संगीत द्वारा रोग-चिकित्सा

संगीत द्वारा रोग-चिकित्सा

संगीत के मोहन-सुर संगीत की मादकता जीव जगत पर जो प्रभाव पड़ता है, वह किसी से छिपा नहीं है। संगीत की स्वरलहरी पर मुग्ध होकर हिरन का व्याध के बाण से विद्ध होना, महाविषधर भुजंग का सपेरे के वशवर्ती होना हम बहुत दिनों से सुनते आ रहे हैं। किन्तु वर्तमान युग में संगीत के प्रभाव से मनुष्य की व्याधियों का उपचार करने का प्रयोग भी होने लगा है। एक दिन ऐसा भी आ सकता है, जबकि विज्ञान चिकित्सा अपने रोगियों के लिए मिक्सचर, पिल या पाउडर की व्यवस्था न करके दिन-रात में उसके लिए दो-तीन बार संगीत श्रवण का व्यवस्था पत्र देंगे।

300 घंटे स्टैंडबाय टाइम के साथ बिंगो फिटनेस बैंड लॉन्च, कीमत सिर्फ 1599

अपनी हेल्थ को लेकर सतर्क रहने वाले यूजर्स के लिए मार्केट में इस समय हर कीमत पर हेल्थ गैजेट मौजूद हैं। इन हेल्थ गैजेट में फिटनेस बैंड यूजर्स के बीच सबसे ज्यादा पॉपुलर हैं। इलेक्ट्रॉनिक एक्सेसरीज बनाने वाली कंपनी बिंगो टेक्नोलॉजी ने मंगलवार को नया फिटनेस बैंड 'बिंगो एफ 2' इंडियन यूजर्स के लिए पेश कर दिया है।

 

बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर 94 रुपए महंगा

बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर 94 रुपए महंगा

महंगाई की मार झेल रही देश की जनता की मुश्किल कम होती नहीं दिख रही है। तेल कंपनियां रसोई गैस की कीमतों को 94 रुपए तक बढ़ा दिया है। यह बढ़ोत्तरी सब्सिडी के बिना मिलने वाले सिलेंडर पर लागू होगी। वहीं सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमत में 4 रूपए 56 पैसे की बढ़ोत्तरी की गई है।

शयनकक्ष में बहुत रोशनी बढ़ा सकती है मोटापा

शयनकक्ष में बहुत रोशनी बढ़ा सकती है मोटापा

लंदन : क्या आपको आपकी बढ़ती वजन की कोई वजह नजर नहीं आ रही तो आपको इस बात का ध्यान रखने की जरूरत है कि आपके शयनकक्ष में तेज रोशनी तो नहीं रहती। एक नए अध्ययन से बात सामने आई है कि सोते वक्त कमरे में बहुत अधिक रोशनी महिलाओं में वजन बढ़ाने की वजह होती है।
लंदन स्थित इंस्टीट्युट आफ कैंसर रिसर्च के प्राध्यापक एंटनी स्वेर्डलॉ ने कहा, “हमें हमारे अध्ययन में रोशनी और मोटापे के बीच के संबंध बेहद पहेलीनुमा नजर आए।”
इस अध्ययन में 40 साल की 113,000 से अधिक महिलाओं को शामिल किया गया।

इस बैंक ने शुरु की बायोमेट्रिक सुविधा, बिना कार्ड एटीएम से निकाल सकेंगे पैसे

इस बैंक ने शुरु की बायोमेट्रिक सुविधा, बिना कार्ड एटीएम से निकाल सकेंगे पैसे

डेवलपमेंट क्रेडिट बैंक यानि डीसीबी बैंक ने कार्डलैस लेन-देन के लिए बायोमेट्रिक सर्विस की शुरुआत की है। इस सुविधा के बाद बैंक के ग्राहक बिना डेबिट कार्ड और पिन के भी एटीएम से पैसा निकाल सकते हैं। ऐसे में अब उन ग्राहकों के लिए सुविधा होगी जो हमेशा अपना डेबिट कार्ड अपने साथ रखना नहीं चाहते हैं। तो चलिए आपको इस सर्विस से जुड़े फायदों के बारे में बताते हैं।

यूजर को होंगे ये फायदे:

 

1. बैंक के यूजर्स बिना एटीएम या डेबिट कार्ड के भी निकाल पाएंगे अपने खाते से पैसा।

 

ये खबर पढ़ने के बाद एटीएम स्लिप नहीं डालेंगे कूड़ेदान में

ये खबर पढ़ने के बाद एटीएम स्लिप नहीं डालेंगे कूड़ेदान में

आजकल हर कोई एटीएम तो इस्तेमाल करता ही होगा और जाहिर है कि पैसा निकालने के बाद आप स्लिप भी निकालते होंगे। स्लिप को देखकर डस्टबिन में फेंक दिया जाता है ये सोच कर कि बाकी लोग भी तो स्लिप डस्टबिन में फेंक देते हैं तो हम भी फेंक दें। कई लोग ऐसा ही करते हैं लेकिन आपकी ये छोटी-सी गलती आपको काफी भारी पड़ सकती है। तो चलिए आपको इन्हीं से संबंधित कुछ बातें बता देते हैं।

1. अगर आपको लगता है कि आप रसीद को फाड़कर फेंक देंगे तो आपका एटीएम और पैसा सेफ रहेगा तो ये आपकी गलतफहमी है। आपको बता दें कि स्लिप के टुकड़ों को डिकोट कर हैकर्स आपके अकाउंट में दाखिल हो सकते हैं।

Pages