जियो की वो चाल, जो कंपनियों को कर देगी बेहाल!

जियो की वो चाल, जो कंपनियों को कर देगी बेहाल!

जियो सेवा के लॉन्च से पहले मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो ने अपने छोटे भाई की रिलायंस कम्युनिकेशन्स के साथ स्पेक्ट्रम शेयरिंग का करार कर लिया। शेयरिंग समझौता 7 सर्कल्स में 800 MHz बैंड के लिए किया गया। वोडाफ़ोन और एयरटेल देश की दो सबसे बड़ी मोबाइल फ़ोन कंपनियां हैं. Read More : जियो की वो चाल, जो कंपनियों को कर देगी बेहाल! about जियो की वो चाल, जो कंपनियों को कर देगी बेहाल!

महिला को इंप्रेस कैसे करें

महिला को इंप्रेस कैसे करें

किसी लड़की को इंप्रेस करना पुरुष के लिए काफी जटिल काम होता है। चूंकि महिला और पुरुष आम तौर पर एक दूसरे के विपरीत स्वभाव वाले होते हैं ऐसे में किसी महिला के दिल में क्या बात है उसे जानना पुरुष के लिए आसान नहीं होता। महिला को इंप्रेस करने के चक्कर में पुरुष कभी-कभी 'गलत' कदम उठा लेते हैं और अपनी मित्रता की संभावना समाप्त कर लेते हैं लेकिन लड़की को इंप्रेस करने के कुछ टिप्स हैं जिन्हें अपनाकर पुरुष अपने लक्ष्य में सफल हो सकते हैं।   
लड़कियों को इंप्रेस करने के कुछ टिप्स  Read More : महिला को इंप्रेस कैसे करें about महिला को इंप्रेस कैसे करें

व्रत के दौरान कितने अंतराल पर क्या खाएं

व्रत के दौरान कितने अंतराल पर क्या खाएं

व्रत के दौरान कितने अंतराल पर क्या खाएं, यह कहना बहुत मुश्किल है क्योंकि अलग-अलग लोगों को अलग-अलग मात्रा में खाने की जरूरत होती है। फिर हर किसी का बॉडी टाइप भी अलग होता है। एक तरह का व्रत अगर किसी के लिए अच्छा हो सकता है तो दूसरे के लिए खराब भी क्योंकि हर किसी के शरीर की जरूरतें अलग हो सकती हैं। अपने शरीर की जरूरत का ध्यान रखकर ही अपने लिए व्रत का चुनाव करें। यह भी ध्यान रखें कि आप कितनी देर तक भूखे रहने के बाद भी ठीक महसूस करते हैं, आपका पाचन सिस्टम कैसा है, एसिड का लेवल क्या है आदि। व्रत करते हुए अपने शरीर की प्रकृति का ध्यान जरूर रखें। फिर भी कुछ सामान्य बातों को हम यहां देख सकते हैं:  Read More : व्रत के दौरान कितने अंतराल पर क्या खाएं about व्रत के दौरान कितने अंतराल पर क्या खाएं

व्रत रखने के फायदे

आध्यात्मिक या संस्कृति वजहें होती हैं, लेकिन इसके साथ ही इससे जुड़ी एक और बात काफी अहम है और वह है सेहत। व्रत अगर ढंग से रखा जाए तो यह सेहत के लिहाज से काफी फायदेमंद साबित होता है, लेकिन अगर व्रत ठीक से ना रखा जाए तो यह सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। ऐसे में सही तरीके से व्रत रखना बहुत जरूरी है।  Read More : व्रत रखने के फायदे about व्रत रखने के फायदे

व्रत में खाई जाने वाली चीजें

व्रत में खाई जाने वाली चीजें

व्रत के दौरान कुछ चीजें खाने और कुछ चीजें नहीं खाने का प्रावधान है। हालांकि इसके पीछे कोई ठोस कारण नहीं है, बस इन्हें खाने या नहीं खाने की परंपरा है। जिन चीजों को व्रत के दौरान खाने की परंपरा है, उसे हम कई तरह से खा सकते हैं ताकि स्वाद और सेहत दोनों मिले।  Read More : व्रत में खाई जाने वाली चीजें about व्रत में खाई जाने वाली चीजें

व्रत के दौरान बरतें सावधानियां

व्रत के दौरान बरतें सावधानियां

अगर मुमकिन है तो व्रत रखने से पहले अपने फैमिली डॉक्टर से सलाह कर लें। डॉक्टर से मिलकर फिजिकल जांच करा सकते हैं कि आप इसके लिए पूरी तरह फिट हैं या नहीं। 
व्रत के दौरान चाय, कॉफी या कोल्ड ड्रिंक ज्यादा न पिएं। कैफ़ीन से हमारे नर्वस सिस्टम को एक बूस्ट मिलता है, यानी झटका-सा लगता है। जब पूरा खाना नहीं खाया होता तो यह झटका जोर से लगता है, जो हमारे नर्वस सिस्टम के लिए ठीक नहीं होता।  Read More : व्रत के दौरान बरतें सावधानियां about व्रत के दौरान बरतें सावधानियां

