नवीनतम अविष्कार

मरने से ठीक पहले दिमाग क्या सोचता है |

मरने से ठीक पहले दिमाग क्या सोचता है |

जब से हम पैदा हुए हैं हमारा मस्तिष्क लगातार काम कर रहा है। आपका शरीर सोते समय आराम कर भी लेता है लेकिन मस्तिष्क कभी आराम नहीं करता वो उस समय भी सोचता है, जिस कारण आप सपने देख पाते हैं। मस्तिष्क बहुत सारे काम जैसे सोचना, संख्याओं को याद रखना, लिखने के लिए शब्द देना आदि करता है। बहुत से काम करने के लिए मस्तिष्क का स्थिर होना बहुत ज़रूरी है। आजकल की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में कम समय में अधिक काम करने के लिएदिमाग का सही समय पर सही प्रतिक्रिया देना आवश्यक है। 

LG वॉलपेपर टीवी जिसे आप दीवार पर चिपका सकेंगे

LG वॉलपेपर टीवी जिसे आप दीवार पर चिपका सकेंगे

फ्लैट स्‍क्रीन टीवी को दीवार पर माउंट करने में पैसे तो खर्च होते ही हैं साथ ही इसके अनुसार आपको अपने बैठक कक्ष का डिजाइन और इंटीरियर भी बदलना पड़ता है। लेकिन अब ऐसा नहीं करना पड़ेगा। एलजी ने इसका उपाय खोज लिया है।

कंपनी ने एक नया टीवी बनाया है, जिसे दीवार पर टांगा नहीं जाएगा, बल्कि चिपकाया जा सकेगा। वॉलपेपर टीवी नाम से बनाए गए इस टीवी की मोटाई मात्र 1 मिलीमीटर है और इसे चुंबक की मदद से दीवार पर चिपकाया जा सकेगा।

घोंघे के दिमाग से समझदार बनेगा रोबोट

घोंघे के दिमाग से समझदार बनेगा रोबोट

एक शोध में सामने आया है कि घोंघा के मस्तिष्क में मात्र दो ही कोशिकाएं होने के बावजूद यह मुश्किल परिस्थिति में कठिन फैसला लेने में सक्षम होता है.
घोंघा के दिमाग की इस खूबी से वैज्ञानिक प्रभावित हैं और वह रोबोट का दिमाग ऐसा ही बनाना चाहते हैं ताकि उसे वह आधिक प्रभावी और समझदार बन सके.

शोध के अनुसार घोंघा भले ही तुरंत निर्णय नहीं ले पाते लेकिन वे कठिन परिस्थितियों में अपना दिमागी संतुलन बनाए रखते हैं और कड़े निर्णय लेने में सक्षम होते हैं. 

हवा से बिजली तैयार हो सकेगी

हवा से बिजली तैयार हो सकेगी

हवा से मुफ़्त में बिजली बनाना, एक फंतासी जैसा लगता है लेकिन व्यवसायी और पूर्व वैज्ञानिक लॉर्ड ड्रेसन ने लंदन के रॉयल इंस्टीट्यूशन में एक ऐसी ही तकनीक का प्रदर्शन किया.

उनका दावा है कि फ़्रीवोल्ट नामक यह टक्नोलॉजी हवा में मौजूद तरंगों की ऊर्जा को इस्तेमाल कर बहुत कम उर्जा से चलने वाले उपकरणों जैसे सेंसरों को बिजली मुहैया कराई जा सकती है.

असल में इस टेक्नोलॉजी में हवा में 4जी और डिज़िटल टेलीविज़न की रेडियो तरंगों की ऊर्जा का इस्तेमाल होता है.

शरीर के अंदर देखने वाला कैमरा तैयार

शरीर के अंदर देखने वाला कैमरा तैयार

वैज्ञानिकों ने एक ऐसा कैमरा तैयार कर लिया है जिसके माध्यम से मानव शरीर के पार देखा जा सकता है.

डॉक्टर शरीर के अंदर की जांच करते समय मेडिकल औज़ार इंडोस्कोप का इस्तेमाल करते हैं. ये डिवाइस डॉक्टरों इंडोस्कोपी की प्रक्रिया में मदद के लिए तैयार किया गया है.

अब तक डॉक्टरों को महंगे स्कैन और एक्स-रे पर भरोसा करना पड़ता था.

ये नया कैमरा शरीर के अंदर रोशनी के स्रोत के ज़रिए काम करता है जैसे इंडोस्कोप की लचीली लंबी ट्यूब के अगले सिरे से निकलने वाली रोशनी.

स्मार्ट कंडोम वो बताएगा जो आप भी नहीं जानते

स्मार्ट कंडोम वो बताएगा जो आप भी नहीं जानते

स्मार्ट वॉचेज़ और गूगल ग्लास के बाद पूरी दुनिया में वियरेबल टेक्नोलॉजी को लेकर रुझान बढ़ रहा है. घड़ियों और चश्मों के बाद अब इस कड़ी में नए-नए प्रोडक्ट बाज़ार में उतारे जा रहे हैं और उसी कड़ी में एक नया प्रोडक्ट है स्मार्ट कंडोम. इसकी बिक्री के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हो गई है.

इस स्मार्ट कंडोम को बनाने वाली कंपनी का दावा है कि ये ऐसे कई बारीक सवालों का जवाब भी देगा जिनके बारे में लोग अमूमन सोचते तक नहीं.

