स्वास्थ्य समाचार

मुहांसे दूर करने के नुस्खे

मुहांसे दूर करने के नुस्खे

आप अपने चेहरे पर मुहांसों से परेशान हैं तो अपनाएं कुछ ऐसे नुस्खे जिससे आपकी सारी समस्या दूर हो जाएगी.

मुहांसे क्या हैं?

मुहांसे (Pimples or Acne) त्वचा की एक स्थिति है जो सफेद, काले और जलने वाले लाल दाग के रूप में दिखते हैं. यह लगभग 14 वर्ष की आयु से शुरू होकर 30 वर्ष तक कभी भी निकल सकते हैं. ये निकलते समय तकलीफदायक होते हैं और बाद में भी इसके दाग-घब्बे चेहरे पर रह जाते हैं.

मुहांसों के कारण

- त्वचा में तेल की अत्यधिक मात्रा का स्राव

- हार्मोनल परिवर्तन के कारण

- त्वचा के बाहरी हिस्से में रुकावट

कड़वे अनुभव से दूर रहना है तो खाएं मीठी नीम

हम भोजन में से कढ़ी पत्ता अक्सर निकाल कर अलग कर देते है. इससे हमें उसकी खुशबू तो मिलती है पर उसके गुणों का लाभ नहीं मिल पाता. कढ़ी पत्ते को धो कर छाया में सुखा कर उसका पावडर इस्तेमाल करने से बच्चे और बड़े भी भी इसे आसानी से खा लेते है, इस पावडर को हम छाछ और निम्बू पानी में भी मिला सकते है. इसे हम मसालों में, भेल में भी डाल सकते है. प्रतिदिन भोजन में कढ़ी पत्ते को दाल, सब्ज़ी में डालकर या चटनी बनाकर प्रयोग किया जा सकता है, जिस प्रकार दक्षिण भारत में किया जाता है.

इसकी छाल भी औषधि है. हमें अपने घरों में इसका पौधा लगाना चाहिए.

जामुन के गुण

जामुन के गुण

1)  जामुन की गुठली चिकित्सा की दृष्टि से अत्यंत उपयोगी मानी गई है। इसकी गुठली के अंदर की गिरी में 'जंबोलीन' नामक ग्लूकोसाइट पाया जाता है। यह स्टार्च को शर्करा में परिवर्तित होने से रोकता है। इसी से मधुमेह के नियंत्रण में सहायता मिलती है। 

२)जामुन के कच्चे फलों का सिरका बनाकर पीने से पेट के रोग ठीक होते हैं। अगर भूख कम लगती हो और कब्ज की शिकायत रहती हो तो इस सिरके को ताजे पानी के साथ बराबर मात्रा में मिलाकर सुबह और रात्रि, सोते वक्त एक हफ्ते तक नियमित रूप से सेवन करने से कब्ज दूर होती है और भूख बढ़ती है।

कैविटी का है कारगर इलाज

कैविटी का है कारगर इलाज

कैविटी आपके दांत के विभिन्न भागों में होने वाले छोटे छेद हैं, जो मुंह की उचित सफाई न होने के कारण दांतों की सड़न के कारण उत्पन्न होते हैं। यह प्रक्रिया तब होती है, जब आपके मुंह में मौजूद बैक्टीरिया स्टार्च और शक्करयुक्त खाद्य पदार्थो को खाते हैं और अम्ल बनाते हैं। इससे दांतों में सड़न पैदा होती है। स्टार्च युक्त खाद्य पदार्र्थो में बिस्किट्स, चॉकलेट्स. आलू, केला और गेहूं की रोटी आदि को शामिल किया जाता है।

दांतों में संक्रमण होने पर कैविटी बन सकती है और उस कैविटी का इलाज नहीं कराने पर दांतों के क्षीण होने का खतरा बढ़ सकता है। पीड़ित व्यक्ति को दांत खोने पड़ सकते हैं।

