होठों की क्या ज़रूरत है

होंठ...सर्दियों में सूख जाते हैं और कभी कभी दांत इन्हें भोजन समझने की ग़लती करते हुए चबा जाते हैं. तो आख़िर होठों की ज़रूरत क्या है.

पहले बात करते हैं इनकी अहमियत की. पैदा होने के बाद ही हमारा सबसे पहला कौशल होठों के ज़रिए दिखता है और वह है चूसना.

यह इतना मौलिक है कि मानों हम चूसने की कला सीखकर ही पैदा हुए हों और इसे सीखने की ज़रूरत ही नहीं है. यह लगभग सभी स्तनधारियों के लिए सच है.

पढ़ें विशेष रिपोर्ट

फ़ाइल फोटो

होंठ शिशुओं को स्तनपान करने की अनुमति देता है. शिशु के मुंह और गालों के साथ जो भी चीज़ संपर्क में आती है, शिशु का सिर उस तरफ मुड़ जाता है.

जैसे ही कोई चीज़़ नवजात के होठों से छूती है, चूसने की भावनाएं सक्रिय हो जाती हैं. इसके बाद जीभ को काफी काम करना पड़ता है और होठ टाइट सील की तरह काम करते हैं ताकि शिशु मुंह में मौजूद चीज़ को निगल सके.

इसका मतलब है कि स्तन से या बोतल से दूध पीना नवजात शिशु का निष्क्रिय व्यवहार नहीं है.

यह एक तरह का वार्तालाप है, क्रमिक विकास की एक प्रक्रिया है, जिसके केंद्र में होते हैं होंठ.

होंठों को पढ़ो

फ़ाइल फोटो

भोजन करने और भाषण देने में होंठों की भूमिका अहम है. भाषा विज्ञान में इनकी ख़ास अहमियत है.

होंठ ध्वनि का उच्चारण करने में मदद करते हैं और इसकी वजह से व्यक्ति गले से निकली ध्वनि को वार्तालाप में बदलने में सक्षम हो सका है. विभिन्न उच्चारणों के लिए जीभ और होठों के बीच सामंजस्य ज़रूरी है.

यक़ीनन, बातचीत मानव जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, लेकिन सभी मनुष्य मानेंगे कि इसमें उतना मज़ा नहीं, जितना चुंबन लेने में है.

हालाँकि चुंबन लेना विश्वव्यापी संस्कृति नहीं है. कई संस्कृतियों में यह नज़र ही नहीं आता है. डार्विन ने खुद इस बात का उल्लेख किया था कि कई संस्कृतियां हैं, जिनमें चुंबन नदारद है.

सर्वव्यापी नहीं है चुंबन

फ़ाइल फोटो

‘एक्सप्रेशन ऑफ़ इमोशन इन मैन एंड एनिमल्स’ में डार्विन लिखते हैं, "हम यूरोपीय लोग स्नेह दिखाने के लिए चुंबन के इस कदर आदी रहे हैं कि यह मान लिया गया कि यह मानव जाति का जन्मजात गुण है."

लेकिन ऐसा नहीं है. न्यूज़ीलैंड के माओरी आदिवासी, पापुआ, ऑस्ट्रेलिया, सोमालिया, एस्किमो के बीच ‘चुंबन’ का कोई ज़िक्र नहीं था.

चाहे चुंबन सर्वव्यापी न हो पर इसकी जड़ें जीव विज्ञान में मिल सकती हैं, शायद विरासत में मिले आवेग और सीखे गए व्यवहार के संयोजन के रूप में.

फ़ाइल फोटो

अन्य प्रजातियां भी चुंबन करती हैं. मसलन चिंपांज़ी लड़ाई के बाद मेल-मिलाप करने के लिए चुंबन लेते हैं, जबकि बोनोबोस इसके लिए होठों के साथ-साथ जीभ का भी इस्तेमाल करते हैं.

वर्ष 2008 में ‘साइंटिफ़िक अमेरिकन माइंड’ में लेखक चिप वाल्टर ने ब्रितानी जीव विज्ञानी डेसमंड मॉरिस का हवाला देते हुए तर्क दिया कि चुंबन की उत्पत्ति संभवत: प्राचीन काल में चबाए गए भोजन को बच्चों को देने से हुई.

उदाहरण के लिए, चिंपाज़ी माताएं मुंह में खाना चबाने के बाद अपने होठों से छोटे चिंपाज़ी बच्चों के होठों को दबाती हैं और फिर उनके मुंह में इसे डाल देती हैं.

संवेदनशील

थिंकस्टॉक इमेज

होंठ बेहद नाज़ुक और संवेदनशील होते हैं. होठों के स्पर्श का सिग्नल दिमाग़ के हिस्से - सोमाटोसेंसरी कॉर्टेक्स को मिलता है.

