कौशल भारत कुशल भारतप्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

कौशल भारत कुशल भारत

मिडिया

फिज़िका माइंड पोर्टल में आपका हार्दिक स्वागत है ,फिज़िका माइंड आपका अपना वेब पोर्टल है इस वेबसाइट में आप हमें समाज से जुडी न्यूज़, कृषि से जुडी न्यूज़ , शिक्षा,समाज न्यूज़ पेपर कटिंग , न्यूज़ के विडियो क्लिप भेज सकते है समाज से जुडी सभी जानकारियो को एक ही जगह समाहित करने का प्रयास किया गया है।

Read more

घरबैठे कंप्यूटर सर्टिफिकेट कोर्स

फिजिका माइड भारत सरकार के लघुरूप सुक्षम मंत्रालय से पंजीकृत संस्था है | संस्था २००४ से सेवा में प्रयासरत है | फिज़िका माइंड के द्वारा अब आप घर बैठे कंप्यूटर के सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं जो कि आपको लेटेस्ट ज्ञान से भरपूर होगा और सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी को आप सीखेंगे|

Read more

व्यापार में सफलता के उपाय

आप की कामयाबी को ही हम अपनी कामयाबी मानते हैं आपके व्यापार को सफल बनाने के लिए फिज़िका माइंड आपके लिए वेबसाइट और Android ऐप बनाना चाहता है , और भी बहुत सारे मार्केटिंग के उपाय हमारे पास आप के लिए हैं | हमारी सफलता का कारवां बढ़ता ही जा रहा है जिसमें आपका भी स्वागत है

Read more

कैंसर, बीमारी नहीं बिजनेस है, जानें चौंकाने वाला सच

कैंसर, बीमारी नहीं बिजनेस है, जानें चौंकाने वाला सच

भले ही आपको इस बात पर यकीन न हो रहा हो, लेकिन यह पूरी जानकारी पढ़ने के बाद आप भी यही कहेंगे कि कैंसर कोई बीमारी नहीं बल्कि चिकित्सा जगत में पैसा कमाने का साधन मात्र है।

प्रकृति के नियम​

प्रकृति के नियम​

खाना जो हम खाते हैं, 24 घण्टे के अंदर शरीर से बाहर निकल जाना चाहिए, वरना हम बीमार हो जायेंगे ।​
​पानी जो हम पीते हैं, 04 घण्टे के अंदर शरीर से बाहर निकल जाना चाहिए, वरना हम बीमार हो जायेंगे ।​
​हवा जो हम सांस लेते हैं, कुछ सेकंड में ही वापस बाहर निकल जानी चाहिए, वरना हम मर ही जायेंगे ।​
​लेकिन नकारात्मक बातें, जैसे कि घृणा, गुस्सा, ईर्षा, असुरक्षा .... आदि आदि, जिनको हम अपने अंदर दिन, महीने और सालों तक रखे रहते हैं ।​
​यदि इन नकारात्मक विचारों को समय-समय पर अपने अंदर से नहीं निकालेंगे तो एक दिन निश्चित ही हम मानसिक रोगी बन जायेंगे ।​ 
निर्णय आपका​

ऐसी बातों से बिगड़ता है हार्मोन संतुलन, जन्म लेते हैं बुरे लक्षण..

1. फास्ट लाइफ के असर
आजकल की जीवनशैली में मेरे हिसाब से एक व्यक्ति हर वह संभव काम कर सकता है जिसके लिए वह सक्षम है, लेकिन एक कार्य ऐसा भी है जो वह चाहकर भी पूरा नहीं पर पाता। वह है अपने स्वास्थ्य का ख्याल। लाइफ इतनी फास्ट हो गई है कि लोगों को इतना तो पता है कि कब क्या काम करना है, कौन सी तरकीब अपनाकर अधिक से अधिक धन कमाया जा सकता है, लेकिन अपनी सेहत का ध्यान कैसे रखना है, ये कोई नहीं जानना चाहता।

पंचकोश सिद्धांत

पंचकोश सिद्धांत

योग की धारणा के अनुसार मानव का अस्तित्व पाँच भागों में बंटा है जिन्हें पंचकोश कहते हैं। ये कोश एक साथ विद्यमान अस्तित्व के विभिन्न तल समान होते हैं। विभिन्न कोशों में चेतन, अवचेतन तथा अचेतन मन की अनुभूति होती है। प्रत्येक कोश का एक दूसरे से घनिष्ठ संबंध होता है। वे एक दूसरे को प्रभावित करती और होती हैं।हमारे शरीर में 5(पांच) कोष होते हैं जिसे विज्ञान ने भी मान लिया है :-
1-अन्नमय कोष(physical Body)
2-प्राणमय कोष(Etherik Body )
3-मनोमय कोष (Astral Body )
4-विज्ञानमय कोष(Cosmic Body)
5-आनन्दमय कोष(Casual Body)

