हाइपर थाइरोइड में शंखपुष्पी का प्रयोग।

हाइपर थाइरोइड में शंखपुष्पी का प्रयोग।

अवटु ग्रंथि (थाइरोइड ग्लैंड) के अतिस्राव से उत्पन्न कम्पन, घबराहट और अनिद्रा जैसी उत्तेजनापूर्ण स्थिति में शंखपुष्पी काफी अनुकूल प्रभाव डालती है। अवटु ग्रंथि से थायरो टोक्सिन के अतिस्राव से हृदय और मस्तिष्क से हृदय और मस्तिष्क दोनों प्रभावित होते हैं।

हाइपर थाइरोइड में शंखपुष्पी का प्रयोग।

ऐसी स्थिति में शंखपुष्पी थाइरोइड ग्रंथि के स्त्राव को संतुलित मात्रा में बनाये रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। शंखपुष्पी का सेवन थायरो टोक्सिकोसिस के नए रोगियों में एलोपैथिक की औषधियों से भी अधिक प्रभावशाली कार्य करती है। यदि किसी रोगी ने आधुनिक पैथी की एंटी थाइरोइड औषधियों का पहले सेवन किया हो और उनके कारण रोगी में दुष्प्रभाव उत्पन्न हो गए हों, तो शंखपुष्पी उनसे रोगी को मुक्ति दिला सकने में समर्थ है।

अनेक वैज्ञानिकों ने अपने प्रारंभिक अध्ययनों में पाया है के शंखपुष्पी के सक्रिय रसायन सीधे ही थाइरोइड ग्रंथि की कोशिकाओं पर प्रभाव डालकर उसके स्त्राव का पुनः नियमन करते है। इसके रसायनों की कारण मस्तिष्क में एसिटाइल कोलीन नामक अति महत्वपूर्ण तंत्रिका संप्रेरक हॉर्मोन का स्त्राव बढ़ जाता है। यह हॉर्मोन मस्तिष्क स्थिति, उत्तेज़ना के लिए उत्तरदायी केन्द्रों को शांत करता है। इसके साथ ही शंखपुष्पी एसिटाइल कोलीन के मस्तिष्क की रक्त अवरोधी झिल्ली (ब्लड ब्रेन वैरियर) से छनकर रक्त में मिलने को रोकती है, जिससे यह तंत्रिका संप्रेरक हॉर्मोन अधिक समय तक मस्तिष्क में सक्रिय बना रहता है।

शंखपुष्पी की सेवन विधि।

शंखपुष्पी का समग्र क्षुप अर्थात पंचांग ही एक साथ औषधीय उपयोग के काम आता है। इस पंचांग को सुखाकर चूर्ण या क्वाथ के रूप में अथवा ताजा अवस्था में स्वरस या कल्क के रूप में प्रयुक्त किया जाता है। इनकी सेवन की मात्रा इस प्रकार है।
शंखपुष्पी पंचांग चूर्ण – ३ से ६ ग्राम की मात्रा में दिन में दो या तीन बार।
शंखपुष्पी स्वरस – २० से 45 मि ली दिन में दो या तीन बार।
शंखपुष्पी कल्क – १० से 20 ग्राम दिन में दो या तीन बार।

इनके अतिरिक्त शंखपुष्पी से निर्मित ऐसे कई शास्त्रोक्त योग है, जिन्हें विभिन्न रोगों में उपयोग कराया जाता है। जैसे के शंखपुष्पी रसायन, सोमघृत, ब्रह्मा रसायन, अगस्त्य रसायन, वचाघृत, जीवनीय घृत, ब्रह्मघृत इत्यादि।

 

थायराइड रोग के लिए होम्योपैथिक उपचार

होम्योपैथी में, हम कमी या अधिशेष का सप्लीमेंट से नहीं बल्कि कुशल ग्रंथियों समारोह के पुनर्सक्रियन से समस्या का इलाज करने का प्रस्ताव है. हाइपोथायरायडिज्म के लिए इस्तेमाल किया दवाओं हैं:

6 Bromium
200 Thyroidinum

Hyperthyroidism के लिए, निम्न दवा लक्षणों के सबसे से अपेक्षित राहत प्रदान करता है और अगर समय की अवधि आमतौर पर इलाज पर लागू होता है:

200 Iodum

 

New Health Updates

Icon Total views
शल्य क्रिया से स्तनों शल्य क्रिया से स्तनों का आकार घटाने का तरीका 63
बिना सर्जरी स्तन छोटे करने के उपाय बिना सर्जरी स्तन छोटे करने के उपाय 88
ब्रेस्ट साइज़ कैसे करे कम| घरेलू नुस्खे| ब्रेस्ट साइज़ कैसे करे कम| घरेलू नुस्खे| 111
स्तन घटाने के उपाय, तरीके और टिप्स स्तन घटाने के उपाय, तरीके और टिप्स 111
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 110
ब्रेस्ट कम कैसे करे- एक्सर्साइज़ टिप्स ब्रेस्ट कम कैसे करे- एक्सर्साइज़ टिप्स 57
ब्रेस्ट का आकार कैसे कम करें माइक्रो लिपो से ब्रेस्ट का आकार कैसे कम करें माइक्रो लिपो से 149
ब्रेस्ट कम करने के उपाय ब्रेस्ट कम करने के उपाय 194
छाती को कम करने के उपाय एरोबिक्स छाती को कम करने के उपाय एरोबिक्स से 171
Three cups of Coffee may prevent heart attacks हार्ट अटैक से बचना है तो रोज़ पीजिये 3 से 5 बार कॉफी: शोध 1,314
स्किन कैंसर से नहीं बचा सकते सन्सक्रीन स्किन कैंसर से नहीं बचा सकते सन्सक्रीन 231
श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज श्वेत प्रदर का आयुर्वेदिक इलाज 844
चमकती हुई त्वचा के लिए हर्बल ब्यूटी टिप्स चमकती हुई त्वचा के लिए हर्बल ब्यूटी टिप्स 2,149
इडली को क्‍यूं माना जाता है वर्ल्‍ड का बेस्‍ट ब्रेकफास्‍ट इडली को क्‍यूं माना जाता है वर्ल्‍ड का बेस्‍ट ब्रेकफास्‍ट 311
खुश रहने के लिये खूब खाएं फल और सब्‍जियां खुश रहने के लिये खूब खाएं फल और सब्‍जियां 1,170
शोरगुल से बढ़ जाता है हार्ट अटैक का खतरा शोरगुल से बढ़ जाता है हार्ट अटैक का खतरा 957
कॉफी बना सकता है आपको बहरा कॉफी बना सकता है आपको बहरा 1,044
एरोबिक एक्‍सरसाइज हार्टफेल से बचाएगा एरोबिक एक्‍सरसाइज 1,058
शयनकक्ष में बहुत रोशनी बढ़ा सकती है मोटापा शयनकक्ष में बहुत रोशनी बढ़ा सकती है मोटापा 167
तुलसी का काढ़ा फायदा ही फायदा तुलसी का काढ़ा फायदा ही फायदा 600