शोधकर्ता गॉर्डन गैलप के अनुसार, जिन संस्कृतियों में चुंबन की परंपरा नहीं है, "वहाँ सेक्स पार्टनर्स संभोग से पहले एक-दूसरे के चेहरे को चाटते, चूसते हैं या चेहरे पर चेहरा रगड़ते हैं."

फ़ाइल फोटो

इसी तरह तथाकथित ‘एस्किमो किस’ सिर्फ नाक से नाक रगड़ना भर नहीं है.

संभव है कि चुंबन रोमांटिक पार्टनर्स की गंध लेने की प्रक्रिया के दौरान अस्तित्व में आया हो.

इससे मनुष्य इस बात का भी फ़ैसला करता है कि वह अपने पार्टनर को असल में कितना चाहता है.

Health: 
Vote: 
0
No votes yet

New Health Updates

Total views Views today
कब सेक्स के लिए पागल रहती है महिलाएं 48,541 43
स्तनों को छोटा करने के घरेलू उपाय 51,412 29
लिंग बड़ा लम्बा और मोटा करने के घरेलू उपाय 12,574 27
स्पर्म काउंट कितना होना चाहिए 12,406 25
क्या आप पार्टनर से लिपट कर सोते हैं 24 19
प्रेगनेंसी में डांस करने के तरीके 24 18
लहसुन रात को तकिये के नीचे रखने का जादू 22,438 17
पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज 3,921 14
पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से नुकसान नहीं बल्कि होते हैं फायदे 22,294 13
सप्ताह में इतनी बार सेक्स करना जरूरी है 5,689 11
झाइयां होने के कारण 5,470 10
झाइयाँ को दूर करने के घरेलु उपाय 2,806 9
सेक्‍स करने से लोगों को होते हैं ये 10 फायदे 4,240 7
बड़ी उम्र की महिलाओं से डेटिंग के टिप्स 1,701 7
कमर की चर्बी कम करने के लिये पीजिये ढेर सारा पानी 1,435 7
फिस्टुला रोग क्या है , इसको पहचाने के लक्षण इस प्रकार 3,106 6
आंख की एपीस्कलेराइटिस : लक्षण, कारण, उपचार को करें निरोग 663 5
जामुन के गुण और फायदे 2,650 5
मौसमी का जूस पीने के फायदे 4,208 5
टिटनेस इंजेक्‍शन से हो सकती हैं ये दिक्‍कतें 20,749 5
स्तन घटाने के उपाय, तरीके और टिप्स 2,224 5
प्याज से करें प्यार और रहें फिट 1,572 5
योगासन से लाभ 1,295 5
कान के पीछे सूजन लिम्फ नोड्स: उपचार तथा कारण का निवारण इस प्रकार करें 5,522 5
बहरे लोगो के सुनगे का आसान तरीका 4,941 5
गाजर खाने के फायदे 360 5
खून में थक्‍के जमने के कारण और उपचार के तरीके 5,373 5
चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय 4,156 5
एंटीबायोटिक दवाओं से अधिक गुण है लहसुन में! 875 4
शादीशुदा जीवन में चाहती है भरपूर रोमांस तो पहने ऐसे अंत-वस्त्र 80 4
घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज 7,150 4
ब्रेस्ट कम करने के लिए क्या खाएं 3,118 4
होठों की क्या ज़रूरत है 2,355 4
पार्टनर के साथ इंटिमेट होने से पहले ये चीजें चैक लें कहीं.... 224 4
पेट दर्द और पेट में मरोड़ का कारण, लक्षण और उपचार आइए जानें 1,599 4
वीडियो गेम खेल कर दूर हो सकता है डिप्रेशन 1,948 3
सामान्य बीपी में भी ज्यादा नमक होता है खतरनाक 618 3
आखें लाल होने पर क्या उपाय करें 982 3
लोकस्वास्थ्य क्या है जानें 295 3
ख़तरनाक है सेक्स एडिक्शन 5,074 3
आधे सर का दर्द और उसका इलाज 1,598 3
पहचानें डिप्रेशन के लक्षण 709 3
सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहननी चाहिए 7,767 3
अंगुली के नाम, रोग और कार्य 647 3
टाइफाइड में लिए दिए जाने वाले आहार 1,151 3
लौकी खाने के फायदे 531 3
दालचीनी वाले दूध में छिपा है सेहत और खूबसूरत त्वचा का राज़ 37 3
दूध को इस प्रकार पिये 757 3
हर बीमारी का ताल्लुक़ विटामिन डी से नहीं 41 3
सुबह उठ कर खाली पेट कैसे पानी पीना चाहिए 1,478 3