चूहे बनेंगे सुपर जासूस, पहचानेंगे विस्फोटक

चूहे बनेंगे सुपर जासूस, पहचानेंगे विस्फोटक

सुपर स्निफर चूहों का प्रयोग अवैध रूप से तस्करी किए जा रहे ड्रग व विस्फोटकों को पहचानने में बेहतर तरीके से किया जा सकेगा
चूहे बनेंगे सुपर जासूस, पहचानेंगे विस्फोटक और ड्रग .सुपर स्निफर चूहों का प्रयोग अवैध रूप से तस्करी किए जा रहे ड्रग व विस्फोटकों को पहचानने में बेहतर तरीके से किया जा सकेगा 
 विश्व में जानवरों का, खुफिया अभियानों व संदेशवाहक के रूप में प्रयोग हजारों सालों से होता आया है। कबूतर और कुत्तों के प्रयोग की कहानियां तो अक्सर आती रहती हैं, पर वैज्ञानिकों ने इस काम के लिए पहले से अधिक सक्षम जीव विकसित करने पर काम कर रहे हैं। दरअसल अमरीकी वैज्ञानिक चूहों की एक ऐसी नस्ल विसित करने पर का काम कर रहे हैं, जिसकी सूंघने की क्षमता सामान्य चूहों से कई गुना ज्यादा होगी।हालांकि चूहे और कुत्तों में अनुवांशिक रूप से ऐसी गंध पहचानने की क्षमता होती है। लेकिन सुपर स्निफर चूहों का प्रयोग अवैध रूप से तस्करी किए जा रहे ड्रग व विस्फोटकों को पहचानने में बेहतर तरीके से किया जा सकेगा।न्यूयार्क सिटी यूनिवर्सिटी के हंटर कॉलेज में एसोसिएट प्रोफेसर, डॉ फेंसटाइन के अनुसार, उनका इरादा घर से बाहर की सुरक्षा के लिए जानवरों का सही प्रयोग करना है।वैज्ञानिक चूहे की नई नस्ल विकसित करने के लिए उसके जीन में परिवर्तन करेंगे। अभी प्राथमिक स्तर का प्रयोग जैसमिन और पिपरमिंट जैसी गंध को पहचाने पर किया गया है। अगले चरण में ड्रग और विस्फोटक पहचानने का परीक्षण किया जाएगा। बता दें कि कई अफ्रीकी देशों में पहले से ही बारूदी सुरंगें पहचानने में चूहों का प्रयोग किया जाता है।हंटर कॉलेज के प्रोफेसर और प्रमुख रिसर्चर डॉ. शॉरलोट कहते हैं, हम सब एक विस्फोटक पहचानने वाला चूहा विकसित करना चाहते हैं। जिसका प्रयोग कोकीन जैसे ड्रग को भी पकडऩे में किया जाएगा।

Vote: 
No votes yet

New Science news Updates

icon Total views
पृथ्वी के भीतर हो सकते हैं महासागर पृथ्वी के भीतर हैं महासागर जाने विस्तार से 5,610
नेगेटिव ब्लड ग्रुप वाले सभी लोग एलियन्स के वंशज है? नेगेटिव ब्लड ग्रुप वाले सभी लोग एलियन्स के वंशज है? 1,783
बढती ऊम्र की महिलाएं क्यों भाती है पुरूषों को- कारण बढती ऊम्र की महिलाएं क्यों भाती है पुरूषों को- कारण 1,551
मरने से ठीक पहले दिमाग क्या सोचता है | मरने से ठीक पहले दिमाग क्या सोचता है | 1,488
अरबों किलोमीटर का सफ़र संभव अरबों किलोमीटर का सफ़र संभव 2,393
बैंक को बदल रहा है सोशल मीडिया! आपके बैंक को बदल रहा है सोशल मीडिया! 950
अलग-अलग ग्रहों से आए हैं पुरुष और महिलाएं? अलग-अलग ग्रहों से आए हैं पुरुष और महिलाएं? 1,241
पुराने स्मार्टफ़ोन अब भी काफी काम की चीज़ पुराने स्मार्टफ़ोन अब भी काफी काम की चीज़ 1,585
सेल्‍फी का एंगल खोलता है पर्सनालिटी के राज सेल्‍फी का एंगल खोलता है पर्सनालिटी के राज 1,835
आपको डेंटिस्‍ट की जरूरत नहीं पड़ेगी आपको डेंटिस्‍ट की जरूरत नहीं पड़ेगी 1,827
मलेरिया से बचा सकती है,आपको मुर्गी की गंध मलेरिया से बचा सकती है,आपको मुर्गी की गंध 1,877
लघु रूपांतरण से डायनोसोर बने पक्षी लघु रूपांतरण से डायनोसोर बने पक्षी 2,058
ईमेल को हैकरों से कैसे रखें सुरक्षित ईमेल को हैकरों से कैसे रखें सुरक्षित 1,065
जीमेल ने शुरू की ब्लॉक व अनसब्सक्राइब सेवा जीमेल ने शुरू की ब्लॉक व अनसब्सक्राइब सेवा 1,208
कम्‍प्‍यूटर से नहीं सुधरती है स्‍कूली बच्‍चों की पढ़ाई कम्‍प्‍यूटर से नहीं सुधरती है स्‍कूली बच्‍चों की पढ़ाई 998
LG वॉलपेपर टीवी जिसे आप दीवार पर चिपका सकेंगे LG वॉलपेपर टीवी जिसे आप दीवार पर चिपका सकेंगे 1,869
गूगल ग्‍लास नया गूगल ग्‍लास : बिना कांच के 2,697
घोंघे के दिमाग से समझदार बनेगा रोबोट घोंघे के दिमाग से समझदार बनेगा रोबोट 937
 गूगल पर भूल कर भी न करें ये सर्च गूगल पर भूल कर भी न करें ये सर्च 1,690
स्मार्टफोन के लिए एन्क्रिप्शन क्यों ज़रूरी  है स्मार्टफोन के लिए एन्क्रिप्शन क्यों ज़रूरी है 1,345