कौशल भारत कुशल भारतप्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

कौशल भारत कुशल भारत

मिडिया

फिज़िका माइंड पोर्टल में आपका हार्दिक स्वागत है ,फिज़िका माइंड आपका अपना वेब पोर्टल है इस वेबसाइट में आप हमें समाज से जुडी न्यूज़, कृषि से जुडी न्यूज़ , शिक्षा,समाज न्यूज़ पेपर कटिंग , न्यूज़ के विडियो क्लिप भेज सकते है समाज से जुडी सभी जानकारियो को एक ही जगह समाहित करने का प्रयास किया गया है।

Read more

घरबैठे कंप्यूटर सर्टिफिकेट कोर्स

फिजिका माइड भारत सरकार के लघुरूप सुक्षम मंत्रालय से पंजीकृत संस्था है | संस्था २००४ से सेवा में प्रयासरत है | फिज़िका माइंड के द्वारा अब आप घर बैठे कंप्यूटर के सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं जो कि आपको लेटेस्ट ज्ञान से भरपूर होगा और सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी को आप सीखेंगे|

Read more

व्यापार में सफलता के उपाय

आप की कामयाबी को ही हम अपनी कामयाबी मानते हैं आपके व्यापार को सफल बनाने के लिए फिज़िका माइंड आपके लिए वेबसाइट और Android ऐप बनाना चाहता है , और भी बहुत सारे मार्केटिंग के उपाय हमारे पास आप के लिए हैं | हमारी सफलता का कारवां बढ़ता ही जा रहा है जिसमें आपका भी स्वागत है

Read more

सेहत के लिए कितनी खतरनाक है ब्रेड

सेहत के लिए कितनी खतरनाक है ब्रेड

नई दिल्लीः ब्रेड हम लोगों की जिंदगी का एक अहम हिस्सा माना जाता है लगभग सभी घरों में लोग ब्रेड का सेवन करते हैं। कई घरों में तो ब्रेड के बिना नाश्ता ही नहीं होता, लेकिन क्या आप जानते हैं ये ब्रेड भी आपकी सेहत के लिए कितना नुकसानदेह हो सकती है, आइये देखिए ब्रेड खाने के क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं। Read More : सेहत के लिए कितनी खतरनाक है ब्रेड about सेहत के लिए कितनी खतरनाक है ब्रेड

घर जो खुद करेगा ढेरों काम

घर जो खुद करेगा ढेरों काम

सोचिए, आपका घर खुद ब खुद साफ हो जाए। कपड़े धुल जाएं और सूख जाएं। घर का सारा सामान खुद ब खुद व्‍यवस्थित हो जाए। क्‍या ऐसा हो सकता है। हो सकता है कि आपके मन में यह सवाल उठ रहा हो कि यह सब काम कौन करेगा।

यदि इन सब कामों को घर खुद ही कर ले तो। जी हां, तकनीकी उन्‍नतिकरण के जिस युग में हम जी रहे हैं उसमें अगले कुछ वर्षों में यह संभव होने वाला है। 15 वर्ष बाद आपका घर स्‍मार्ट हाउस बन सकेगा और ऊपर बताए हुए सारे काम खुद ही कर लेगा।

साल 2030 इन सब कामों को करने के लिए आपके पास सोशल मीडिया शॉवर कर्टन, स्‍मार्ट स्‍केल, मैजिक मिरर और हर कमरे के लिए एक स्‍मार्ट गैजेट होगा। Read More : घर जो खुद करेगा ढेरों काम about घर जो खुद करेगा ढेरों काम

दक्षिण अफ़्रीका: मानव जैसी प्रजाति की खोज

दक्षिण अफ़्रीका: मानव जैसी प्रजाति की खोज

दक्षिण अफ़्रीका में वैज्ञानिकों ने गुफ़ाओं में बनी क़ब्रों में मानव जैसी नई प्रजाति खोजी है.

वैज्ञानिकों ने 15 आंशिक कंकाल पाए गए हैं जिसे अफ़्रीका में इस तरह की अब तक की सबसे बड़ी खोज बताया जा रहा है.

शोधकर्ताओं का दावा है कि ये खोज हमारे पूर्वजों के बारे में अब तक की हमारी सोच को ही बदल देगी. Read More : दक्षिण अफ़्रीका: मानव जैसी प्रजाति की खोज about दक्षिण अफ़्रीका: मानव जैसी प्रजाति की खोज

भूकंप और सुनामी की चेतावनी देने वाला नया उपकरण

भूकंप और सुनामी की चेतावनी देने वाला नया उपकरण

वैज्ञानिकों ने भूकंप या सुनामी के खतरे की पहले से चेतावनी देने वाला एक उपकरण तैयार किया है जिसका नाम "द ब्रिंको" रखा गया है। इसकी सुविधा मोबाइल एप के रूप में भी उपलब्ध है।

