कौशल भारत कुशल भारतप्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

कौशल भारत कुशल भारत

मिडिया

फिज़िका माइंड पोर्टल में आपका हार्दिक स्वागत है ,फिज़िका माइंड आपका अपना वेब पोर्टल है इस वेबसाइट में आप हमें समाज से जुडी न्यूज़, कृषि से जुडी न्यूज़ , शिक्षा,समाज न्यूज़ पेपर कटिंग , न्यूज़ के विडियो क्लिप भेज सकते है समाज से जुडी सभी जानकारियो को एक ही जगह समाहित करने का प्रयास किया गया है।

Read more

घरबैठे कंप्यूटर सर्टिफिकेट कोर्स

फिजिका माइड भारत सरकार के लघुरूप सुक्षम मंत्रालय से पंजीकृत संस्था है | संस्था २००४ से सेवा में प्रयासरत है | फिज़िका माइंड के द्वारा अब आप घर बैठे कंप्यूटर के सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं जो कि आपको लेटेस्ट ज्ञान से भरपूर होगा और सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी को आप सीखेंगे|

Read more

व्यापार में सफलता के उपाय

आप की कामयाबी को ही हम अपनी कामयाबी मानते हैं आपके व्यापार को सफल बनाने के लिए फिज़िका माइंड आपके लिए वेबसाइट और Android ऐप बनाना चाहता है , और भी बहुत सारे मार्केटिंग के उपाय हमारे पास आप के लिए हैं | हमारी सफलता का कारवां बढ़ता ही जा रहा है जिसमें आपका भी स्वागत है

Read more

जब पृथ्वी पर अधिकतर प्रजातियां नष्ट हो गईं...

जब पृथ्वी पर अधिकतर प्रजातियां नष्ट हो गईं...

हम आप जो भी चीज़ देख रहे हैं, उसका अतीत बन जाना तय है. पृथ्वी पर जीवन का अस्तित्व भी इसमें शामिल है. एक दिन ये भी अतीत बन जाएगा. लेकिन कब?

आपको भले यकीन ना हो, लेकिन जीवाश्मों के अध्ययन के मुताबिक पृथ्वी पर जीवन के अस्तित्व को करीब 3.5 अरब साल हो चुके हैं. इतने समय में पृथ्वी ने कई तरह की आपदाएँ झेली हैं - जम जाना या अंतरिक्ष की चट्टानों का टकराना, प्राणियों में बड़े पैमाने पर ज़हर का फैलना, जला कर सब कुछ राख कर देने वाली रेडिएशन.... Read More : जब पृथ्वी पर अधिकतर प्रजातियां नष्ट हो गईं... about जब पृथ्वी पर अधिकतर प्रजातियां नष्ट हो गईं...

ग्लास डिस्क' पर अरबों साल तक स्टोर रहेंगे डेटा

ग्लास डिस्क

स्टोरेज डिवाइसेज के क्षेत्र में अब एक ऐसी तकनीक आ गई है, जिससे अरबों साल तक आपके डेटा स्टोर रहेंगे। यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ हैम्पटन के शोधकर्ताओं ने साधारण ग्लास जैसे दिखने वाले "इंटरनल स्टोरेज सिस्टम" का निर्माण किया है। इस पर लेजर तकनीक के जरिए 360 टीबी (टेराबाइट्स) तक का डेटा रिकॉर्ड किया जा सकता है।

ऑप्टोइलेक्ट्रॉनिक्स रिसर्च सेंटर के शोधकर्ताओं ने इस "सुपरमैन ग्लास क्रिस्टल" का निर्माण किया है। फिलहाल शोधकर्ता ऐसी कंपनियों की तलाश में हैं जो इसे मार्केट में उपलब्ध करवा सके। ऐसे स्टोर होगा डेटाग्लास डिस्क में तीन लेयर्स हैं जिनमें पांच माइक्रोमीटर्स की दूरी है। Read More : ग्लास डिस्क' पर अरबों साल तक स्टोर रहेंगे डेटा about ग्लास डिस्क' पर अरबों साल तक स्टोर रहेंगे डेटा

भारतीय परम्पराओं का पश्चिम में असर

राग ललित!