ब्रिटेन के एक ऑनलाइन स्टोर पर इसकी बिक्री की प्रक्रिया रजिस्ट्रेशन के ज़रिए शुरू की गई है. कंपनी ने इसे बाज़ार में पेश करने का दावा 2016 में ही किया था.

रोबोट निष्क्रिय करता है बम को

रोबोट निष्क्रिय करता है बम को

अभी हाल ही में अमरीका के डलास में पुलिस ने एकदम नया तजुर्बा किया. शूटआउट में कई पुलिसवालों को मारने वाले शख़्स को, पुलिस ने एक रोबोट की मदद से किए विस्फोट से मार दिया.

डलास की पुलिस का कहना था कि उसे ऐसा इसलिए करना पड़ा क्योंकि हमलावर बहुत शातिर था. उसे पकड़ने या मारने के चक्कर में ही कई पुलिसवालों की जान चली गई थी.

तब पुलिस ने एक और जान गंवाने का जोखिम लेने की जगह, हमलावर को खत्म करने के लिए रोबोट का इस्तेमाल किया.

इस घटना के बाद ख़तरनाक मिशन पर भेजे जाने वाले रोबोट पर पूरी दुनिया में चर्चा तेज़ हो गई.

एलईडी ने बचाई ढ़ाई करोड़ की बिजली!

एलईडी ने बचाई ढ़ाई करोड़ की बिजली!

मोदी सरकार की देश में बिजली संकट से निपटने के लिए एलईडी बल्ब से देश को रोशन करने की मुहिम लोगों को रास आने लगी है। सरकार ने घरेलू किफायती लाइटिंग कार्यक्रम के तहत सामने आए नतीजों में दावा किया है कि देश में पांच करोड़ एलईडी बल्ब वितरित हुए और 2500 करोड़ रुपये की बिजली बचत दर्ज की गई है। मसलन एलईडी बल्ब जलाने से रोजाना 1.75 करोड़ किलोवॉट बिजली की बचत होने का अनुमान लगाया गया है।

Pages

New Science news Updates

icon Total views
पृथ्वी के भीतर हो सकते हैं महासागर पृथ्वी के भीतर हैं महासागर जाने विस्तार से 5,580
नेगेटिव ब्लड ग्रुप वाले सभी लोग एलियन्स के वंशज है? नेगेटिव ब्लड ग्रुप वाले सभी लोग एलियन्स के वंशज है? 1,769
बढती ऊम्र की महिलाएं क्यों भाती है पुरूषों को- कारण बढती ऊम्र की महिलाएं क्यों भाती है पुरूषों को- कारण 1,548
मरने से ठीक पहले दिमाग क्या सोचता है | मरने से ठीक पहले दिमाग क्या सोचता है | 1,478
अरबों किलोमीटर का सफ़र संभव अरबों किलोमीटर का सफ़र संभव 2,390
बैंक को बदल रहा है सोशल मीडिया! आपके बैंक को बदल रहा है सोशल मीडिया! 949
अलग-अलग ग्रहों से आए हैं पुरुष और महिलाएं? अलग-अलग ग्रहों से आए हैं पुरुष और महिलाएं? 1,239
पुराने स्मार्टफ़ोन अब भी काफी काम की चीज़ पुराने स्मार्टफ़ोन अब भी काफी काम की चीज़ 1,582
सेल्‍फी का एंगल खोलता है पर्सनालिटी के राज सेल्‍फी का एंगल खोलता है पर्सनालिटी के राज 1,834
आपको डेंटिस्‍ट की जरूरत नहीं पड़ेगी आपको डेंटिस्‍ट की जरूरत नहीं पड़ेगी 1,823
मलेरिया से बचा सकती है,आपको मुर्गी की गंध मलेरिया से बचा सकती है,आपको मुर्गी की गंध 1,860
लघु रूपांतरण से डायनोसोर बने पक्षी लघु रूपांतरण से डायनोसोर बने पक्षी 2,051
ईमेल को हैकरों से कैसे रखें सुरक्षित ईमेल को हैकरों से कैसे रखें सुरक्षित 1,062
जीमेल ने शुरू की ब्लॉक व अनसब्सक्राइब सेवा जीमेल ने शुरू की ब्लॉक व अनसब्सक्राइब सेवा 1,202
कम्‍प्‍यूटर से नहीं सुधरती है स्‍कूली बच्‍चों की पढ़ाई कम्‍प्‍यूटर से नहीं सुधरती है स्‍कूली बच्‍चों की पढ़ाई 995
LG वॉलपेपर टीवी जिसे आप दीवार पर चिपका सकेंगे LG वॉलपेपर टीवी जिसे आप दीवार पर चिपका सकेंगे 1,858
गूगल ग्‍लास नया गूगल ग्‍लास : बिना कांच के 2,694
घोंघे के दिमाग से समझदार बनेगा रोबोट घोंघे के दिमाग से समझदार बनेगा रोबोट 936
 गूगल पर भूल कर भी न करें ये सर्च गूगल पर भूल कर भी न करें ये सर्च 1,687
स्मार्टफोन के लिए एन्क्रिप्शन क्यों ज़रूरी  है स्मार्टफोन के लिए एन्क्रिप्शन क्यों ज़रूरी है 1,343