काफी खतरनाक है हाइपोग्लाइसीमिया, इसकी मार से रहें सजग

हाइपोग्लाइसीमिया

जब रक्त में ग्लूकोज का स्तर 60 ‘एम.जी. / डी.एल.Ó से कम हो जाता है, तो यह स्थिति हाइपोग्लाइसीमिया कहलाती है और 40 ‘एम.जी./ डी.एल.Ó से कम होने पर गंभीर समस्याएं पैदा हो सकती हैं…

सभी प्रकार के घावों में कारगर है लेड

सभी प्रकार के घावों में कारगर है लेड

घाव चाहे पुराना या बड़ा हो, उसके इलाज में लिमिटेड एक्सेस ड्रेसिंग काफी कारगर तकनीक है। इससे मरीज का घाव जल्द भरने के साथ ही एंटीबायोटिक दवाओं का प्रयोग भी कम होता है। यह तकनीक विशुद्ध रूप से देशी है। इसे अपने देश के मरीजों को ध्यान में ही रखकर ईजाद किया है। यह विचार शनिवार को वुंडस केयर काफ्रेंस 2012 में मणिपाल, कर्नाटक से आए डॉ. प्रभात कुमार ने व्यक्त किए।

घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज

घुटने की लिगामेंट में चोट का कारगर इलाज

लिगामेंट्स से संबंधित चोटों के बारे में जानने से पहले यह जानना जरूरी है कि लिगामेंट्स क्या हैं और ये कैसे जोड़ों (ज्वाइंट्स) को सुचारु रूप से संचालित करते हैं?

बेबी के सामने टीवी और मोबाइल का इस्तेमाल हो सकता है सेहत के लिए खतरनाक

बेबी के सामने टीवी और मोबाइल का इस्तेमाल हो सकता है सेहत के लिए खतरनाक

अगर आप भी अपने बेबी के सामने टीवी या मोबाइल का इस्तेमाल करती है तो सावधान हो जाइए क्योंकि ये आपके शिशु के लिए खतरनाक हो सकता है।

आपका बेबी गोरा होगा या सांवला, ऐसे लगाएं पता

जब बेबी छोटा होता है तब उसके सामने मोबाइल में गेम खेलना या उसको मोबाइल दे देना आम बात हो गई है। आप लोग ये सोचते है कि इससे शिशु खेलेगा और काम कर लेगी या थोड़ी देर आरम कर लेगी।

क्यों होती है नवजात शिशुओं को उल्टियां, 3 बार से ज्यादा उल्टियां आना है खतरनाक

लेकिन इसका नुकसान आपको हो सकता है। आइए जानते है कि क्या हो सकता है आपके शिशु को..

ये कहती है रिसर्च 

सामान्य बीपी में भी ज्यादा नमक होता है खतरनाक

आमतौर पर हम अपनी खुराक में नमक की मात्रा को लेकर तभी सचेत होते हैं, जब उच्च रक्तचाप (हाई बीपी) की शिकायत हो। वैज्ञानिकों का कहना है कि यह सोच पूरी तरह गलत है। सामान्य रक्तचाप की स्थिति में भी खाने में ज्यादा नमक नुकसान पहुंचा सकता है। एक ताजा शोध में यह बात सामने आई है।

शोध के अनुसार रक्तचाप में बढ़ोतरी न होने पर भी नमक की ज्यादा मात्रा कुछ अंगों को नुकसान पहुंचा सकती है।

चने खाने के फायदे

 चने खाने के फायदे

 चने खाने के फायदे
 
देशी चना न्यूट्रिएंट्स के मामले में बादाम जैसे महंगे ड्राय फ्रूट्स से ज्यादा फायदेमंद होता है। भिगोए हुए चने में प्रोटीन, फाइबर, मिनरल और विटामिन्स खूब होते हैं जो कई बीमारियों से बचाव के साथ-साथ हेल्दी रहने में भी हेल्पफुल होते हैं। वैसे तो हर व्यक्ति के लिए चने खाने के अपने फायदे हैं, लेकिन खासकर पुरुषाें को तो ये जरूर खाने चाहिए। चने खाने के फायदे
 
खाने का सही तरीका…

Pages