ब्रेस्ट कम कैसे करे- एक्सर्साइज़ टिप्स

ब्रेस्ट कम कैसे करे- एक्सर्साइज़ टिप्स

ब्रेस्ट घटाने के लिए एक्सर्साइज़ से तेज तरीका या उपाय दूसरा कोई नही हो सकता| आपको जिम जा कर भारी भरकम वेट उठाने की ज़रूरत नही है बस आपको एक रेग्युलर एक्सर्साइज़ रुटीन बनाना है और उसका नियम से पालन करना है| कुछ ही दिनों में आपकी समसया दूर होगी और आपकी सेहत और वेट दोनों ही अच्छे जाएँगे| नीचे कुछ exercise  टिप्स हैं जिनसे आप अपने स्तन तेज़ी से घटा सकती हैं|

 

मोटापे से कमज़ोर होती है याददाश्त?

मोटापे से कमज़ोर होती है याददाश्त?

कहते हैं मोटापा सौ बीमारियों की एक बीमारी है. इससे ब्लड प्रेशर की शिकायत हो जाती है, आप चलने-फिरने से लाचार होने लगते हैं. शुगर बढ़ने लगती है.

मोटापा याददाश्त कमज़ोर करता है, शायद ये आपको नहीं पता. यही नहीं अल्ज़ाइमर जैसी बीमारी को भी जन्म देता है.

वैज्ञानिक रिसर्च साबित करती है कि मोटापे और याददाश्त में दो-तरफ़ा रिश्ता होता है. दोनों आपस में एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं.

बीवी और दो बच्चों को जुए में हार गया पति, अदालत के आदेश पर मामला दर्ज

बुलंदशहर में जुआरी मोहसिन का साथी इमरान जुए में जीतने के बाद जबरन उठा ले गया उसका एक बेटा

लखनऊ: बुलंदशहर में एक जुआरी पति अपनी बीवी और दो बच्चों को जुए में हार गया. जीतने वाला उसके बीवी-बच्चों को जब लेने आया तो बीवी ने ज़बरदस्त विरोध किया. इस पर वह उसके एक बच्चे को ज़बरन उठाकर ले गया. बीवी ने अदालत में पहुंचकर सारी कहानी बताई. अदालत के हुक्म से मामले की एफआईआर हुई. मामले की जांच शुरू हो गई है.

शीर्षासन से हो लाभान्वित

शीर्षासन से हो लाभान्वित

सिर के बल किए जाने की वजह से इसे शीर्षासन कहते हैं। शीर्षासन एक ऐसा आसन है जिसके अभ्यास से हम सदैव कई बड़ी-बड़ी बीमारियों से दूर रहते हैं। हालांकि यह आसन काफी मुश्किल है। यह हर व्यक्ति के लिए सहज नहीं है। शीर्षासन से हमारा पाचनतंत्र अच्छा रहता है, रक्त संचार सुचारू रहता है। शरीर को बल प्राप्त होता है। शीर्षासन करने के लिए के सबसे पहले समतल स्थान पर कंबल आदि बिछाकर वज्रासन की अवस्था में बैठ जाएं। अब आगे की ओर झुककर दोनों हाथों की कोहनियों को जमीन पर टिका दें। दोनों हाथों की उंगलियों को आपस में जोड़ लें। अब सिर को दोनों हथेलियों के मध्य धीरे-धीरे रखें। सांस सामान्य रखें। सिर को जमीन पर टिकाने

Pages

आप भी अपने लेख फिज़िका माइंड वेबसाइट पर प्रकाशित कर सकते है|

आप अपने लेख WhatsApp No 7454046894 पर भेज सकते है जो की पूरी तरह से निःशुल्क है | आप 1000 रु (वार्षिक )शुल्क जमा करके भी वेबसाइट के साधारण सदस्य बन सकते है और अपने लेख खुद ही प्रकाशित कर सकते है | शुल्क जमा करने के लिए भी WhatsApp No पर संपर्क करे. या हमें फ़ोन काल करें 7454046894