लघु रूपांतरण से डायनोसोर बने पक्षी

लघु रूपांतरण से डायनोसोर बने पक्षी

मेलबॉर्न| आज के पक्षी कल के डायनोसोर थे, यह बात थोड़ी अजीब लगती है। लेकिन एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि डायनोसोर पांच करोड़ वर्षो की क्रमिक विकास प्रक्रिया के दौरान पक्षी में रूपांतरित हो गए। आज के पक्षी का पूर्वज डायनोसोर की थेरोपॉड प्रजाति है।

अपने अस्तित्व को बनाए रखने में डायनोसोर की केवल यही प्रजाति कामयाब रही, क्योंकि अपने आकार को यह लगातार छोटा करता गया।
ऑस्ट्रेलिया के एडिलेड विश्वविद्यालय के माइकल ली ने कहा, “डायनोसॉर के लघु रूपांतरण की अनोखी प्रक्रिया से ही पक्षियों का विकास हुआ।

” पक्षियों के पूर्वजों ने प्रकृति में अपने अस्तित्व को बनाए रखने के लिए पंख, विशबोन (पक्षियों में पाई जाने वाली एक हड्डी) समेत कई अनुकूलनों को विकसित किया। ली ने कहा, “क्रमिक विकास के दौरान खुद में लाए रूपांतरणों से ही यह खतरनाक उल्का प्रभाव से खुद को बचाने में कामयाब रहा, जबकि इस दौरान सारे डायनोसॉर मारे गए।”