महिला नागा साधुओं से जुड़ी ये रोचक बातें

महिला नागा साधुओं से जुड़ी ये रोचक बातें

महाकाल की नगरी उज्जैन में चल रहा सिंहस्थ कुंभ अपने परवान पर है। जहां नागा साधुओं के अलावा महिला साधुओं के भी अखाड़े है। पुरुष नागा साधुओं की तरह ही महिला साधुओं (सन्यासिनों) के लिए भी अखाड़े में कुछ नियम बनाए गए हैं, जिनका पालन करना उनके लिए जरूरी होता है। आइए जानते है महिला साधुओं से जुड़ी कुछ खास और रोचक बातें.
साधु बनने से पहले महिला को 6 से 12 साल तक कठिन बृह्मचर्य का पालन करना होता है। इसके बाद गुरु यदि इस बात से संतुष्ट हो जाते है कि महिला बृह्मचर्य का पालन कर सकती है तो उसे दीक्षा दी जाती है।
महिला को नागा साधु बनाने से पहले अखाड़े के साधु-संत उस महिला के घर परिवार और पिछले जीवन की जांच-पड़ताल करते है।
साधु बनने जा रही महिला को भी नागा सन्यासिन बनने से पहले खुद का पिंडदान और तर्पण करना जरूरी होता है।
महिला को नागा साधु बनाने से पहले उसका मुंडन करवाया जाता है और नदी में स्नान करवाया जाता है।
सिंहस्थ और कुंभ में नागा साधुओं के साथ ही महिला सन्यासिन भी शाही स्नान करती है। अखाड़े में सन्यासिन को भी पूरा सम्मान दिया जाता है।
सन्यासिन बनने से पहले महिला को ये साबित करना होता है कि उसका परिवार और समाज से कोई मोह नहीं है। वह अब सिर्फ भगवान की भक्ति में लीन रहना चाहती है।
पुरुष नागा साधु और महिला नागा साधु में फर्क केवल इतना ही है की महिला नागा साधु को एक पिला वस्त्र लपेट कर रखना पड़ता है और यही वस्त्र पहन कर स्नान करना पड़ता है। इन्हें नग्न स्नान की अनुमति नहीं है।
जिस अखाड़े से महिला सन्यास की दीक्षा लेना चाहती है, उसके आचार्य महामंडलेश्वर ही उसे दीक्षा देते है।
महिला नागा साधु को पूरा दिन भगवान का जप करना होता है। सुबह ब्रह्म मुहूर्त में उठकर, नित्य कर्मों के बाद शिवजी का जप करना होता है, दोपहर में भोजन और फिर से शिवजी का जप। शाम को दत्तात्रेय भगवान की पूजा के बाद ही सोना होता है।
महिला नागा सन्यासिन माथे पर तिलक लगाती है और सिर्फ एक चोला धारण करती है। ये चोला भगवा रंग का या सफेद होता है।
जब महिला नागा सन्यासिन बन जाती है तो अखाड़े के सभी साधु-संत उसे माता कहकर सम्बोधित करते है।

 

महिला नागा साधुओं से जुड़े कुछ रोचक तथ्य
Vote: 
Average: 1 (1 vote)

New Science news Updates

icon Total views
नेगेटिव ब्लड ग्रुप वाले सभी लोग एलियन्स के वंशज है? नेगेटिव ब्लड ग्रुप वाले सभी लोग एलियन्स के वंशज है? 1,665
बढती ऊम्र की महिलाएं क्यों भाती है पुरूषों को- कारण बढती ऊम्र की महिलाएं क्यों भाती है पुरूषों को- कारण 1,465
मरने से ठीक पहले दिमाग क्या सोचता है | मरने से ठीक पहले दिमाग क्या सोचता है | 1,369
अरबों किलोमीटर का सफ़र संभव अरबों किलोमीटर का सफ़र संभव 2,350
बैंक को बदल रहा है सोशल मीडिया! आपके बैंक को बदल रहा है सोशल मीडिया! 922
अलग-अलग ग्रहों से आए हैं पुरुष और महिलाएं? अलग-अलग ग्रहों से आए हैं पुरुष और महिलाएं? 1,193
पुराने स्मार्टफ़ोन अब भी काफी काम की चीज़ पुराने स्मार्टफ़ोन अब भी काफी काम की चीज़ 1,525
सेल्‍फी का एंगल खोलता है पर्सनालिटी के राज सेल्‍फी का एंगल खोलता है पर्सनालिटी के राज 1,790
आपको डेंटिस्‍ट की जरूरत नहीं पड़ेगी आपको डेंटिस्‍ट की जरूरत नहीं पड़ेगी 1,794
मलेरिया से बचा सकती है,आपको मुर्गी की गंध मलेरिया से बचा सकती है,आपको मुर्गी की गंध 1,751
लघु रूपांतरण से डायनोसोर बने पक्षी लघु रूपांतरण से डायनोसोर बने पक्षी 1,984
ईमेल को हैकरों से कैसे रखें सुरक्षित ईमेल को हैकरों से कैसे रखें सुरक्षित 1,027
जीमेल ने शुरू की ब्लॉक व अनसब्सक्राइब सेवा जीमेल ने शुरू की ब्लॉक व अनसब्सक्राइब सेवा 1,157
कम्‍प्‍यूटर से नहीं सुधरती है स्‍कूली बच्‍चों की पढ़ाई कम्‍प्‍यूटर से नहीं सुधरती है स्‍कूली बच्‍चों की पढ़ाई 974
LG वॉलपेपर टीवी जिसे आप दीवार पर चिपका सकेंगे LG वॉलपेपर टीवी जिसे आप दीवार पर चिपका सकेंगे 1,780
गूगल ग्‍लास नया गूगल ग्‍लास : बिना कांच के 2,664
घोंघे के दिमाग से समझदार बनेगा रोबोट घोंघे के दिमाग से समझदार बनेगा रोबोट 919
 गूगल पर भूल कर भी न करें ये सर्च गूगल पर भूल कर भी न करें ये सर्च 1,627
स्मार्टफोन के लिए एन्क्रिप्शन क्यों ज़रूरी  है स्मार्टफोन के लिए एन्क्रिप्शन क्यों ज़रूरी है 1,237
इस साल विज्ञान की सबसे बड़ी खोज इस साल विज्ञान की सबसे बड़ी खोज 4,487