हाइड्रोसील के कारण लक्षण और इलाज इस प्रकार है जानिए

हाइड्रोसील एक  रोग है यह रोग पुरुषो में होता है  जिसमे इनके एक या दोनों  अंडकोषों में पानी भर जाता है. इस रोग में अंडकोष एक थैली की भांति फुल जाते हैं और गुब्बारें की तरह प्रतीत होते है. इस अवस्था को प्रोसेसस वजायनेलिस या पेटेंट प्रोसेसस वजायनेलिस भी कहा जाता है. ये स्थिति पुरुषों के लिए बहुत पीडादायी होती है. अंडकोष में अधिक पानी भर जाने के कारण इन्हें वहाँ सुजन भी हो जाती है. वैसे तो ये किसी को भी हो सकती है किन्तु अकसर ये रोग 40 से अधिक उम्र के पुरुषों में ही देखा जाता है. इसका उपचार करने के लिए जरूरी है कि इस पानी को बाहर निकाला जाएँ

हाइड्रोसील के होने के कारण 

  •        आनुवांशिक
  •   अधिक शारीरिक संबंध बनाना- 
  •    भरी वजन उठाने
  •     नसों का सूजना
  •  स्वास्थ्य समस्यायें 
  •  बिना लंगोट के जिम / कसरत करना
  •   अंडकोष पर चोट
  •   दूषित मल के इक्कठा होने
  •    गलत खानपान

हाइड्रोसील के होने के लक्षण

  • चलने फिरने में दिक्कत
  • ज्ञानेन्द्रियों की नसों का ढीला और कमजोर पड़ना
  •  उल्टी, दस्त और कब्ज होना
  • अंडकोषों में तेज दर्द ( शुरूआती लक्षण ) 
  •  अंडकोष के आगे का भाग सूजना

हाइड्रोसील रोग का उपचार

हाइड्रोसील के उपचार के रूप में अधिकतर रोगी इसकी सर्जरी या एस्पीरेशन कराते है. जिसमे बहुत धन समय लगता है साथ ही इसके कुछ अन्य परिणाम भी हो सकते है. किन्तु इस रोग से उपचार के रूप में रोगी कुछ प्राकृतिक आयुर्वेदिक उपायों को भी अपना सकते है. ऐसे ही कुछ उपायों के बारे में आज हम आपको बता रहें है जिनका उपयोग करने आप घर बैठे इस रोग से मुक्ति पा सकते हो

 सूर्यतप्त जल ( Make Water Warm Under Sunrays ) : रोगी 25 मिलीलीटर पानी को पीतल के गिलास या पिली बोतल में सूरज की रोशनी में गर्म करें और उस पानी का दिन में 4 से 5 बार ग्रहण करना चाहियें. जलतप्त पानी पीने के 1 घंटे बाद रोगी अपने अंडकोष पर लाल प्रकाश डालें और अगले 2 घंटे बाद नीला प्रकाश डालें. इस प्रक्रिया को अपनाने से भी रोगी को हाइड्रोसील से जल्द ही आराम मिलता है.

 

·         संतरे का रस ( Orange and Pomegranate Juice ) : रोगी रोजाना 15 से 20 दिनों तक दिन में 2 बार संतरे या अनारे के रस का सेवन करें. साथ ही सलाद में भी कच्चा नींबू डालकर खायें. ये हाइड्रोसील की सफल प्राकृतिक चिकित्सा है. इसके साथ ही रोगी को उपवास भी रखने चाहियें. इससे भी अंडकोषों में जलभराव कम होता है 

  5 ग्राम काली मिर्च और 10 ग्राम जीरा लें और उन्हें अच्छी तरह पीस लें. इसमें आप थोडा सरसों या जैतून का तेल मिलाएं और इसे गर्म कर लें. इसके बाद इसमें थोडा गर्म पानी मिलाकर इसका पतला घोल बना लें और इसे बढे हुए अंडकोषों पर लगायें. इस उपाय को सुबह शाम 3 से 4 दिन तक इस्तेमाल करें आपको जरुर लाभ मिलेगा.

      आप 20 ग्राम माजूफल और 5 ग्राम फिटकरी को पीसकर उनका लेप तैयार करें और उसे सूजे हुए अंडकोषों पर लगायें. जल्द ही उनका पानी सुख जायेगा.

