अब खुलेगा पेटीएम पेमेंट बैंक

अब खुलेगा पेटीएम पेमेंट बैंक

पेटीऍम एक भारतीय ई-कॉमर्स शॉपिंग वेबसाइट है जिसका उद्घाटन 2010 में किया गया, One97 Communications इसका मालिक है जो शुरू में मोबाइल और DTH रिचार्ज पर आकर्षित किया करती थी। कंपनी का मुख्यालय नॉएडा, भारत में है। यह धीरे-धीरे बिजली के बिल, गैस बिल साथ ही साथ विभिन्न पोर्टलों की रिचार्जिंग और बिल भुगतान प्रदान करती है। पेटीऍम ने 2014 में भारत के ई-कॉमर्स बाजार में प्रवेश किया, फ्लिप्कार्ट, अमेज़न और स्नेपडील के कारोबार की तरह सुविधाएँ और उत्पादों को उपलब्ध कराने लगी। 2015 में, इसने बस यात्रा टिकट बुकिंग को जोड़ा।

भारतीय रिज़र्व बैंक ने पेटीएम को पेमेंट बैंक खोलने की मजूरी दे दी है। पेटीएम के संस्थापक और सीईओ विजय शेखर ने इस बारे में जानकारी दी है। उनका कहना है कि कंपनी का यह पेमेंट बैंक पूरी तरह भारतीय बैंक के रूप में काम करेगा।

पेटीएम के इस पेमेंट बैंक की पहली ब्रांच नॉएडा में खोली जाएगी, कहा जा रहा है कि यह फरवरी माह में खुल सकता है। पेटीएम का कहना है कि कंपनी का मकसद हर भारतीय को बैंक की सुविधा देना है। साथ ही बैंकिंग क्षेत्र में टेक्नोलॉजी और इनोवेशन लाना है।

पेमेंट बैंक में शर्मा की हिस्सेदारी 51 पर्सेंट होगी, जबकि बाकी के शेयर मोबाइल वॉलेट फर्म पेटीएम की पेरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस के पास होंगे। वन97 में चीन की दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा ने निवेश किया हुआ है।

पेटीएम पेमेंट बैंक ग्राहकों को ब्याज उपलब्ध कराएगा। जैसे ग्राहक दूसरे बैंकों से क्रेडिट, डेबिट, चेक बुक या डिमांड ड्राफ्ट लेते हैं, ठीक वैसे ही पेटीएम पेमेंट बैंक भी ग्राहकों को ये सभी सुविधा देगा। यही नहीं, लोगों को लाइफ इंश्योरेंस, जनरल इंश्योरेंस समेत दूसरी सुविधाएं भी दी जाएंगी।