किस उम्र में न रखें व्रत

किस उम्र में न रखें व्रत

व्रत रखने की यों तो कोई खास उम्र नहीं होती, लेकिन 15 साल से कम उम्र के बच्चों और 60 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों को व्रत नहीं रखना चाहिए। छोटे बच्चों में मेटाबॉलिक रेट काफी ज्यादा होता है और बुजुर्गों में काफी कम। ऐसे में वक्त पर ढंग से खाना न खाने से इन लोगों में हाइपोग्लाइसिमिक अटैक हो सकता है। 
  Read More : किस उम्र में न रखें व्रत about किस उम्र में न रखें व्रत

व्रत से शरीर के डाइजेशन सिस्टम को आराम मिलता है

व्रत से शरीर के डाइजेशन सिस्टम को आराम मिलता है

व्रत से शरीर के डाइजेशन सिस्टम को आराम मिलता है और मेटाबॉलिक रेट बढ़ जाता है। हालांकि इस दौरान कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है, वरना इसका उल्टा प्रभाव भी पड़ सकता है  व्रत के दौरान शरीर में पानी की कमी नहीं होनी चाहि इसलिएत 6-8 गिलास पानी जरूर पिएं। डाइट में ऐसे फल शामिल करें, जिसमें पानी की मात्रा अधिक हो। अंगूर, लीची, संतरा, मौसमी ऐसे ही फल हैं। पेट खाली रहने से एसिडिटी बढ़ सकती है। अपने खाने में हाई कार्बोहाइड्रेट डाइट जैसे आलू, साबूदाना आदि को शामिल करें। ड्राई फ्रूट्स लें, इससे जरूरी एनर्जी मिलेगी और कमजोरी नहीं महसूस होगी।
Read More : व्रत से शरीर के डाइजेशन सिस्टम को आराम मिलता है about व्रत से शरीर के डाइजेशन सिस्टम को आराम मिलता है

तरह-तरह के व्रत

निर्जला व्रत: इसमें दिन भर न कुछ खाना होता है, न पीना। सेहत की दृष्टि से इस तरह का व्रत किसी को नहीं रखना चाहिए। हां, अगर इस तरह का व्रत रखने के आप आदी हैं तो बात अलग है। दरअसल, इस तरह के व्रत से कार्डिएक अरेस्ट (दिल का फेल हो जाना) या हाइपोग्लाइसीमिक (शुगर लेवल बहुत गिर जाना) अटैक होने की आशंका रहती है। इसके अलावा इस तरह के व्रत रखने वालों में ज्यादा कार्बोहाइड्रेट या स्टार्च वाली चीजें खाने की तलब होती है क्योंकि ये हमारे शरीर को चलाने के लिए ईंधन का काम करते हैं। दिन भर भूखा-प्यासा रहने से शरीर शाम में ज्यादा रिच फूड की मांग करता है। अगर आप रिच फूड खाएंगे तो इससे डी-हाइड Read More : तरह-तरह के व्रत about तरह-तरह के व्रत

व्रत से हो सकते हैं नुकसान भी

अगर कोई चीज जरूरत से ज्यादा की जाए तो उससे नुकसान होना तय है। लंबे समय तक बिना कुछ खाए-पीए रहने से इम्यून सिस्टम को नुकसान हो सकता है। 
अगर व्रत के दौरान बहुत लंबे समय तक भूखे-प्यासे रहेंगे तो लिवर और किडनी को भी नुकसान हो सकता है। 
- डायबीटीज, किडनी, कैंसर और पेशाब की समस्या से पीड़ित मरीजों को व्रत रखने से ज्यादा दिक्कत हो सकती है। 
व्रत के दौरान बहुत कम खाना खाने से पेट में एसिड बनना कम हो सकता है। यही एसिड खाना पचाने और बुरे बैक्टीरिया को खत्म करने का काम करता है।  Read More : व्रत से हो सकते हैं नुकसान भी about व्रत से हो सकते हैं नुकसान भी

