हर 4 में से 1 भारतीय बच्चे को है डिप्रेशन!

आज विश्व स्वास्थ्य दिवस यानी वर्ल्ड हेल्थ डे है. विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO की स्थापना के उपलक्ष्य में हर साल 7 अप्रैल को मनाए जानेवाले इस दिन हर वर्ष स्वास्थ्य से संबंधित एक थीम का चयन किया जाता है. इस साल वर्ल्ड हेल्थ डे की थीम है डिप्रेशन. प्रस्तुत हैं डिप्रेशन से संबंधित WHO की ताज़ा रिपोर्ट की ख़ास बातें.  

बढ़े डिप्रेशन के मामले  
दुनियाभर में मानसिक बिमारियों का एक प्रमुख कारण डिप्रेशन है. WHO रिपोर्ट के मुताबिक़ ‌वर्ष 2005 से वर्ष 2015 के बीच दुनियाभर में डिप्रेशन के मामलों में 18 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है. आंकड़े भारत के बारे में जो संकेत देते हैं, वो डरानेवाले हैं. भारत में 13 से 15 साल की उम्र का हर 4 में से 1 बच्चा अवसाद यानी डिप्रेशन का शिकार है. भारत की जनसंख्या 131.11 करोड़ है जिसमें से 13 से 15 साल की उम्र के किशोरों की संख्या 7.5 करोड़ है. यह कुल जनसंख्या का 5.8% है. पूरे दक्षिण-पूर्व एशिया की बात करें तो 8.6 करोड़ लोग डिप्रेशन की चपेट में हैं. 

डिप्रेशन के लक्षण को आसानी से समझा जा सकता है जैसे ठीक से नींद नहीं आना, कम भूख लगना, आत्मविश्वास की कमी होना, हमेशा थकान महसूस होना, एकाग्रता में कमी महसूस करना, मादक पदार्थों का सेवन औऱ आत्महत्या के खयाल आना यह सभी इसके लक्षण है।

हालांकि इन डिप्रेशन के इन लक्षणों से हम आसानी से मुकाबला किया जा सकता है। अगर आप डिप्रेश है तो अपने सबसे करीबी व्यक्ति से संपर्क करें और खुद को अकेला ना समझे उनसे बात करें। अपनी लाइफ का रुटीन बना अपने लक्ष्य को तय करें। सेहतमंद चीजें खाएं और व्यायाम जारी रखें। इतना ही नहीं डिप्रेशन को खुद से कोशों दूर रखने के लिए योग और ध्यान का अभ्यास करें। रुटीन से बिस्तर पर जाएं औऱ भरपूर नींद लें। समस्या बढ़े तो फैमिली डॉक्टर के पास जाएं डॉक्टर कहे तो मनोचिकित्सक के पास जाएं।

आत्महत्या मौत का दूसरा बड़ा कारण
WHO की दक्षिण पूर्व एशिया क्षेत्र की निदेशक पूनम खेत्रपाल सिंह ने कहा कि डिप्रेशन, आत्महत्या का कारण बन सकता है और दक्षिण पूर्व एशिया में 15 से 29 वर्ष की उम्र के लोगों के बीच मौत का दूसरा सबसे बड़ा कारण आत्महत्या ही है. दक्षिण पूर्व एशिया के 10 देशों में से भारत में सबसे ज्यादा आत्महत्या की जाती है. WHO ने ‘दक्षिण पूर्व एशिया में किशोरों के मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति’ नामक रिपोर्ट जारी की जिसमें कहा गया है कि वर्ष 2012 में भारत में 15 से 29 साल के उम्रवर्ग के प्रति 1 लाख व्यक्ति पर आत्महत्या दर 35.5 थी. अवसाद यानी डिप्रेशन पर केंद्रित WHO की रिपोर्ट बताती है कि 7% किशोर अपने परिवार के सदस्यों, शिक्षकों और बड़े लोगों की टिप्पणियों से आहत महसूस करते हैं. रिपोर्ट कहती कि 25% किशोर 'अवसादग्रस्त और उदास या निराश' हैं जबकि 11% ज़्यादातर समय अपने काम पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाते.

