इलेक्ट्रॉनिक उपकरण

टीवी को पीसी में बदल देगा ‘आइबॉल स्‍प्‍लेंडो'

टीवी को पीसी में बदल देगा ‘आइबॉल स्‍प्‍लेंडो'

पीसी-ऑन-ए-स्‍टिक डिवाइसेज की तरह आइबॉल स्‍पलेंडो पॉकेट में फिट हो सकता है। यह इंटेल एटम क्‍वाड-कोर प्रोसेसर व 2जीबी रैम के साथ विंडोज 8.1 पर चलता है। यह इंटेल एचडी ग्राफिक्‍स को सपोर्ट करता है। इसमें 32 जीबी की इंटरनल मेमोरी है जो माइक्रोएसडी कार्ड के सहारे बढ़ायी जा सकती है।

इस डिवाइस को केवल टीवी के एचडीएमआई इनपुट में प्‍लग इन करने की जरूरत है और फिर आप विंडोज पीसी का आनंद आराम से ले सकेंगे। इसमें एचडी ग्राफिक्‍स, मल्‍टी-चैनल डिजिटल ऑडियो, माइक्रोएसडी कार्ड स्‍लॉट, रेग्‍युलर यूएसबी पोर्ट, माइक्रो-यूएसबी पोर्ट, वाइ-फाइ और ब्‍लूटूथ 4.0 है।

सेल्‍फी ड्रोन कैमरा के बारे में जाने

सेल्‍फी ड्रोन कैमरा के बारे में जाने

सेल्‍फी क्लिक करने के शौकीन लोगों के लिए सेल्‍फी ड्रोन कैमरा बनाया गया है। लिली नाम का यह ड्रोन कैमरा जीपीएस तकनीक युक्‍त है और यह आपकी हर कमांड को फॉलो करेगा। इतना ही नहीं, यह आपके निर्देशों की डॉक्‍यूमेंट फाइल भी बनाएगा। 

इस सेल्‍फी ड्रोन कैमरे में 1080 पिक्‍सल का 12 मेगापिक्‍सल वीडियो कैमरा लगा है, जो 25 मील प्रति घंटा की स्‍पीड से 100 फीट की ऊंचाई तक उड़ने में सक्षम है।

लिली को प्री-ऑर्डर के आधार ही बिक्री के लिए उपलब्‍ध कराया जा रहा है। इसकी कीमत 999 डॉलर रखी गई है लेकिन ट्रायल के तौर पर इसे आधी कीमत पर बेचा जा रहा है।

स्मार्ट कंडोम वो बताएगा जो आप भी नहीं जानते

स्मार्ट कंडोम वो बताएगा जो आप भी नहीं जानते

स्मार्ट वॉचेज़ और गूगल ग्लास के बाद पूरी दुनिया में वियरेबल टेक्नोलॉजी को लेकर रुझान बढ़ रहा है. घड़ियों और चश्मों के बाद अब इस कड़ी में नए-नए प्रोडक्ट बाज़ार में उतारे जा रहे हैं और उसी कड़ी में एक नया प्रोडक्ट है स्मार्ट कंडोम. इसकी बिक्री के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हो गई है.

इस स्मार्ट कंडोम को बनाने वाली कंपनी का दावा है कि ये ऐसे कई बारीक सवालों का जवाब भी देगा जिनके बारे में लोग अमूमन सोचते तक नहीं.

ब्रिटेन के एक ऑनलाइन स्टोर पर इसकी बिक्री की प्रक्रिया रजिस्ट्रेशन के ज़रिए शुरू की गई है. कंपनी ने इसे बाज़ार में पेश करने का दावा 2016 में ही किया था.

एलईडी ने बचाई ढ़ाई करोड़ की बिजली!

एलईडी ने बचाई ढ़ाई करोड़ की बिजली!

मोदी सरकार की देश में बिजली संकट से निपटने के लिए एलईडी बल्ब से देश को रोशन करने की मुहिम लोगों को रास आने लगी है। सरकार ने घरेलू किफायती लाइटिंग कार्यक्रम के तहत सामने आए नतीजों में दावा किया है कि देश में पांच करोड़ एलईडी बल्ब वितरित हुए और 2500 करोड़ रुपये की बिजली बचत दर्ज की गई है। मसलन एलईडी बल्ब जलाने से रोजाना 1.75 करोड़ किलोवॉट बिजली की बचत होने का अनुमान लगाया गया है।

Pages