भूकंप और सुनामी की चेतावनी देने वाला नया उपकरण

भूकंप और सुनामी की चेतावनी देने वाला नया उपकरण

वैज्ञानिकों ने भूकंप या सुनामी के खतरे की पहले से चेतावनी देने वाला एक उपकरण तैयार किया है जिसका नाम "द ब्रिंको" रखा गया है। इसकी सुविधा मोबाइल एप के रूप में भी उपलब्ध है।

खास बात यह है कि द ब्रिंको अंतरराष्ट्रीय सीस्मिक नेटवर्क से जुड़ा होता है और क्षेत्र में भूकंप या सुनामी का खतरा होने पर यह बोलकर, फ्लैश लाइट और अलार्म के जरिये चेतावनी देता है।

धातु निर्मित सिलेंडरनुमा इस उपकरण में प्राकृतिक आपदाओं को मापने वाला मॉनीटरिग सिस्टम लगा होता है। भूकंप की चेतावनी यह पांच-दस या तीस मिनट पहले देता है, लेकिन सुनामी के बारे में घंटों पहले चेतावनी देता है।

सुनामी के मामले में पहली लहर के बाद दूसरी और ज्यादा खतरनाक लहर की चेतावनी भी इस पर आती है। भूकंप की तीव्रता के अनुसार इसमें लाइट जलती है और नुकसान की आशंका का भी पता चलता है।

इससे जुड़े मोबाइल एप में यूजर्स को उनके फोन पर एलर्ट मिल सकेगा। विशेषज्ञों के अनुसार प्रत्येक ब्रिंको एक सीस्मोग्राफ होता है।

यह उपकरण भूकंप की तीव्रता का डाटा इकट्ठा करके स्थानीय और राष्ट्रीय सीस्मिक और ब्रिंको केंद्रों पर भेजता है। विशेषज्ञों के अनुसार जितने ब्रिंको इस्तेमाल होंगे, इसका नेटवर्क उतना ही शक्तिशाली बनेगा।