्य पदार्थों के रेंज को विस्तृत करने के लिए, नाश्ते में फल, पनीर या दूध के उत्पाद, गेहूँ की ब्रेड जैसे पोषक तत्वों से समृद्ध खाद्य पदार्थ चुनें।

नियमित समय पर भोजन और नाश्ता कराएँ 
हर दिन 3 मुख्य भोजन करें और 2 या 3 बार स्नैक्स खाएँ। मुख्य भोजन हेतु भूख बनाए रखने के लिए मुख्य भोजन और स्नैक्स के बीच कम से कम 1.5 घंटे का अंतर रखें। भोजन के लिए पर्याप्त समय-सीमा, जैसे 30 मिनट का समय रखें। जब आपके बच्चे की भोजन में दिलचस्पी न हो, तो इसका मतलब है कि उसका पेट भर चुका है। मुख्य भोजन के बाद उन्हें दूध पिलाने या स्नैक्स खिलाने से बचें। अन्यथा आपका बच्चा मुख्य भोजन को छोड़ने और स्नैक्स का इंतज़ार करने के लिए प्रोत्साहित होगा। नाश्ता कराने के समय में लचीलापन रखें, अगर आपका बच्चा कहता है कि उसे भूख लगी है, तो पहले थोड़ा-सा स्वास्थ्यकारी स्नैक्स खाने के लिए दें।       

अपने बच्चों को तय करने दें कि कितना खाएँ 
अपने बच्चों को छोटे और आराम से खाने लायक़ मात्रा में आहार की पेशकश करें। उनसे कहें कि यदि फिर भी उनकी भूख न मिटे तो उन्हें और खाने के लिए दिया जाएगा। पूरा खाना ख़त्म करने पर ज़ोर न दें। आपके बच्चों को अपने आप अपनी भूख मिटाना सीखने दें। कितना खाना है, यह उन्हीं को तय करने दें। इससे वे लंबे समय में ज़्यादा खाने और मोटापे से बचेंगे। यह भोजन के समय को अधिक मनोरंजक तथा तनाव मुक्त भी करता है।

नए आहार खिलाने की कोशिश में हार न मानें 
बच्चे हमेशा सीधे नए आहार और सब्जियों को स्वीकार नहीं करते। कभी-कभी बच्चों द्वारा नए आहार को आज़माने की कोशिश कराने में 10 से भी ज़्यादा बार प्रयास करना पड़ सकता है।   
आप अपने बच्चे के लिए अच्छे मॉडल बनें। यदि आप उनके साथ वही खाना खाते हैं, तो वे उसे आज़माने के लिए ज़्यादा तैयार होंगे। 
कुछ बच्चे अन्य परिचित खाद्य पदार्थों के साथ नए आहार को खाने के लिए ज़्यादा तैयार हो सकते हैं जब कि कुछ बच्चे ऐसा नहीं करते। आहार को विभिन्न तरीक़ों से पेश करने का प्रयास करें, जैसे नए खाद्य पदार्थ को और अन्य व्यंजनों को सामान्य व अलग ढंग से परोसने की कोशिश करें। 

अपने बच्चों को आहार से नहीं, बल्कि उन पर अपने ध्यान से पुरस्कृत करें
अपने बच्चों को गले लगाकर, चूमकर, तारीफ़ करके, उनके साथ खेलकर, कहानी सुनाते हुए या बाहर की गतिविधियों में हिस्सा लेते हुए पुरस्कृत करें।    
बच्चों को इनाम स्वरूप व्यंजन खिलाने से उनमें उसे और खाने की इच्छा जगती है। यदि हम मिठाई या चिप्स को इनाम में दें, तो वे ऐसे पदार्थ ज़्यादा खाना पसंद करेंगे। अगर हम बच्चों से कहते हैं  कि "पहले अपनी सब्जी ख़त्म करो और तब तुम्हें मिठाई मिलेगी", तो वे मिठाई ज़्यादा पसंद करने लगेंगे और सब्जियाँ नापसंद करेंगे।  
जब बच्चे रूठ जाएँ तो उन्हें मनाने के लिए खाद्य पदार्थों का उपयोग करने से बचें। यह उन्हें खाने से राहत पाना सिखाता है। उन्हें गले लगाकर, चूमकर, या बातें करके मनाने की कोशिश करें।