राग मधुवंती, राग परिचय भाग, कौन सा राग कब गाया जाता है, रागों के नाम, सप्तक किसे कहते है, राग के प्रकार, राग सूची,

अपने मित्रों को मैं यह कोई नई बात नहीं बता रहा कि मुझे भारतीय शास्त्रीय संगीत से लगाव है। संगीत की जानकारी में मैं बिल्कुल शून्य हूँ लेकिन हाँ उसे मन से महसूस करके उसका आनंद लेना मुझे आता है। बचपन से ही हिन्दी फ़िल्मों के शास्त्रीय संगीत पर आधारित गीतों ने अधिकांश लोगों की तरह मेरे मन को भी मगन किया है। आज शीला और मुन्नी के दौर में इन्हीं शास्त्रीय गीतों के आधार पर बॉलीवुड में संगीत का नाम जीवित है। Read More : राग ललित! about राग ललित!

कैसे करें आम की खेती

कैसे करें आम की खेती

परिचय

आम की खेती लगभग पूरे देश में की जाती हैI यह मनुष्य का बहुत ही प्रीय फल मन जाता है इसमे खटास लिए हुए मिठास पाई जाती हैI जो की अलग अलग प्रजातियों के मुताबिक फलो में कम ज्यादा मिठास पायी जाती हैI कच्चे आम से चटनी आचार अनेक प्रकार के पेय के रूप में प्रयोग किया जाता हैI इससे जैली जैम सीरप आदि बनाये जाते हैI यह विटामीन ए व् बी का अच्छा श्रोत हैI

जलवायु और भूमि Read More : कैसे करें आम की खेती about कैसे करें आम की खेती

झील जहाँ 'दुनिया ख़त्म हो' जाती है !

झील जहाँ 'दुनिया ख़त्म हो' जाती है !

'स्लोवेनिया में एक बात मशहूर है, बोहीन में हम दुनिया से एक या दो दिन पीछे हो जाते हैं."

पर्यटकों के लिए राजधानी ल्युब्लियाना से एक घंटे की दूरी पर बोहीन झील के पास हाइक एंड बाइक सर्विस चलाने वाली ग्रेगा सिल्क कहती हैं कि पहले तो वहाँ लोग बाक़ी दुनिया से ख़ासा पीछे रहते थे.

सचमुच ये झील ऐसी जगह है, जहां आप कहीं खो जाते हैं.

शताब्दियों से भेड़ और बकरियों चराने वालों का ये इलाका स्लोवेनिया के बाकी हिस्सों से कटा हुआ रहता है. Read More : झील जहाँ 'दुनिया ख़त्म हो' जाती है ! about झील जहाँ 'दुनिया ख़त्म हो' जाती है !

भारत में संगीत शिक्षण

भारत में संगीत शिक्षण

१८ वीं शताब्दी में घराने एक प्रकार से औपचारिक संगीत-शिक्षा के केन्द्र थे परन्तु ब्रिटिश शासनकाल का आविर्भाव होने पर घरानों की रूपरेखा कुछ शिथिल होने लगी क्योंकि पाश्चात्य संस्कृति के व्यवस्थापक कला की अपेक्षा वैज्ञानिक प्रगति को अधिक मान्यता देते थे और आध्यात्म की अपेक्षा इस संस्कृति में भौतिकवाद प्रबल था। Read More : भारत में संगीत शिक्षण about भारत में संगीत शिक्षण

जायफल की खेती कैसे करें

जायफल की खेती कैसे करें

जायफल (संस्कृत: जातीफल) एक सदाबहार वृक्ष है जो इण्डोनेशिया के मोलुकास द्वीप (Moluccas) का देशज है। इससे दो मसाले प्राप्त होते हैं - जायफल (nutmeg) तथा जावित्री (mace)। यह चीन, ताइवान, मलेशिया, ग्रेनाडा, केरल, श्रीलंका, और दक्षिणी अमेरिका में खूब पैदा होता है। मिरिस्टिका नामक वृक्ष से जायफल तथा जावित्री प्राप्त होती है। मिरिस्टका की अनेक जातियाँ हैं परंतु व्यापारिक जायफल अधिकांश मिरिस्टिका फ्रैग्रैंस से ही प्राप्त होता है। मिरिस्टिका प्रजाति की लगभग ८० जातियाँ हैं, जो भारत, आस्ट्रेलिया तथा प्रशंत महासागर के द्वीपों में उपलब्ध हैं। यह पृथग्लिंगी (डायोशियस, dioecious) वृक्ष है। इसके पुष्प छोटे Read More : जायफल की खेती कैसे करें about जायफल की खेती कैसे करें

Pages