कौन न रखे व्रत

कौन न रखे व्रत

प्रेग्नेंट और दूध पिलाने वालीं मांएं व्रत न रखें। इन्हें थोड़े-थोड़े अंतराल के बाद एक तय मात्रा में कैलरी की जरूरत होती है, जिसके लिए पोषक खाना खाना जरूरी है। 
डायबीटीज के मरीज व्रत न रखें। व्रत रखने पर वे हाइपोग्लाइसीमिया का शिकार हो सकते हैं। अगर वक्त पर इस स्थिति से ना निपटा जाए तो मरीज की जान भी जा सकती है। 
ब्लड प्रेशर के मरीजों को भी व्रत रखने से परहेज करना चाहिए क्योंकि लंबे समय तक भूखे रहने से ब्लड प्रेशर में उतार-चढ़ाव हो सकता है और यह सेहत के लिए घातक होगा।  Read More : कौन न रखे व्रत about कौन न रखे व्रत

व्रत से जुड़ी गलतफहमियां

व्रत से जुड़ी गलतफहमियां

नवरात्र आते ही चारों ओर उत्सव का माहौल छा जाता है और इसके साथ ही शुरू हो जाता है नौ दिनों के व्रत का सिलसिला। आमतौर पर व्रत के पारंपरिक आहार में बहुत ज्यादा कैलोरी होती है। इससे व्रत के दौरान पाचन संबंधी समस्याएं परेशान करने लगती हैं और व्रत के बाद वजन भी बढ़ जाता है। दरअसल, पुराने समय में लोग ज्यादा शारीरिक श्रम करते थे इसलिए व्रत के दौरान कुट्टू की पकौडिय़ां, सिंघाड़े का हलवा, मखाने की खीर या रबड़ी जैसी चीजें आसानी से हजम हो जाती थीं, पर अब जीवनशैली बदल चुकी है। शहरों में लोग छोटे-छोटे फ्लैट्स में रहते हैं, घरेलू कामकाज को आसान बनाने के लिए वाशिंग मशीन, वैक्यूम क्लीनर और फूड प्रोसेसर जैसे Read More : व्रत से जुड़ी गलतफहमियां about व्रत से जुड़ी गलतफहमियां

क्या है नोमोफोबिया

नोमोफोबिया

असल में फोबिया शब्द जो है वो ग्रीक भाषा के एक शब्द हाइड्रोफीबिया से आया है जिसका मतलब होता है पानी से सम्पर्क में आने का मानसिक भय और फोबिया किसी भी तरह का हो सकता है जिसका मतलब है अगर हमे किसी चीज़ का फोबिया है तो हम उस चीज़ के लिए मानसिक तौर पर थोड़े असहज है इसे किसी भी स्थान वस्तु या गतिविधि से जोड़ा जा सकता है और हमारी तकनीक की सदी यानि के इक्कीसवी सदी हो है उसमे टेक्नोलोज़ी के बढ़ते इस्तेमाल ने मानवीय जीवन को सुगम बनाने के साथ साथ कई तरह की मानसिक समस्याएं हमे सौगात में दी है जिसमे से नोमोबिया भी एक है और मेल ऑनलाइन की रिपोर्ट के मुताबिक हम में से ६६ प्रतिश Read More : क्या है नोमोफोबिया about क्या है नोमोफोबिया

'लगता है पैरों में मधुमक्खियां काट रही हैं'

मेरी रोज कई सालों से ठीक से सोने की कोशिश कर रही हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि जैसे उन पर कीड़ों का हमला हो गया है.

अपने तकलीफदेह अनुभव को बताते हुए वह कहती हैं, ''यह कुछ ऐसा है जैसे मधुमक्खियों का झुंड आपके पैरों की त्वचा में घुस गया हो. यह बहुत-बहुत तकलीफदेह है.''

अपने 80वें साल में चल रहीं यह इतिहासकार रेस्टलेस लैग्स सिंड्रॉम (आरएलएस) से पीड़ित हैं जिसकी वजह से वह रात भर परेशान रहती हैं. Read More : 'लगता है पैरों में मधुमक्खियां काट रही हैं' about 'लगता है पैरों में मधुमक्खियां काट रही हैं'

चीन अपने ही लोगों की कैसे कर रहा है 'जासूसी'

चीन की किसी सड़क पर आप निकलिए, चंद क़दमों पर आपको पहला, दूसरा और तीसरा सीसीटीवी कैमरा आप पर नज़र गड़ाए मिलेगा.

कुछ ही मिनट लगेंगे और पुलिस को आपके बारे में करीब हर बात पता लग जाएगी. ये चीन है जो दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे जटिल वीडियो सर्विलेंस नेटवर्क बना रहा है. चीन ने फ़िलहाल 170 मिलियन यानी 17 करोड़ सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं जो देश के 1.3 अरब लोगों पर नज़र रखने का काम कर रहे हैं. Read More : चीन अपने ही लोगों की कैसे कर रहा है 'जासूसी' about चीन अपने ही लोगों की कैसे कर रहा है 'जासूसी'

Pages