कौशल भारत कुशल भारतप्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

कौशल भारत कुशल भारत

मिडिया

फिज़िका माइंड पोर्टल में आपका हार्दिक स्वागत है ,फिज़िका माइंड आपका अपना वेब पोर्टल है इस वेबसाइट में आप हमें समाज से जुडी न्यूज़, कृषि से जुडी न्यूज़ , शिक्षा,समाज न्यूज़ पेपर कटिंग , न्यूज़ के विडियो क्लिप भेज सकते है समाज से जुडी सभी जानकारियो को एक ही जगह समाहित करने का प्रयास किया गया है।

Read more

घरबैठे कंप्यूटर सर्टिफिकेट कोर्स

फिजिका माइड भारत सरकार के लघुरूप सुक्षम मंत्रालय से पंजीकृत संस्था है | संस्था २००४ से सेवा में प्रयासरत है | फिज़िका माइंड के द्वारा अब आप घर बैठे कंप्यूटर के सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं जो कि आपको लेटेस्ट ज्ञान से भरपूर होगा और सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी को आप सीखेंगे|

Read more

व्यापार में सफलता के उपाय

आप की कामयाबी को ही हम अपनी कामयाबी मानते हैं आपके व्यापार को सफल बनाने के लिए फिज़िका माइंड आपके लिए वेबसाइट और Android ऐप बनाना चाहता है , और भी बहुत सारे मार्केटिंग के उपाय हमारे पास आप के लिए हैं | हमारी सफलता का कारवां बढ़ता ही जा रहा है जिसमें आपका भी स्वागत है

Read more

बच्चों में टाइफाइड बुखार होने के कारण

बच्चों में टाइफाइड बुखार होने के कारण
  1. बच्चो में टाइफाइड बुखार संक्रमित खाद्य पदार्थ और संक्रमित पानी से होता है। 
  2. बच्चों में टाइफाइड बुखार गन्दगी के कारण होता हैं। रोगी व्यक्ति के मल, यूरिन, और खून में यह कीटाणु रहते हैं, जिसके माध्यम से दूषित पानी के कारण यह बीमारी दूसरे लोगों में फैलता है।
  3. दूषित पानी से स्नान करने और खाने वाली चीज़े धो कर इस्तेमाल करने से भी यह बीमारी बच्चों में हो जाती है।
  4. टाइफाइड के कीटाणु पानी में कई हफ़्तों तक सक्रिय रहते हैं, जो बच्चो के अंदर इस बीमारी को फैलाते हैं।
  5. रोगी व्यक्ति के जूठे खाने और जूठे पानी पीने से भी बच्चे टाइफाइड बुखार से पीड़ित हो जाते हैं।
Read More : बच्चों में टाइफाइड बुखार होने के कारण about बच्चों में टाइफाइड बुखार होने के कारण >

व्यस्त लोगों के लिये ध्यान : संतुलन ध्यान

संतुलन ध्यान

लाओत्से के साधना-सूत्रों में एक गुप्त सूत्र आपको कहता हूं, जो उसकी किताबों में उलेखित नहीं है, लेकिन कानों-कान लाओत्से की परंपरा में चलता रहा है। वह सूत्र है लाओत्से की ध्यान की पद्धति का। वह सूत्र यह है।

  Read More : व्यस्त लोगों के लिये ध्यान : संतुलन ध्यान about व्यस्त लोगों के लिये ध्यान : संतुलन ध्यान

साप्ताहिक ध्यान : अनुभव करें, विचारें नहीं

विचारें नहीं

तुम बगीचे में बैठे हो और सड़क पर ट्रैफिक है, शोरगुल है और तरहत्तरह की आवाजें आ रही हैं। तुम अपनी आंखें बंद कर लो और वहां होने वाली सबसे सूक्ष्म आवाज को पकड़ने की कोशिश करो। कोई कौआ कांव-कांव कर रहा है; कौए की इस कांव-कांव पर अपने को एकाग्र करो। सड़क पर यातायात का भारी शोर है, इसमें कौए की आवाज इतनी धीमी है, इतनी सूक्ष्म है कि जब तक तुम अपने बोध को उस पर एकाग्र नहीं करोगे तुम्हें उसका पता भी नहीं चलेगा। लेकिन अगर तुम एकाग्रता से सुनोगे तो सड़क का सारा शोरगुल दूर हट जाएगा और कौए की आवाज केंद्र बन जाएगी। और तुम उसे सुनोगे, उसके सूक्ष्म भेदों को भी सुनोगे। वह बहुत सूक्ष्म है, लेकिन तुम उसे सुन पाओग Read More : साप्ताहिक ध्यान : अनुभव करें, विचारें नहीं about साप्ताहिक ध्यान : अनुभव करें, विचारें नहीं

क्या यंत्र समाधि प्राप्त करने में सहायक सिद्ध हो सकते हैं?

