कौशल भारत कुशल भारतप्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

कौशल भारत कुशल भारत

मिडिया

फिज़िका माइंड पोर्टल में आपका हार्दिक स्वागत है ,फिज़िका माइंड आपका अपना वेब पोर्टल है इस वेबसाइट में आप हमें समाज से जुडी न्यूज़, कृषि से जुडी न्यूज़ , शिक्षा,समाज न्यूज़ पेपर कटिंग , न्यूज़ के विडियो क्लिप भेज सकते है समाज से जुडी सभी जानकारियो को एक ही जगह समाहित करने का प्रयास किया गया है।

Read more

घरबैठे कंप्यूटर सर्टिफिकेट कोर्स

फिजिका माइड भारत सरकार के लघुरूप सुक्षम मंत्रालय से पंजीकृत संस्था है | संस्था २००४ से सेवा में प्रयासरत है | फिज़िका माइंड के द्वारा अब आप घर बैठे कंप्यूटर के सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं जो कि आपको लेटेस्ट ज्ञान से भरपूर होगा और सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी को आप सीखेंगे|

Read more

व्यापार में सफलता के उपाय

आप की कामयाबी को ही हम अपनी कामयाबी मानते हैं आपके व्यापार को सफल बनाने के लिए फिज़िका माइंड आपके लिए वेबसाइट और Android ऐप बनाना चाहता है , और भी बहुत सारे मार्केटिंग के उपाय हमारे पास आप के लिए हैं | हमारी सफलता का कारवां बढ़ता ही जा रहा है जिसमें आपका भी स्वागत है

Read more

1 अप्रैल से दिन में भी जलेगी आपके बाइक की हेडलाइट

अक्सर लोग रात में हेडलाइट जलाकर छोड़ देते हैं और दिनभर उनकी गाड़ी का हेडलाइट जलता रहता है, जब तक की कोई इशारा करके बता नहीं देता, लेकिन अब इसकी परवाह करने की भी कोई जरूरत नहीं रहेगी। अब ऐसी बाइक आ रही है जिसमें आपको अपनी हेडलाइट को ऑन-ऑफ करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हेडलाइट ऑन ऑफ स्विच की जगह अब सभी दोपहिया वाहनों को ऑटोमेटिक हेडलाइट ऑन सिस्टम(AHO) से लैस कर दिया जाएगा।

आप चाहकर भी हेडलाइट को बंद नहीं कर पाएंगे।

 

केन्द्र ने दिए आदेश, 1 अप्रैल से होंगे लागू

 

ख़तरनाक है सेक्स एडिक्शन

 ख़तरनाक है सेक्स एडिक्शन

एडिक्शन यानी किसी चीज़ की लत लग जाना. बात करें अगर सेक्स एडिक्शन की तो यह एक ऐसी समस्या है, जो शारीरिक रूप से तो नहीं, लेकिन मानसिक और सामाजिक रूप से इससे पीड़ित व्यक्ति को बहुत नुक़सान पहुंचा सकती है. इससे पीड़ित व्यक्ति की कामेच्छा इतनी बढ़ जाती है कि नियंत्रण से बाहर हो जाती है. कई बार मरीज़ को इस बात का पता तक नहीं होता कि वो सेक्स एडिक्ट हो गया हैं और उन्हें ट्रीटमेंट की ज़रूरत है. सेक्स एडिक्शन को पहचानकर इसका सही इलाज कैसे कराएं? इसके बारे में बता रहे हैं साइकियाट्रिस्ट, साइकोसेक्सुअल कंसंल्टेंट एंड काउंसलर डॉ. पवन सोनार.

ख़ूबसूरती के फायदे ही नहीं नुकसान भी होते है!

ख़ूबसूरती के फायदे ही नहीं नुकसान भी होते है!

खूबसूरत चेहरे की बदौलत आप जीवन में काफी आगे बढ़ सकते हैं, लेकिन मनोचिकित्सकों की राय में सुंदर होने के कुछ नुकसान भी हैं.