अकेलापन महसूस करते हैं बच्चे
WHO का कहना है कि 8% किशोर चिंता की वजह से बेचैनी के शिकार हैं या वे सो नहीं पाते हैं. वहीं 8 प्रतिशत किशोर ज़्यादातर समय अकेलापन महसूस करते हैं. 10.1% किशोरों का कोई घनिष्ठ मित्र नहीं है. रिपोर्ट के अनुसार बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने शिकायत की है कि उनके माता-पिता उन्हें पर्याप्त समय नहीं दे पाते हैं. अकेलेपन का शिकार 4 प्रतिशत किशोर तंबाकू उत्पादों का सेवन करते हैं, जबकि 8 प्रतिशत शराब पीते हैं.

Vote: 
4
Average: 4 (1 vote)

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 48,923 23
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 51,705 19
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 12,635 19
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 22,446 10
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 22,591 9
प्राकृतिक चिकित्सा 1,300 9
साइकिल चलाने के चमत्कारी फ़ायदे 158 8
स्मार्टफ़ोन बिगाड़ रहा है आंखों की सेहत 223 7
लिक्विड सोप से हाथ धोते हैं तो सतर्क हो जाएं! 266 6
स्वाद से भरपूर पोहे खाने के लाभ और फायदे 802 6
अखरोट खाने के कौन - कौन से फायदे और नुकसान होते है 1,793 5
रिश्तों से जुड़ीं ये 5 हैरान करने वाली बातें, जरूर जानिए 1,283 4
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 5,550 4
जबरदस्त फोरप्ले ही देता है दमदार सम्बन्ध का मजा 279 4
नवमी पूजा कब और शुभ मुहूर्त 848 4
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 2,882 4
आयुर्वेद में गाय के घी को अमृत समान बताया गया है 3,147 3
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 5,161 3
कलौंजी एक फायदे अनेक : कलयुग में संजीवनी है कलौंजी (मंगरैला) 946 3
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 4,982 3
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 3,984 3
लिवर सिरोसिस, फेटी लिवर 44 3
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 7,749 3
हल्दी का प्रयोग आप को करे निरोग 2,054 3
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 7,171 3
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 20,787 3
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 2,854 3
क्या आप पार्टनर से लिपट कर सोते हैं 58 3
जानिये कोलेस्ट्रॉल की सच्चाई दोस्तोँ 337 3
फिट रहना है तो रात में कम, सुबह ज्यादा खाएं 719 3
कान में दर्द है तो करें ये उपाय 429 3
टीबी से कैसे करें बचाव, क्या हैं लक्षण, जानें सब. 2,265 2
तेजी से बढ़ रहा बोतल से दूध पिलाने का प्रचलन 1,619 2
आजकल के लड़कों को तो फ्लर्ट करना भी नही आता, ऐसे करते है फ्लर्ट 194 2
क्या शारीरिक फिटनेस के बगैर मानसिकविकास सम्भव है ? 2,610 2
झाइयां होने के कारण 5,499 2
शयनकक्ष में बहुत रोशनी बढ़ा सकती है मोटापा 721 2
हस्तमैथुन करने वाली महिलाएं होती है इन बीमारियों का शिकार 603 2
आटिज्म: समझें बच्चों को और उनकी भावनाओं को 741 2
भूने चने के साथ गुड़ खाने से मिलतें हैं ये अनेक फायदे 612 2
दोस्त बनाने के सबसे आसान तरीके 1,775 2
किडनी को ख़राब करने वाली है ये आदतें……. 1,860 2
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 5,393 2
क्यों जरूरी है विटामिन बी-12? 170 2
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 4,177 2
झुर्रियां दूर करने के घरेलू उपाय 462 2
वीडियो गेम खेल कर दूर हो सकता है डिप्रेशन 1,950 2
हार्ट फेल होने से चली जाती है 23 प्रतिशत लोगों की जान 794 2
आंख की एपीस्कलेराइटिस : लक्षण, कारण, उपचार को करें निरोग 669 2
स्मार्टफोन का बुरा असर 341 2