काटेरी की जड़ ( Roots of Kateri ) : अंडकोषों में पानी भर जाने पर रोगी 10 ग्राम काटेरी की जड़ को सुखाकर उसे पीस लें. फिर उसके पाउडर / चूर्ण में 7 ग्राम की मात्रा में पीसी हुई काली मिर्च डालें और उसे पानी के साथ ग्रहण करें. इस उपाय को नियमित रूप से 7 दिन तक अपनाएँ. ये हाइड्रोसील का रामबाण इलाज माना जाता है क्योकि इससे ये रोग जड़ से खत्म हो जाता है और दोबारा अंडकोषों में पानी नही भरता.

 

·         लेप ( Paste ) : हाइड्रोसील के इलाज के लिए आयुर्वेद में मुख्य रूप से लेप का इस्तेमाल किया जाता है इसलिए आप कुछ लेप का इस्तेमाल कर भी इस रोग से मुक्त हो सकते हो.

 स्नान ( Bath ) : हाइड्रोसील के रोगियों के उपचार में स्नान भी विशेष स्थान रखता है इसलिए इन्हें हमेशा गर्म पानी में नमक डालकर ही स्नान करना चाहियें. इसके अलावा रोगी कटिस्नान, सूर्यस्नान और मेह्स्नान भी ले सकता है. इससे रोगी को जल्द ही आराम मिलता है

इन सब प्राकृतिक उपायों से हाइड्रोसील / अंडकोष में वृद्धि जैसी समस्या का समाधान किया जाता है. इन उपायों को अपनाने के साथ साथ रोगी को रोज सुबह खुली हवा में व्यायाम भी करना चाहियें. इन प्राकृतिक उपायों में ना तो अधिक धन व्यय करने की आवश्यकता होती है और ना ही इनसे किसी तरह के साइड इफ़ेक्ट का ही ख़तरा होता है. ये इस रोग को जड़ से समाप्त कर देते है जिससे इसके दोबारा होने की संभावना भी कम हो जाती है.

Vote: 
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 53,120 127
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 15,083 90
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 54,621 90
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 14,554 72
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 24,250 45
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 24,051 41
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 8,566 29
झाइयां होने के कारण 6,049 24
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 8,633 21
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 21,336 20
हाथ-पैरो का सुन्न हो जाना और हाथ और पैरो में झनझनाहट होना जानें इस प्रकार 7,235 18
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 5,482 17
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 3,493 16
चेहरे की झाइयाँ दूर करने के घरेलू उपचार 4,760 16
सुबह का नाश्ता राजा की तरह, दोपहर का भोजन राजकुमार की तरह और रात का भोजन भिखारी की तरह करना चाहिए।’ 4,839 15
आँखों का लाल होना जानिये हमारी आँखे क्यों लाल होती है कारण और लक्षण तथा समाधान 5,160 13
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 4,532 12
दिमाग को तेज कैसे बनाये 942 11
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 5,638 11
आधे सर का दर्द और उसका इलाज 1,776 10
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 6,061 10
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 4,530 10
तिल तथा मस्से हटाने के आसान घरेलू उपचार 10,469 10
बिना सर्जरी स्तन छोटे करने के उपाय 2,763 9
सेब खाने के फायदे 851 9
मस्सा या तिल हटाना 772 9
क्यों रहते हैं हाथ-पैर ठंडे? 4,100 8
स्प्राउट्स- सेहत को रखे आहार भरपूर 2,185 8
झुर्रियां दूर करने के घरेलू उपाय 505 8
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 3,713 8
व्रत रखने के फायदे 645 8
चिकनपॉक्स (छोटी माता): घरेलु उपचार, इलाज़ और परहेज 1,949 8
लड़कियों की शर्ट में पॉकेट क्यों नहीं होती ! आखिर क्या हैं राज 2,431 7
काली मिर्च के फायदे 217 7
छुहारा और खजूर एक ही पेड़ की देन है। 535 7
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 1,858 6
जामुन के गुण 1,262 6
जीभ हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में बताती है जैसे 2,127 6
रात में दूध पीने के फायदे 1,148 6
आइये जाने कुटकी के फायदे और नुकसान के बारे में 5,543 6
दोस्त बनाने के सबसे आसान तरीके 1,882 6
पोषाहार क्या है जानिए 1,421 6
लकवा (पैरालिसिस): लक्षण और कारण 1,087 6
हड्डी टूटने पर घरेलु उपचार 1,208 6
स्वस्थ रहने की 10 अच्छी आदतें 970 6
पेट बाहर है उसे अंदर करने के तरीके 2,267 6
स्वास्थ्य शिक्षा कैसे 1,692 6
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 7,424 6
सप्ताह में इतनी बार सेक्स करना जरूरी है 6,010 6
इस मौसमी सीताफल के फायदे जानकर आप रह जाएगे हैरान 3,042 6