क्या यंत्र समाधि प्राप्त करने में सहायक सिद्ध हो सकते हैं?

 एक मित्र ने और पूछा है कि स्लेटर ने चूहे के मस्तिष्क में इलेक्ट्रोड्स डालकर उसके मस्तिष्क के विशेष तंतु कंपित करके संभोग का आनंद दिलाया। समाधि भी अस्तित्व से एक तरह का संभोग है। क्या यह संभव नहीं है कि मस्तिष्क के कोई तंतु समाधिस्थ अवस्था में कंपित होते हों? और इनकी वैज्ञानिक व्यवस्था की जा सके, तो फिर साधारण आदमी को भी उसके समाधि वाले तंतुओं को कंपित करके समाधि का अनुभव दिया जा सकता है। फिर साधना की, योग की कोई जरूरत न रहेगी। योग तो कहता है कि समाधि को उपलब्ध करने वाला सहस्रार चक्र तक मस्तिष्क में छिपा हुआ है!

 

यंत्र और समाधि

  Read More : क्या यंत्र समाधि प्राप्त करने में सहायक सिद्ध हो सकते हैं? about क्या यंत्र समाधि प्राप्त करने में सहायक सिद्ध हो सकते हैं?

शरीर की शक्ति का ध्यान में उपयोग

ध्यान में उपयोग

शरीर को इतना शिथिल छोड़ देना है कि ऐसा लगने लगे कि वह दूर ही पड़ा रह गया है, हमारा उससे कुछ लेना-देना नहीं है। शरीर से सारी ताकत को भीतर खींच लेना है। हमने शरीर में ताकत डाली हुई है। जितनी ताकत हम शरीर में डालते हैं, उतनी पड़ती है; जितनी हम खींच लेते हैं, उतनी खिंच जाती है।

  Read More : शरीर की शक्ति का ध्यान में उपयोग about शरीर की शक्ति का ध्यान में उपयोग

आध्यात्मिक पागलों का मिशन - हरिशंकर परसाई

लेखक: 
हरिशंकर परसाई

भारत के सामने अब एक बड़ा सवाल है - अमेरिका को अब क्या भेजे? कामशास्त्र वे पढ़ चुके, योगी भी देख चुके। संत देख चुके। साधु देख चुके। गाँजा और चरस वहाँ के लड़के पी चुके। भारतीय कोबरा देख लिया। गिर का सिंह देख लिया। जनपथ पर 'प्राचीन' मूर्तियाँ भी खरीद लीं। अध्यात्म का आयात भी अमेरिका काफी कर चुका और बदले में गेहूँ भी दे रहा है। हरे कृष्ण, हरे राम भी बहुत हो गया। Read More : आध्यात्मिक पागलों का मिशन - हरिशंकर परसाई about आध्यात्मिक पागलों का मिशन - हरिशंकर परसाई

अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए उत्तम प्रकार का टॉनिक

अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए उत्तम प्रकार का टॉनिक

अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए उत्तम प्रकार का टॉनिक जिसका अर्थ संकट मोचन,घोड़े जैसी ताकत देने वाला,
अश्वगंधा । जिसका अर्थ उसके नाम में ही छुपा है -जिसकी घोडे जैसी महक हो । इसमें एक खास महक तो होती है पर वह घोडे जैसी होती है कि हाथी जैसी यह आप ख़ुद सूँघ कर देख लीजियेगा पर मैं यह ज़रूर आपको बताना चाहूंगा कि इसको खाने से घोडे जैसी ताकत जरूर आ जाती है ।
Read More : अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए उत्तम प्रकार का टॉनिक about अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए उत्तम प्रकार का टॉनिक

योग करें,हृदय-रोग से मुक्त रहें

हृदय-रोग से मुक्त

आज की लाइफ स्टाइल में अपनी सेहत का खयाल रखने के लिए भी हम पर्याप्त समय नहीं निकाल पाते। व्यस्त दिनचर्या का असर धीरे-धीरे हमारे दिल पर भी पड़ने लगता है जिससे बाद में बड़ी समस्या खड़ी हो जाती है। अगर योग का थोड़ा सहयोग लें तो हम अपने दिल का खयाल रख सकते हैं।  Read More : योग करें,हृदय-रोग से मुक्त रहें about योग करें,हृदय-रोग से मुक्त रहें

Pages