खाने का सकारात्मक माहौल बनाएँ 
भोजन का समय खाद्य पदार्थों और खाने की सराहना करने का मौक़ा है। बड़े बच्चे टेबल सजाना, फल या सब्जियाँ धोना जैसे सामान्य भोजन-संबंधी कार्यों को करने में मदद कर सकते हैं। इससे बच्चों में आत्म-सम्मान और उपलब्धि की भावनाओं को बढ़ाने में मदद मिलती है। 
बच्चों के साथ खाने के लिए बैठकर ख़ुशनुमा माहौल पैदा करें। खिलौने और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जैसी सभी ध्यान भटकाने वाले चीज़ों को हटाएँ। भोजन करते समय टेलीविज़न बंद रखना चाहिए। 

Vote: 
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 56,377 17
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 25,332 14
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 17,103 12
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 57,022 11
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 9,211 11
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 16,212 10
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 25,427 8
झाइयां होने के कारण 6,525 7
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 7,612 7
फिट रहना है तो रात में कम, सुबह ज्यादा खाएं 807 6
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 9,333 6
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 5,909 6
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 5,872 6
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 4,906 6
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 6,476 5
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 4,975 5
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 4,035 5
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 2,076 4
आखें लाल हो तो करें ये उपाय 1,620 3
मसूड़ों में रक्त स्राव को रोकने के लिए कारण और उपचार 953 3
दही दूर कर सकता है अपके पैरों का फंगल इंफेक्शन 521 3
जल्‍दी पिता बनने के लिए एक घंटे में करें दो बार सेक्‍स 5,882 3
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 5,858 3
स्प्राउट्स- सेहत को रखे आहार भरपूर 2,298 3
किडनी डायलीसिस क्यों......? 315 3
मोती जैसे सफेद दांत पाने के लिए ट्राई करें ये 5 घरेलू उपाय 2,752 3
हाई बीपी और माइग्रेन में मेंहदी इस प्रकार फायदेमंद 911 3
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 3,214 3
पेट दर्द और पेट में मरोड़ का कारण, लक्षण और उपचार आइए जानें 1,814 2
जबरदस्त फोरप्ले ही देता है दमदार सम्बन्ध का मजा 386 2
लड़कियों की शर्ट में पॉकेट क्यों नहीं होती ! आखिर क्या हैं राज 2,549 2
पत्नी को क्यों पिलाएं कलौंजी वाला दूध ? 543 2
पेट बाहर है उसे अंदर करने के तरीके 2,394 2
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 3,438 2
ख़तरनाक है सेक्स एडिक्शन 5,461 2
साबुन या फ़ेसवॉश से त्वचा रूखी होती है 387 2
ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए जरूर खाएं टमाटर 210 2
सेहत को रखना है फिट तो इस तरह से लें प्रोटीन... 780 2
छुहारा और खजूर एक ही पेड़ की देन है। 682 2
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 21,826 2
हाइड्रोसील के कारण लक्षण और इलाज इस प्रकार है जानिए 2,238 2
दिमागी दौरा या ब्रेन स्ट्रोक से पाएं छुटकारा 1,794 2
ब्‍लड ग्रुप के अनुसार कैसा होना चाहिये आपका आहार 2,841 2
शल्य क्रिया से स्तनों का आकार घटाने का तरीका 2,435 1
RO हटाओ, तुलसी लगाओ 228 1
प्राकृतिक चिकित्सा 1,453 1
आर्टिकल जो आपकी जान बचा सकता है 1,503 1
गुर्दे की बीमारियों की चपेट में अब युवा भी 385 1
लौंग के तेल के फायदे जानकर रह जायेंगे हैरान 947 1
ब्रेस्ट का आकार कैसे कम करें माइक्रो लिपो से 707 1