क्या आप बहुत ख़ूबसूरत हैं? हम सब ऐसा होने का सपना देखते हैं, क्योंकि हमारी नज़रों में ये कोई समस्या नहीं है.

मनोविज्ञान में ख़ूबसूरती के फ़ायदे और नुकसान को लेकर काफी दिलचस्पी देखी गई है. इस दिलचस्पी का केंद्र एक ही सवाल है क्या ख़ूबसूरती के चलते हमेशा फ़ायदा होता है या कभी नुकसान भी उठाना पड़ता है.

बड़ी उम्र की महिला से डेटिंग के टिप्‍स

आधुनिकता में दौर में डेटिंग करना कोई नई बात नहीं है, लेकिन डेट के साथ-साथ डेट को खूबसूरत और एंडवेंचरस बनाना अलग बात है। डेटिंग का मतलब है दो दिलों का मेल होना, लेकिन कई बार इसका उल्टा भी हो जाता है। ऐसे में आपको अपनी डेट को पर्फेक्ट बनाने के लिए सावधानी बरतना बहुत जरूरी है। आजकल युवा डेटिंग को अलग बनाने के लिए क्या कुछ फंडे नहीं अपनाते। कुछ युवा तो रोमांटिक डेट आइडियाज शेयर करने से भी नहीं झिझकते। आपको चाहिए कि आपकी डेट खूबसूरत, रोमाटिंक होने के साथ-साथ कुछ एडवेंचरस हो। तो देर किस बात की। आइए जानें डेटिंग के नौ अलग तरीके जिनसे आप अपनी डेट को सस्ती और रोमानी बना सकते हैं।

अंतरीक्ष में दिखा ऐसा रहस्य की PM मोदी भी पहुंचे देखने

अंतरीक्ष में दिखा ऐसा रहस्य की PM मोदी भी पहुंचे देखने

अंतरीक्ष में दिखा ऐसा रहस्य की PM मोदी भी पहुंचे देखने महान वैज्ञानिकों ने भी जोड़ लिए हाथ, पूरी दुनिया में फैली सनसनी…देखे !

बोजपुर और मध्य प्रदेश की राजधानी बोपाल के छिपे हुए प्राचीन रहस्य अब सामने आ रहे हैं। वैज्ञानिकोंकी मानें तो यहां हजारों साल पुरानी एक ओमवैली है, जिसे देखकर वैज्ञानिक खुद भी हैरान हैं।

मध्य प्रदेश का एक ऐतिहासिक मंदिर है भोजपुर। इस मंदिर के बारे में अधिकांश लोग जानते हैं लेकिनक्या आप ये जानते हैं कि ये मंदिर वैज्ञानिक महत्व के लिए भी जाना जाता है।

 

क्‍या जीवनसीमा का पूण विकास हो चुका है

क्‍या जीवनसीमा का पूण विकास हो चुका है

चुनौतियां सिद्धांतों का कहना है कि मानव जीवन काल एक सीमा तक पहुंच रहा है, शोधकर्ताओं ने पाया है कि अभी कोई भी प्रमाण नहीं मिला है कि मानव जीवन की सीमा बढ़ना बंद हो गई है। इस बारे में कुछ भी निश्चित नहीं कहा जा सकता है।

पिछले अध्ययनों में शोधकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला है कि मानव उम्र की उच्‍चतम सीमा करीब 115 वर्ष है।

हालांकि, नेचर जर्नल में प्रकाशित हुए नए अध्‍ययन में, एक निष्‍कर्ष निकला था कि ऐसी कोई लिमिट निर्धारित नहीं किया गया है।

पढ़ाई का सही वक्त

पढ़ाई का सही वक्त

पढ़ाई के लिए रूटीन जब भी बनाए तो सुबह का समय को ज़्यादा महत्व दे. सुबह का वक्त सबसे अच्छा है पढ़ने के लिए। इस समय माइंड पूरा फ्रेश रहता हैं और ग्रॅसपिंग पावर ज़्यादा होती हैं। दिन का 5 घंटा और सुबह का 1 घंटा बराबर हैं।

Pages