घर जो खुद करेगा ढेरों काम

घर जो खुद करेगा ढेरों काम

सोचिए, आपका घर खुद ब खुद साफ हो जाए। कपड़े धुल जाएं और सूख जाएं। घर का सारा सामान खुद ब खुद व्‍यवस्थित हो जाए। क्‍या ऐसा हो सकता है। हो सकता है कि आपके मन में यह सवाल उठ रहा हो कि यह सब काम कौन करेगा।

यदि इन सब कामों को घर खुद ही कर ले तो। जी हां, तकनीकी उन्‍नतिकरण के जिस युग में हम जी रहे हैं उसमें अगले कुछ वर्षों में यह संभव होने वाला है। 15 वर्ष बाद आपका घर स्‍मार्ट हाउस बन सकेगा और ऊपर बताए हुए सारे काम खुद ही कर लेगा।

साल 2030 इन सब कामों को करने के लिए आपके पास सोशल मीडिया शॉवर कर्टन, स्‍मार्ट स्‍केल, मैजिक मिरर और हर कमरे के लिए एक स्‍मार्ट गैजेट होगा।

दक्षिण अफ़्रीका: मानव जैसी प्रजाति की खोज

दक्षिण अफ़्रीका: मानव जैसी प्रजाति की खोज

दक्षिण अफ़्रीका में वैज्ञानिकों ने गुफ़ाओं में बनी क़ब्रों में मानव जैसी नई प्रजाति खोजी है.

वैज्ञानिकों ने 15 आंशिक कंकाल पाए गए हैं जिसे अफ़्रीका में इस तरह की अब तक की सबसे बड़ी खोज बताया जा रहा है.

शोधकर्ताओं का दावा है कि ये खोज हमारे पूर्वजों के बारे में अब तक की हमारी सोच को ही बदल देगी.

भूकंप और सुनामी की चेतावनी देने वाला नया उपकरण

भूकंप और सुनामी की चेतावनी देने वाला नया उपकरण

वैज्ञानिकों ने भूकंप या सुनामी के खतरे की पहले से चेतावनी देने वाला एक उपकरण तैयार किया है जिसका नाम "द ब्रिंको" रखा गया है। इसकी सुविधा मोबाइल एप के रूप में भी उपलब्ध है।

खास बात यह है कि द ब्रिंको अंतरराष्ट्रीय सीस्मिक नेटवर्क से जुड़ा होता है और क्षेत्र में भूकंप या सुनामी का खतरा होने पर यह बोलकर, फ्लैश लाइट और अलार्म के जरिये चेतावनी देता है।

धातु निर्मित सिलेंडरनुमा इस उपकरण में प्राकृतिक आपदाओं को मापने वाला मॉनीटरिग सिस्टम लगा होता है। भूकंप की चेतावनी यह पांच-दस या तीस मिनट पहले देता है, लेकिन सुनामी के बारे में घंटों पहले चेतावनी देता है।

व्हाट्सऐप बना सिर दर्द मोबाइल कंपनियों के लिए

 व्हाट्सऐप बना सिर दर्द मोबाइल कंपनियों के लिए

हर महीने व्हाट्सऐप को 100 करोड़ से भी ज़्यादा लोग इस्तेमाल करते हैं.
दुनिया का ये सबसे पसंदीदा मेसेजिंग सर्विस है और टेलीकॉम कंपनियों के लिए ख़ासा सिर दर्द बन गया है.
सभी उम्र के लोगों के बीच ये काफी पसंद किया जाता है और इसीलिए दुनिया भर में इसकी धूम है.
53 भाषाओँ और 109 देशों में काम करने वाले व्हाट्सऐप पर आजकल हर दिन औसतन 42 सौ करोड़ मैसेज भेजे जाते हैं. यह संख्या तेज़ी से बढ़ रही है.

Pages