खास बात यह है कि द ब्रिंको अंतरराष्ट्रीय सीस्मिक नेटवर्क से जुड़ा होता है और क्षेत्र में भूकंप या सुनामी का खतरा होने पर यह बोलकर, फ्लैश लाइट और अलार्म के जरिये चेतावनी देता है।

धातु निर्मित सिलेंडरनुमा इस उपकरण में प्राकृतिक आपदाओं को मापने वाला मॉनीटरिग सिस्टम लगा होता है। भूकंप की चेतावनी यह पांच-दस या तीस मिनट पहले देता है, लेकिन सुनामी के बारे में घंटों पहले चेतावनी देता है। Read More : भूकंप और सुनामी की चेतावनी देने वाला नया उपकरण about भूकंप और सुनामी की चेतावनी देने वाला नया उपकरण

व्हाट्सऐप बना सिर दर्द मोबाइल कंपनियों के लिए

 व्हाट्सऐप बना सिर दर्द मोबाइल कंपनियों के लिए

हर महीने व्हाट्सऐप को 100 करोड़ से भी ज़्यादा लोग इस्तेमाल करते हैं.
दुनिया का ये सबसे पसंदीदा मेसेजिंग सर्विस है और टेलीकॉम कंपनियों के लिए ख़ासा सिर दर्द बन गया है.
सभी उम्र के लोगों के बीच ये काफी पसंद किया जाता है और इसीलिए दुनिया भर में इसकी धूम है.
53 भाषाओँ और 109 देशों में काम करने वाले व्हाट्सऐप पर आजकल हर दिन औसतन 42 सौ करोड़ मैसेज भेजे जाते हैं. यह संख्या तेज़ी से बढ़ रही है.
Read More : व्हाट्सऐप बना सिर दर्द मोबाइल कंपनियों के लिए about व्हाट्सऐप बना सिर दर्द मोबाइल कंपनियों के लिए

हिमालय में आ सकता है एम 8 तीव्रता का भूकंप

खतरे में हिमालय- आ सकता है एम 8 तीव्रता का भूकंप

हिमालय रेंज में जनवरी 2016 में एम 8 तीव्रता का भूकंप आने की संभावना है। रूस के वैज्ञानिक वी. कोस्वोकोव ने यह भविष्यवाणी की है। हालांकी इस भविष्यवाणी में भूकंप का केन्द्र के बारे में कोई खुलासा नहीं किया है। रूसी वैज्ञानिक की इस चेतावनी के बाद राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण हिमालय के साथ लगे राज्यों हिमाचल, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा व जम्मू कश्मीर की सरकारों को कई माह पहले ही पत्र लिखकर आगाह कर चुका है। Read More : हिमालय में आ सकता है एम 8 तीव्रता का भूकंप about हिमालय में आ सकता है एम 8 तीव्रता का भूकंप

कैसा है बिना बैटरी वाला कैमरा जाने यहां

कैसा है बिना बैटरी वाला कैमरा जाने यहां

डिजनी रिसर्च एवं यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन के वैज्ञानिकों ने बताया है कि ऊर्जा-संरक्षित कैमरों से युक्त संवेदी नोडों का एक नेटवर्क, अपने विषय से प्राप्त संकेतों को सूंघकर स्वतः ही हर कैमरे के पोज अर्थात् उसका रुख निश्चित कर सकता है। ऐसे नेटवर्क ‘इंटरनेट ऑफ थिंग्स' (आईओटी) का ही भाग हो सकते हैं, जिससे जानकारियों का आदान-प्रदान हो सकता है। 
Read More : कैसा है बिना बैटरी वाला कैमरा जाने यहां about कैसा है बिना बैटरी वाला कैमरा जाने यहां

प्लूटो से छिन गया ग्रह का दर्जा

प्लूटोप्लूटो से छिन गया ग्रह का दर्जा से छिन गया ग्रह का दर्जा

नासा ने जब मिशन 'न्यू होराइजन्स' रवाना किया था, उस समय प्लूटो को सोलर सिस्टम (सौरमंडल) के नौंवे ग्रह का दर्जा हासिल था। इस मिशन के लिए स्पेसक्राफ्ट के रवाना होने के कुछ महीने बाद ही नए पिंडों की खोज को मान्यता देने और उन्हें नाम देने वाली अंतरराष्ट्रीय एजेंसी इंटरनेशनल एस्ट्रोनॉमिकल यूनियन ने पहली बार ग्रहों की परिभाषा तय करने पर बहस छेड़ दी। इसके बाद प्लूटो से ग्रह का दर्जा छीन गया और इसकी पहचान क्वीपर बेल्ट के मलबे के ढेर में मौजूद एक बौने ग्रह की रह गई। अब इसे आधिकारिक तौर पर 'एस्ट्रॉएड नंबर 134340' से जाना जाता है। Read More : प्लूटो से छिन गया ग्रह का दर्जा about प्लूटो से छिन गया ग्रह का दर्जा

Pages