विज्ञान एवं तकनीकी समाचार

नया गूगल ग्‍लास : बिना कांच के

गूगल ग्‍लास

गूगल अपने बहुचर्चित प्रोजेक्‍ट गूगल ग्‍लास को दोबारा लॉन्‍च करने की तैयारियां पूरी करने में जुटा हुआ है। ऐसी खबरें हैं कि कंपनी बिना ग्‍लास वाला गूगल ग्‍लास भी लॉन्‍च कर सकती है।

यानी नए गूगल ग्‍लास को बिना ग्‍लास के लॉन्‍च किया जा सकता है लेकिन इसमेमं ऑडियो की सुविधा बनी रहेगी। ग्‍लास प्रोजेक्‍ट पर गूगल के आरा प्रोजेक्‍ट की टीम ही काम कर रही है।

आपको याद होगा कि गूगल ग्‍लास का पहला प्रोटोटाइप 2013 में पेश किया गया था, हालांकि तकनीकी कारणों से कंपनी ने उसे जनवरी 2015 में बाजार से वापस ले लिया था। Read More : नया गूगल ग्‍लास : बिना कांच के about नया गूगल ग्‍लास : बिना कांच के

पृथ्वी के भीतर हैं महासागर जाने विस्तार से

पृथ्वी के भीतर हो सकते हैं महासागर

एक हीरे के अंदर पाई गई रहस्यपूर्ण चट्टान ने इस सवाल को अहम बनाया कि पृथ्वी की सतह के नीचे क्या-क्या छिपा है.

इस रहस्यपूर्ण चट्टान में पानी के कण मिलना महत्वपूर्ण खोज थी. ये चट्टानें हमें बताती हैं कि पृथ्वी के भीतर, सतह के 500-600 किलोमीटर नीचे सदियों पहले क्या हुआ. और वहां क्या मौजूद है.

वैज्ञानिक दशकों से इन सवालों से जूझ रहे हैं कि पृथ्वी पर पानी कैसे आया, महासागर कैसे बनें और क्या पृथ्वी की सतह के नीचे और महासागर छिपे हुए हैं?

अब तक मनुष्य ने पृथ्वी की सतह के नीचे जो सबसे गहरा गड्ढ़ा बनाया है वो 10 किलोमीटर तक ही पहुँच पाया है. Read More : पृथ्वी के भीतर हैं महासागर जाने विस्तार से about पृथ्वी के भीतर हैं महासागर जाने विस्तार से

फ़ोन हैक होने के 7 संकेत और समाधान

फ़ोन हैक होने के 7 संकेत और समाधान

दोस्तों की तस्वीरों से लेकर दफ़्तर के ज़रूरी फ़ोन नंबर या बैंक खातों की डिटेल. मोबाइल आज के युग में आपकी पॉकेट में पड़ा 'रॉकेट' होता है. अब सोचिए अगर आपको पता चले कि आपका फ़ोन हैक हो गया है? आपका जवाब होगा कि जल्द से जल्द इसका समाधान निकाला जाएगा. लेकिन अगर आपका फ़ोन हैक भी हो जाए और आपको पता ही न चले, तब? हम आपको यहां ऐसे ही 7 मौके बताते हैं, जब संभवत: कोई आपका फ़ोन हैक करने की कोशिश कर सकता है. फिर चाहे वो इंसानी दिमाग हो या तकनीक. Read More : फ़ोन हैक होने के 7 संकेत और समाधान about फ़ोन हैक होने के 7 संकेत और समाधान

व्हाट्सऐप पर अफ़वाह फैलाई तो क्या होगी सज़ा

अफ़वाह फैलाई

महाराष्ट्र के धुले ज़िले के राइनपाडा गांव में रविवार को आक्रोशित भीड़ ने एक समुदाय के पांच लोगों को 'बच्चा चोर' होने के शक में पीट-पीटकर मार डाला.

ये सभी लोग घूम-घूमकर भीख मांगने के लिए सोलापुर ज़िले से आए थे और कुछ दिन पहले ही इन लोगों ने धुले ज़िले के बाहर अपना डेरा जमाया था.

ये सभी उस समय इस क्षेत्र से गुज़रे जब बच्चा चोर समूह के महाराष्ट्र पहुंचने की अफ़वाह फैल रही थी.

स्थानीय पुलिस प्रशासन ने सामूहिक हत्या के इस मामले में बच्चा चोर समूह से जुड़ी अफ़वाहों को एक वजह बताया है. Read More : व्हाट्सऐप पर अफ़वाह फैलाई तो क्या होगी सज़ा about व्हाट्सऐप पर अफ़वाह फैलाई तो क्या होगी सज़ा

व्हाट्सऐप ने मैसेज फॉरवर्ड करने पर लगाई पाबंदियां

भारत सरकार का कहना है कि व्हाट्सऐप के ज़रिए फैले संदेशों की वजह से देश में कई लोगों की मॉब लिंचिंग हुई.

भारत सरकार के चेतावनियों के बादए व्हाट्सऐप ने मैसेज फॉरवर्ड करने के अपने नियमों में बदलाव करने का फैसला किया है.

व्हाट्सऐप ने कहा कि वो संदेशों को फॉरवर्ड करने की सीमा तय करेगा, ताकि झूठी जानकारी को फैलने से रोका जा सके.

गुरुवार को भारत सरकार ने व्हाट्सऐप को चेतावनी दी है कि अगर उसने कोई कदम नहीं उठाया तो उसे क़ानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है.

भारत व्हाट्सऐप का सबसे बड़ा बाज़ार है, यहां 20 करोड़ से ज़्यादा लोग व्हाट्सऐप का इस्तेमाल करते हैं. Read More : व्हाट्सऐप ने मैसेज फॉरवर्ड करने पर लगाई पाबंदियां about व्हाट्सऐप ने मैसेज फॉरवर्ड करने पर लगाई पाबंदियां

अब बिना बैटरी चलेगा स्‍मार्टफोन !

अब बिना बैटरी चलेगा स्‍मार्टफोन !

स्मार्टफोन यूजर्स के लिए फोन की बैटरी से जुड़ी परेशानी नई नहीं है। लेकिन अब साइंटिस्ट ने आपकी इस परेशानी का हल खोज लिया है। साइंटिस्ट की रिसर्च में सामने आया कि अब मोबाइल बैटरी के बिना भी काम करेंगे। ये फोन बैकस्कैटर टेक्नोलॉजी पर आधारित हैं और बैटरी की जगह रेडियो सिग्नल के जरिए कनेक्टेड रहेंगे। साइंटिस्ट ने अपने इस रिसर्च का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें बिना बैटरी के फोन के जरिए साइंटिस्ट को कॉलिंग करते हुए देखा जा सकता है। Read More : अब बिना बैटरी चलेगा स्‍मार्टफोन ! about अब बिना बैटरी चलेगा स्‍मार्टफोन !

फाइल्स शेयर करने की बेस्ट वेबसाइट्स

फाइल्स शेयर करने की बेस्ट वेबसाइट्स

इंटरनेट पर फाइल आदि शेयर करने के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल ईमेल या मैसेजिंग ऐप्स का किया जाता है। इनमें सबसे अधिक पॉपुलर है व्हाट्सऐप और जीमेल। गूगल की एक और सेवा गूगल ड्राइव का भी इन दिनों इस्तेमाल किया जाता है। मैसेज या ईमेल के जरिए जब हम फाइल शेयर करते हैं तो एक लिमिटेड साइज़ की फाइल शेयर कर सकते हैं। ज्यादा अधिक हैवी फाइल शेयर करने की अनुमति नहीं होती है।

हालाँकि यदि गूगल ड्राइव की बात करें तो यह फाइल शेयर करने का एक शानदार तरीका है। साथ ही यूज़र्स इस क्लाउड सर्विस में अपनी फाइल्स का बैकअप भी रख सकते हैं जो कि कहीं भी और कभी गूगल ड्राइव के माध्यम से एक्सेस की जा सकती हैं। Read More : फाइल्स शेयर करने की बेस्ट वेबसाइट्स about फाइल्स शेयर करने की बेस्ट वेबसाइट्स

भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजी आकाशगंगा 'सरस्वती

भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजी आकाशगंगा 'सरस्वती

अंतरिक्ष विज्ञानियों की एक टीम ने सुपरक्लस्टर सरस्वती नाम से आकाशगंगाओं के एक समूह की खोज की है. यह नजदीकी यूनिवर्स में मौजूद सबसे बड़े स्ट्रक्चर में से एक है. पुणे स्थित इंटर यूनिवर्सिटी सेंटर फॉर एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिजिक्स, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च और दो अन्य भारतीय यूनिवर्सिटी के सदस्यों ने विशालकाय आकाशगंगा के मौजूद होने की बात कही है. यह खोज अमरीकन एस्टोनॉमिकल सोसायटी के प्रीमियर रिसर्च जर्नल, 'द एस्ट्रोफिज़िकल जर्नल' के ताजा अंक में प्रकाशित की जाएगी.

यह आकाशगंगा धरती से 400 करोड़ प्रकाश वर्ष दूर है और क़रीब 10 अरब वर्ष से ज़्यादा पुरानी है. Read More : भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजी आकाशगंगा 'सरस्वती about भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजी आकाशगंगा 'सरस्वती

बिजली के बिना कैसे चलता है ये सदीओं पुराना पंखा ?

इस पंखे में पिस्टन लगे हैं जो गरम होने पर ऊपर नीचे चलने लगते हैं आधा लीटर तेल में ये पंखा सारी रात चलता है. Read More : बिजली के बिना कैसे चलता है ये सदीओं पुराना पंखा ? about बिजली के बिना कैसे चलता है ये सदीओं पुराना पंखा ?

लो बन गई बिना पैट्रॉल के चलने वाली मोदी बाइक

बिना पेट्रोल के चलेगी यह बाइक जानिए इसकी कीमत   सौर ऊर्जा से चलने वाली दुनिया की पहली मोटरसाइकिल सोमवार यहां पेश की गई। इसकी कीमत महज 26 रूपए है। इसको बनाने में बिजली तकनीशियन अयूब खान पठान और उसके सहकर्मियों को तीन महीनों का समय लगा है। इसे पेश करते हुए पठान ने बतायाकि आखिर उनकी मेहनत सफल रही और यह स़डक पर उतर आई। उन्होंने बताया कि इसकी कीमत अभी 26 हजार रूपए है और ब़डे पैमाने पर उत्पादन किए जाने पर इसकी कीमत 16 रूपए तक आ सकती है। इसके कलपुर्जो को इस तरह से बनाया गया है कि वह सौर ऊर्जा से चलने में सक्षम हैं। यह मोटरसाइकिल बिना आवाज के चलने के साथ ही प्रदूषण मुक्त है। पठान ने कहा कि पेट्रोल Read More : लो बन गई बिना पैट्रॉल के चलने वाली मोदी बाइक about लो बन गई बिना पैट्रॉल के चलने वाली मोदी बाइक

Pages